29 C
New Delhi
Sunday, April 11, 2021

PM नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में BJP की केंद्रीय चुनाव समिति की मैराथन बैठक

–पश्चिम बंगाल के दो चरणों एवं असम की सीटों पर प्रत्याशियों के नाम फाइनल
-केंद्रीय चुनाव समिति की मैराथन बैठक में प्रत्याशियों के नामों पर चर्चा
–सीईसी से पहले राज्यों के भाजपा कोर समूह की पार्टी के केंद्रीय नेताओं के साथ बैठक

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल : भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने पश्चिम बंगाल सहित पांच राज्यों में होने जा रहे विधानसभा चुनावों के लिए संभावित प्रत्याशियों के नामों पर वीरवार को देर रात तक मंथन किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में हुई केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में पश्चिम बंगाल के दो चरणों एवं असम की ज्यादातर सीटों पर उतारे जाने वाले प्रत्याशियों के नाम फाइनल कर दिए हैं। बैठक वीरवार की शाम साढ़े 7 बजे शुरू हुई। सबसे पहले असम राज्य के प्रत्याशियों के नामों पर चर्चा हुई। इसमें कुछ विवादास्पद एवं संवेदनशील सीटों को छोड़ बाकी सभी सीटों पर प्रत्याशियों के नामों को अंतिम रूप दे दिया गया। असम के बाद पश्चिम बंगाल में पहले और दूसरे चरण में होने वाले मतदान वाली सीटों के प्रत्याशियों के नामों में चर्चा हुई। बैठक देर रात तक (खबर लिखे जाने तक) चलती रही। बता दें कि 27 मार्च को असम और पश्चिम बंगाल में पहले चरण के तहत कुछ सीटों पर मतदान होना है। भाजपा के राष्ट्रीय मुख्यालय में केंद्रीय चुनाव समिति की देर रात तक चली बैठक की अध्यक्षता पार्टी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने की। इस मौके पर समिति के सभी सदस्य मौजूद रहे। इसमें पूर्व अध्यक्षों अमित शाह, राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय मंत्री थावर चंद गहलोत, हाल ही में बिहार सरकार में कैबिनेट मंत्री बनाए गए शहनवाज हुसैन सहित सभी सदस्य मौजूद रहे।


सूत्रों के मुताबिक बैठक में 27 मार्च को असम और पश्चिम बंगाल में पहले चरण के तहत जिन सीटों पर मतदान होना है, वहां के उम्मीदवारों के नाम फाइनल हो गए हैं। इससे पहले दोनों राज्यों के भाजपा कोर समूह की पार्टी के केंद्रीय नेताओं के साथ भी मैराथन बैठक की। इसमें भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा भी मौजूद रहें। असम के कोर समूह में मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल, मंत्री हेमंत बिस्व सरमा और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष रंजीत कुमार दास शामिल थे जबकि पश्चिम बंगाल के कोर समूह में प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष और संगठन से जुड़े कई प्रमुख नेता हैं।

27 मार्च से मतदान की प्रक्रिया प्रारंभ होगी

बता दें कि पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, असम, केरल और केंद्र शासित पुडुचेरी में 27 मार्च से मतदान की प्रक्रिया प्रारंभ होगी और 29 अप्रैल तक अलग-अलग चरणों में संपन्न होगी। पश्चिम बंगाल में 27 मार्च से 29 अप्रैल के बीच आठ चरणों में जबकि असम में 27 मार्च से छह अप्रैल के बीच तीन चरणों में मतदान संपन्न होगा। तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी में एक चरण में छह अप्रैल को मतदान होगा। असम में पहले चरण के तहत राज्य की 47 विधानसभा सीटों पर 27 मार्च को, दूसरे चरण के तहत 39 विधानसभा सीटों पर एक अप्रैल और तीसरे व अंतिम चरण के तहत 40 विधानसभा सीटों पर छह अप्रैल को मतदान संपन्न होगा। असम में विधानसभा की 126 सीटें हैं।

Related Articles

epaper

Latest Articles