spot_img
22.1 C
New Delhi
Wednesday, October 20, 2021
spot_img

महिलाओं की तुलना में कोरोना वायरस से पुरुषों की मौत ज्यादा, एक्सपर्ट ने बताई वजह

नई दिल्ली। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (COVID-19) ने दुनियाभर में 2 मिलियन से अधिक लोगों की जान ले चुका है। आंकड़े बताते हैं कि महिलाओं की तुलना में पुरुषों में मृत्यु दर बहुत अधिक है। एक्सपर्ट ने बताया कि कोरोना वायरस से संक्रमित होने और मरने वालों में पुरुषों की गिनती अधिक है। कनाडा में जन्मे चिकित्सक और दुर्लभ रोग विशेषज्ञ डॉ. शेरोन मोलेम ने बताया कि पुरुषों की तुलना में कोविद -19 से लड़ने में महिलाओं ने बेहतर प्रदर्शन क्यों किया?

एक्सपर्ट ने बताया कि महिलाओं का इम्यून सिस्टम पुरूषों के मामले ज्यादा स्ट्रांग होता है। वहीं कई बार फ्लू जैसे मामले में भी देखा गया है कि महिलाओं के मुकाबले पुरूष ज्यादा संक्रमित होते हैं। एक और कारण है जो महिलाओं को कोरोना वायरस से बचाने में मदद करता है। महिलाओं में दो X गुणसूत्र होते हैं जबकि पुरुषों में एक X और एक Y गुणसूत्र होता है। एक्स गुणसूत्र जीवित रहने के लिए आवश्यक होते हैं और मस्तिष्क से संबंधित महत्वपूर्ण जीन होते हैं। दूसरी ओर, वाई क्रोमोसोम केवल पुरुषों में पाए जाते हैं और जीवित रहने के लिए महत्वपूर्ण नहीं हैं।

यह भी पढ़ें: मजदूर घर लेकर गए 1-1 किलो आटे के पैकेट, खोला तो निकले 15 हजार रुपये

‘द बेटर हाफ: ऑन द जेनेटिक सुपीरियरिटी ऑफ वीमेन’ के लेखक डॉ. शेरोन मोलेम ने बताया कि पुरुष इसके कारण जैविक रूप से अधिक नाजुक होते हैं। दक्षिण कोरिया जैसे देशों में, भले ही अधिक महिलाओं को कोरोनावायरस के लिए सकारात्मक परीक्षण किया गया था लेकिन इस महामारी के कारण अधिक पुरुषों की मृत्यु हो गई है। पुरुषों में अधिक मांसपेशियों और अधिक शारीरिक शक्ति होती है और इसका मतलब दीर्घायु या लंबी आयु नहीं है। हालांकि, महिलाएं जिनके पास XX गुणसूत्र हैं वह दीर्घायु के लाभ के साथ पैदा होती हैं।

खुद का खास ख्याल रखना बहुत जरूरी
डॉ. मोआलेम के अनुसार, पुरुषों की तुलना में महिलाएं आनुवंशिक रूप से कठिन क्यों हैं, इसका एक और कारण है कि उनके शरीर में एस्ट्रोजन की उपस्थिति के कारण उनकी प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत होती है। XX गुणसूत्र शक्ति के साथ महिलाओं को भी एस्ट्रोजेन की तरह उनके शरीर में हार्मोन होते हैं जो प्रतिरक्षा के लिए अच्छा है। पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन होता है जो इम्युनिटी को और कम करता है। पुरुष जैविक रूप से अधिक नाजुक होते हैं। परंपरागत रूप से, संक्रमण या अकाल से लड़ने पर महिलाओं ने हमेशा पुरुषों की तुलना में बेहतर प्रदर्शन किया है। महिलाएं कैंसर से भी बेहतर तरीके से लड़ती हैं।

Related Articles

epaper

Latest Articles