spot_img
20.1 C
New Delhi
Friday, December 3, 2021
spot_img

BJP का आरोप, हिंदू धर्म एवं हिंदुत्व के खिलाफ नफरत फैला रही है कांग्रेस

spot_imgspot_img

–भाजपा ने लगातार तीसरे दिन कांग्रेस पार्टी पर जमकर हमला बोला
–कांग्रेस पार्टी को तुष्टिकरण की राजनीति का प्रतीक बताया
–राहुल गांधी गांधी, तिलक, मालवीय और डॉ. संपूर्णानंद को पढऩा चाहिए

Indradev shukla

नई दिल्ली/ नीता बुधौलिया : भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने हिंदू धर्म एवं हिंदुत्व के खिलाफ नफरत, घृणा और दंगे फैलाने के लिए लगातार तीसरे दिन कांग्रेस पार्टी पर जमकर हमला बोला। साथ ही कांग्रेस पार्टी को तुष्टिकरण की राजनीति का प्रतीक बताया।
भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि दीपावली का पावन पर्व समाप्त हो चुका है। पटाखों पर प्रतिबंध था लेकिन पिछले कुछ दिनों से जान-बूझ कर कांग्रेस पार्टी द्वारा विचित्र-विचित्र प्रकार के धमाके किये जा रहे हैं। कभी कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद अपनी किताब में बोको हरम और आईएसआईएस जैसे क्रूरतम आतंकी संगठनों से हिंदू धर्म और हिंदुत्व की तुलना कर देते हैं तो कभी कांग्रेस नेता राशिद अल्वी भगवान श्रीराम का नाम लेने वालों को निशाचर कह देते हैं। उन सबके ऊपर तथाकथित धर्म मर्मज्ञ राहुल गांधी हिंदू धर्म की व्याख्या करते हुए इस कदर घृणा की अभिव्यक्ति करते हैं कि मानो मनसा-वाचा-कर्मणा से उनके मन में हिंदुओं के प्रति असीम घृणा भरी हुई हो।

यह भी पढें...महिलाओं ने जीती जंग, थल सेना में महिला अधिकारियों को मिलेगा स्थायी कमीशन

Indradev shukla

भाजपा मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत करते हुए डॉ सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी की हिंदुओं के प्रति नफरत इतना तक ही सीमित नहीं है, बल्कि इससे भी आगे बढ़कर है। झूठी ख़बरें फैलाई जाती हैं कि त्रिपुरा में मस्जिद तोड़ी गई जबकि जांच में यह पाया जाता है कि यह खबर निराधार और कोरा झूठ है। इस झूठी खबर के आधार पर महाराष्ट्र में महाअघाडी सरकार में सांप्रदायिक हिंसा होती है। ऐसा लगता है हिंदू धर्म और हिंदुत्व के खिलाफ कांग्रेस पार्टी का प्रोपेगेंडा षडयंत्र पूर्वक चलाये जा रहे एक अभियान का हिस्सा है अन्यथा राहुल गांधी के बयान, किताब, सोशल मीडिया पर दुष्प्रचार और दंगे एक साथ ना होते।
भाजपा सांसद ने कांग्रेस पार्टी एवं उसके नेताओं से पूछा कि आप अपने कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण दे रहे हैं या फिर हिंदुत्व के प्रति अवमानना का प्रशिक्षण शिविर चला रहे हैं। भाजपा ने आरोप लगाया कि आप (कांग्रेस) सांप्रदायिक विद्वेष, हिंसा और वैमनस्य उत्पन्न करने का व्यापक व व्यवस्थित अभियान चला रहे हैं?

यह भी पढें..दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी के खजाने से 65 लाख रुपये गायब, 38 लाख मिले पुराने नोट !

त्रिवेदी ने कहा कि 2012 में भी कांग्रेस की सरकार में एक झूठी खबर के आधार पर मुंबई के आजाद मैदान में अमर जवान ज्योति को तोड़ दिया गया था। तब भी वहां उनकी सरकार थी और आज जब महाराष्ट्र में दंगे हो रहे हैं, तब भी वहां उनकी ही सरकार है।
उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने जिस महाराष्ट्र की धरती पर हिंदू धर्म का अपमान किया और हिंदुत्व को बदनाम किया, उसी धरती पर छत्रपति शिवाजी महाराज ने जिस साम्राज्य की नींव रखी उसे हिंदवी साम्राज्य और बाद में उसे हिंदू पद पादशाही कहा गया। अब कांग्रेस पार्टी बताये कि उनसे संरक्षण पाए लेखकों के हिसाब से तब मुगल महान थे या मुगलों के अहंकार को चूर-चूर करने वाले शिवाजी महान थे? भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि हिंदू धर्म वह है जिसने नक्षत्रों की संज्ञा से लेकर आकाश से आई गंगा तक और सागर पर सेतु से लेकर मुक्ति के हेतु तक, सब दिया।

यह भी पढें..हंड़िया दारू बनाने वाली महिलाओं को सम्मानजनक रोजगार देने की तैयारी

विश्व का एकमात्र धर्म है हिंदू धर्म जिसमें धर्मांतरण का कोई विधान नहीं है, जो दुनिया नहीं, मन को जीतना सिखाता है। बड़े-बड़े विद्वानों ने वेदों और उपनिषदों को ज्ञान का अथाह भंडार बताया है लेकिन ये बातें राहुल गाँधी और कांग्रेस के नेताओं को कभी समझ में नहीं आने वाली।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने हिंदू धर्म के खिलाफ किये गए अपने किसी भी पाप के लिए कभी माफी नहीं मांगी, उल्टा गणित, योग, खगोल और आयुर्वेद देने वाले वेदों-उपनिषदों-पुराणों को ढोंग, पाखंड व शोषण का प्रतीक बताया। कांग्रेस के इस आचरण की जितनी भी निंदा की जाय, कम है। राहुल गांधी वेद-पुराण और उपनिषद-गीता कितना पढ़ेंगे और कितना समझ पाएंगे, ये तो समझ से परे हैं, लेकिन उन्हें कम से कम अपने नेताओं गांधी, तिलक, मदनमोहन मालवीय और डॉ. संपूर्णानंद को तो पढऩा और समझना चाहिए।

spot_imgspot_imgspot_img

Related Articles

epaper

spot_img

Latest Articles

spot_img