spot_img
29.1 C
New Delhi
Thursday, June 17, 2021
spot_img

13,000 एथलीटों, प्रशिक्षकों और सहायक कर्मचारियों को मिलेगा चिकित्सा एवं दुर्घटना बीमा

— भारतीय खेल प्राधिकरण का ऐलान, कोविड-19 महामारी के मद्देनजर बडा फैसला

नई दिल्ली, टीम डिजिटल: भारतीय खेल प्राधिकरण 13,000 से अधिक एथलीटों, प्रशिक्षकों और सहायक कर्मचारियों को इस वर्ष से चिकित्सा और दुर्घटना बीमा कवर प्रदान करेगा। भारत में कोविड-19 (COVID-19) महामारी के मद्देनजर यह कदम सभी एथलीटों और सहायक कर्मचारियों की सुरक्षा और भलाई सुनिश्चित करने के लिए युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय के निर्णय के अनुरूप है। केंद्रीय युवा कार्यक्रम और खेल राज्य मंत्री किरेन रिजिजू ने कहा कि एथलीटों को उनकी क्षमता का एहसास कराने में सहायता कर रहे प्रशिक्षण और सहयोगी स्टाफ मंत्रालय के सबसे बड़े हितधारक हैं। उन्होंने कहा, “हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि हमारे सभी एथलीटों और अनुबंधित कर्मचारियों के पास इस कठिन समय के दौरान और उसके बाद भी स्वास्थ्य सुरक्षा हो।उन्होंने कहा, वे हमारी राष्ट्रीय संपत्ति हैं।

इंडिया एथलीटों और जूनियर प्रशिक्षु को, 5 लाख रुपये का बीमा

भारतीय खेल प्राधिकरण-साई के उत्कृष्टता केंद्र में प्रशिक्षण ले रहे सभी राष्ट्रीय प्रशिक्षु, संभावित राष्ट्रीय प्रशिक्षु, खेलो इंडिया एथलीटों और जूनियर प्रशिक्षु को, 5 लाख रुपये का बीमा कवर प्रदान किया जाएगा। इसके अलावा प्रत्येक खिलाड़ी, सहयोगी स्टाफ और प्रशिक्षक को 5 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा भी मिलेगा, जबकि 25 लाख रुपये का दुर्घटना या मृत्यु के लिए बीमा कवर शामिल है। रिजिजू ने कहा, “इस पहल के माध्यम से, हम यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि सभी राष्ट्रीय स्तर के एथलीटों के पास न केवल राष्ट्रीय शिविरों के दौरान बल्कि पूरे वर्ष के दौरान बीमा कवर उपलब्ध हो। हमने खेलो इंडिया छात्रवृत्ति लेने वाले खिलाड़ियों और जूनियर एथलीटों के लिए बीमा कवर को बढ़ाकर रु. 5 लाख प्रति एथलीट प्रति वर्ष कर दिया है।

राष्ट्रीय शिविरों से जुड़े सहायक कर्मचारियों को जरूरी सहायता मिलेगी

यह निर्णय राष्ट्रीय शिविर की तारीखों पर ध्यान दिए बिना लागू होगा, भले ही इस साल अब तक कुछ खेलों के ऐसे शिविर नहीं चल रहे हों। यह बीमा में निरंतरता सुनिश्चित करेगा और राष्ट्रीय स्तर के एथलीटों, प्रशिक्षकों और राष्ट्रीय शिविरों से जुड़े सहायक कर्मचारियों को आवश्यक सहायता प्रदान करेगा।

 राष्ट्रीय खेल महासंघ बीमा योजना में शामिल एथलीटों और सहायक कर्मचारियों की पहचान करेगा

भारतीय खेल प्राधिकरण ने राष्ट्रीय खेल महासंघों से बीमा योजना में शामिल करने के लिए एथलीटों और सहायक कर्मचारियों की पहचान करने का अनुरोध किया है। इस बीमा योजना के तहत शामिल किए गए लोगों के डेटा को एक पारदर्शी और आसान पहुंच प्रक्रिया बनाने के लिए राष्ट्रीय खेल कोष प्रणाली में संग्रहीत किया जाएगा, जिसकी नियमित रूप से निगरानी की जा सकती है।

अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों को मासिक पेंशन

प्रत्येक राष्ट्रीय खेल संघ के लिए प्रशिक्षण और प्रतियोगिता के वार्षिक कैलेंडर के माध्यम से, युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय राष्ट्रीय शिविरों, विदेशों में प्रदर्शन, राष्ट्रीय चैंपियनशिप और जूनियर कार्यक्रमों के आयोजन के लिए धन उपलब्ध कराता है। इसके अलावा, लक्ष्य ओलंपिक पोडियम योजना के तहत उत्कृष्ट एथलीटों को भी सहायता प्रदान की जाती है।इसके अलावा, युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय 596 पूर्व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों को मासिक पेंशन प्रदान कर सहायता उपलब्ध कराता है।

Related Articles

epaper

Latest Articles