7 C
New Delhi
Saturday, January 16, 2021

PM मोदी की मौजूदगी में बिहार के प्रत्याशियों की लिस्ट तैयार

– बीजेपी CEC की बैठक में पहले चरण के चुनाव के लिए सभी नाम फाइनल
–युवाओं और महिलाओं के नये चेहरे उतारने की तैयारी, कई सीटिंग होंगे आउट
–केंद्रीय चुनाव समिति की मैराथन बैठक में ज्यादातर नाम फाइनल
–JDUके साथ सीटों का बंटवरा होते ही नामों का होगा ऐलान
–रविवार को दिनभर चलती रही बीजेपी कोर कमेटी की बैठक

(अदिति सिंह)
नई दिल्ली/ टीम डिजिटल : भारतीय जनता पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति की मैराथन बैठक में बिहार में हो रहे विधानसभा चुनाव केे लिए ज्यादातर प्रत्याशियों के नामों पर सहमति बन गई है। पहले चरण के चुनावों के सभी उम्मीदवारों का चयन कर लिया गया है। इसके अलावा दूसरे एवं तीसरे चरण के मतदान के लिए भी कई सीटों पर चुनाव लडऩे वाले प्रत्याशियों के नामों पर भी सहमति बन गई है। नामों का ऐलान जेडीयू केे साथ सीटों का बंटवारा होने के बाद भाजपा करेगी। लिहाजा, संभव है कि एक-दो दिन के भीतर सीटों का बंटवारा हो जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में रविवार की रात हुई केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में गृहमंत्री अमित शाह, भाजपा अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, भाजपा के संगठन महासचिव बीएल संतोष, सैय्यद शहनवाज हुसैन सहित समिति के सभी पदाधिकारी मौजूद रहे। बैठक भाजपा के केंद्रीय कार्यालय में करीब 3 घंटे तक चली। सूत्रों के माने तो बिहार में भाजपा युवाओं और महिलाओं के कई नये चेहरे मैदान में उतारने की तैयारी में है। साथ ही कुछ विवादास्पद सीटिंग विधायकों का टिकट भी काटा जाएगा।

इसे भी पढें…अंतरराष्ट्रीय शूटर श्रेयसी सिंह हुई भाजपाई, थामा BJP का दामन

केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक से पहले भाजपा की कोर कमेटी की बैठक रविवार को दोपहर भाजपा अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा के आवास पर हुई। बैठक में गृहमंत्री अमित शाह, बिहार के प्रभारी भूपेंद्र यादव एवं चुनाव प्रभारी देवेंद्र फर्डविस, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सहित कोर कमेटी के सभी पदाधिकारी मौजूद रहे। इस मौके पर बिहार के ज्यादातर नेताओं के नामों पर अंतिम रूप दे दिया गया था। इसकी औपचारिकता के लिए देर शाम भाजपा मुख्यालय में हुई केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में नामों पर दोबारा विचार किया गया।
सूत्रों के मुताबिक बैठक के बाद एनडीए में सीटों का बंटवारा औपचारिक रूप से हो जाएगा, ताकि भाजपा अपने कोटे के उम्मीदवारों के नामों का ऐलान कर सके। पहले चरण के नामांकन की अंतिम तिथि आठ अक्टूबर है। सूत्रों के मुताबिक रामविलास पासवान की एलजेपी के अलग चुनाव लडऩे की घोषणा के बाद अब भाजपा और जेडीयू बराबर की सीटों पर चुनाव लड़ेंगे, ऐसा माना जा रहा है। चर्चा है कि एक-दो सीटें भाजपा जेडीयू और ज्यादा दे सकती है।

Related Articles

Stay Connected

21,370FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles