33.1 C
New Delhi
Tuesday, May 17, 2022

संजय पुरुषार्थी ने संभाली ग्लोबल ग्रीन्स की कमान, बने नए राष्ट्रीय अध्यक्ष

—यशी विदूषीश्री राष्ट्रीय सचिव और सीमा श्रीवास्तव बनी उपाध्यक्ष
—ग्लोबल ग्रीन्स की प्रमुख प्रबन्ध कार्यकारिणी की बैठक में लिया गया फैसला

प्रयागराज/ विनोद मिश्र : पर्यावरण पर काम करने वाली देश की मशहूर संस्था ग्लोबल ग्रीन्स की प्रमुख प्रबन्ध कार्यकारिणी के पदाधिकारियों व सदस्यों की एक आवश्यक बैठक गूगल मीट के माध्यम से आयोजित की गई। इस मौके पर संस्था के संस्थापक राष्ट्रीय सचिव संजय पुरुषार्थी को नया अध्यक्ष चुना गया है। इसके लिए वरिष्ठ सदस्य डाॅ एस पी वर्मा ने प्रस्ताव पेश किया जिसपर संस्था के पदा​धिकारियों ने सर्वसम्मति से अपना अपना समर्थन व्यक्त किया। इसी प्रकार ग्लोबल ग्रीन्स की आई टी सेल की प्रमुख और नई पीढ़ी की युवा शक्ति के रूप में यशी विदूषी श्री को सर्वसम्मति से राष्ट्रीय सचिव मनोनीत किया गया। इस मौके पर श्रीमती सीमा श्रीवास्तव को उपाध्यक्ष चुना गया। जबकि डाॅ एस पी वर्मा, श्रीमती रीना कुमारी, श्रीमती स्मृति सिंह, श्रीमती पूजा श्रीवास्तव को सदस्य चुना गया है। डाॅ स्वाति सक्सेना को समन्वयक, दिलीप यशवर्धन को विधि सलाहकार एवं आईएएस अनिल श्रीवास्तव को विशेष संस्थापक सदस्य एवं संरक्षक बनाया गया है।


बता दें कि ग्लोबल ग्रीन्स के संस्थापक अध्यक्ष मनोज श्रीवास्तव की 05 अप्रैल को ब्रेन हैमरेज के चलते लखनऊ के डिवाइन हास्पिटल में आकस्मिक व दुःखद मृत्यु हो गई थी। उनके निधन के कारण नए अध्यक्ष का मनोनयन अनिवार्य हो गया था। इस मौके पर गूगल मीट में अनीश कुमार देवीपाटन मंडल से, डाॅ चंदन कुमार लखनऊ से और संरक्षक अनिल श्रीवास्तव नई दिल्ली से पूरी कार्यवाही में अंत तक उपस्थित रहे। सभी के उद्बोधन के बाद अध्यक्ष संजय पुरुषार्थी ने अध्यक्षीय उद्बोधन देते हुए प्रबंध कार्यकारिणी समिति के सभी पदाधिकारियों और संरक्षक के प्रति अध्यक्ष के रूप में अपने को मनोनीत किए जाने का आभार प्रकट किया। धन्यवाद ज्ञापन डाॅ एस पी वर्मा ने किया।

पर्यावरण की बडी संस्था बन गई ग्लोबल ग्रीन्स

बता दें कि पर्यावरण, यमुना—गंगा नदी को स्वच्छ बनाने, स्वच्छ पानी सहित पेडों को बचाने के लिए यह संस्था पिछले कई वर्षों से प्रयागराज, लखनउ होते हुए देशभर में बहुत तेजी के साथ काम करने लगी थी। इसके लिए संस्था को कई बडे पुरस्कार भी मिले हैं। संस्था के संस्थापक अध्यक्ष मनोज श्रीवास्तव ने बहुत कम समय में एक ऐसी लकीर खींच दी, जो एक मिसाल बन गई हे। लिहाजा, अब नई टीम ने भी उसी तेजी के साथ आगे बढकर काम करने का संकल्प लिया है।

Related Articles

epaper

Latest Articles