spot_img
29.1 C
New Delhi
Monday, July 26, 2021
spot_img

रसोई गैस सिलेंडर 50 रुपये महंगा मिलेगा, दिल्ली में 769 रुपये होगी कीमत

—नई कीमतें रविवार रात 12 बजे से लागू, महंगाई का झटका

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल । देश की राजधानी दिल्ली के लोगों को एकबार फिर महंगाई का झटका लगा है। सोमवार से राजधानी में रसोई गैस की कीमतों में 50 रुपये की वृद्धि की जा रही है। इस बढ़ोतरी के बाद राजधानी में नॉन सब्सिडी वाले एलपीजी सिलिंडर की कीमत 719 से बढ़कर 769 रुपये हो जाएगी। नई कीमतें रविवार रात 12 बजे से लागू हो जाएंगी। दिल्ली में गैर-सब्सिडी वाले घरेलू एलपीजी सिलिंडर (14.2 kg) की कीमतों में 50 रुपये की वृद्धि की गई है। पिछले साल दिसंबर से लेकर अब तक सिलेंडर के दाम में यह तीसरी बढ़ोतरी है। इससे पहले 4 फरवरी को भी सिलेंडरों के दाम 694 रुपये से बढ़ाकर 719 रुपये कर दिया गया था।

यह भी पढें...राष्ट्रीय राजमार्गों पर फास्टैग देशभर में अनिवार्य, बिना फास्टैग दोगुना जुर्माना

एलपीजी की कीमतों में बढ़ोतरी ऐसे वक्त में हुई जब देश में पेट्रोल डीजल की कीमतों में अभूतपूर्व बढ़ोतरी देखी जा रही है। आपको बता दें क तेल और गैस कंपनियां अंतरराष्ट्रीय मार्केट में गैस की कीमतों, रुपये की डॉलर के मुकाबले वैल्यू समेत अन्य फैक्टर्स को देखकर कीमतें तय करती हैं।सरकार का कहना है कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर क्रूड ऑयल और प्राकृतिक गैस के बढ़ते दामों के कारण भारत में भी इसकी कीमत में तेज बढ़ोतरी हो रही है। हालांकि आलोचकों का कहना है कि पेट्रोल-डीजल पर भारी केंद्रीय और राज्य के करों की वजह से दाम इतने ऊंचे स्तर पर बने हुए हैं।

यह भी पढें...दिल्ली में 20 फरवरी से शुरू हो रहा है हुनर हाट, ​”वोकल फॉर लोकल” होगी थीम

दिल्ली में पहले एक गैस सिलेंडर 719 रुपए में मिल रहा था। दिसंबर में कीमत की बढ़ोतरी की गई थी इसके बाद जनवरी में कोई इजाफा नहीं हुआ। फिर 4 फरवरी को गैस सिलेंडर के दाम में 25 रुपए की वृद्धि की गई। और दस दिन ही हुए थे कि गैस सिलेंडर के दाम में 50 रुपए की बढ़ोतरी कर दी गई। घरेलू एपपीजी सिलेंडर की बिक्री पर सरकार की ओर से सब्सिडी मिलती है। यह सब्सिडी सीधे उपभोक्ता के बैंक खाते में जमा हो जाती है।
सूत्रों के मुताबिक केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने वित्त वर्ष 2022 के लिए पेट्रोलियम सब्सिडी को घटाकर 12995 करोड़ रुपये कर दिया है। वहीं इसी बजट में सरकार ने कहा है कि उज्जवला स्कीम के तहत लाभार्थियों की संख्या एक करोड़ तक की जाएगी। सरकार को उम्मीद है कि एलपीजी सिलेंडर की कीमतों में इजाफा करने से उस पर ​सब्सिडी का बोझ कम होगा। एक रिपोर्ट के मुताबिक एक सरकारी अधिकारी ने कहा है कि सरकार सब्सि​डी को खत्म करने की दिशा में बढ़ रही है। यही कारण है केरोसिन और एलपीजी के दाम में लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है।

Related Articles

epaper

Latest Articles