spot_img
29.1 C
New Delhi
Sunday, August 1, 2021
spot_img

कोविड-19: दिल्ली के बिगड़े हालात पर केंद्र ने दी दखल

–गृहमंत्री अमित शाह ने बुलाई दिल्ली की बैठक
-दो राउंड होगी बैठक, सुबह 11 बजे और शाम 5 बजे बुलाया
–दिल्ली के एलजी, मुख्यमंत्री, तीनों मेयर, एम्स के निदेशक रहेंगे
–केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री, आपदा प्रबंधन के अधिकारी रहेंगे मौजूद
-सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद दोनों सरकारें हुई एलर्ट

नई दिल्ली /टीम डिजिटल : देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना के बढ़ते प्रकोप और बिगड़ते हालात को देखते हुए केंद्र सरकार ने दखल देना शुरू कर दिया है। हालात बेकाबू ना हों, इसके मद्देनजर गृहमंत्री अमित शाह ने रविवार को हाईलेवल मैराथन बैठक बुलाई है। बैठक दो राउंड होगी। पहली बैठक सुबह 11 बजे होगी, जबकि दूसरी बैठक शाम 5 बजे प्रस्तावित है।

इस मौके पर दिल्ली केे उपराज्यपाल अनिल बैजल, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डा. हर्षबर्धन, तीनों नगर निगमों के मेयर मौजूद रहेंगे। बैठक में हालात की समीक्षा की जाएगी और आगे की तैयारियों का प्लेटफार्म तैयार किया जाएगा। एक दिन पहले ही सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली में विकराल होती कोरोना की स्थिति और मरीजों के साथ होती बदइंतजामी को लेकर नाराजगी जताते हुए जमकर फटकार लगाई थी। साथ ही दिल्ली सरकार एवं केंद्र सरकार से जवाब मांगा है। इसके बाद ही केंद्र और राज्य सरकार हरकत में आते हुए कार्रवाई शुरू कर दी है। सूत्रों के मुताबिक बैठक में राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के सदस्य, एम्स के निदेशक डा. रणदीप गुलेरिया और दिल्ली सरकार के वरिष्ठ अधिकारी भी शामिल होंगे।

बता दें कि राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के लगातार बढ़ रहे पॉजिटिव मामलों के बीच हाल ही में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी। इस दौरान दोनों नेताओं के बीच दिल्ली में कोरोना वायरस के हालात को लेकर काफी चर्चा भी की गई थी। बता दें कि राजधानी दिल्ली इस समय आम आदमी पार्टी की सरकार है, लेकिन केंद्रशासित प्रदेश होने की वजह से उसे केंद्र के साथ तालमेल करना पड़ता है।

दिल्ली में स्वास्थ्य सेवाओं में भी केंद्र सरकार का काफी दखल है और दिल्ली में कई अस्पताल केंद्र के अंतर्गत आते हैं। इसकेे अलावा दिल्ली में कानून व्यवस्था लागू करवाने की जिम्मेदारी भी केंद्र की ही है, ऐसे में कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों से दिल्ली सरकार और केंद्र सरकार दोनों चिंतित हैं। इस बीच सुप्रीम कोर्ट के दखल से मामला और बिगड़ गया है।
देश में महाराष्ट्र और तमिलनाडु के बाद दिल्ली कोरोना वायरस के कारण सबसे ज्यादा प्रभावित है। दिल्ली में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 36 हजार के पार हो चुका है। कुल मरीजों की संख्या 36824 हो चुकी है, जबकि अब तक 1214 लोगों की मौत हो चुकी है।

Related Articles

epaper

Latest Articles