27.1 C
New Delhi
Thursday, June 30, 2022

मिशन यूपी : बीजेपी ने ब्रज क्षेत्र के बूथ अध्यक्षों को दिया जीत का मंत्र

एटा /खुशबू पाण्डेय : भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने आज अपने उत्तर प्रदेश प्रवास के दूसरे दिन रविवार को एटा में ब्रज क्षेत्र के लगभग 28,222 बूथ अध्यक्षों के साथ संवाद किया और उन्हें विधान सभा चुनाव के मद्देनजर जीत का मंत्र दिया। कार्यक्रम में प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बेबी रानी मौर्य, केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल, बी एल वर्मा, एसपी सिंह बघेल और राज्य सरकार में मंत्री सुरेश खन्ना, श्रीकांत शर्मा एवं सांसद राजवीर सिंह सहित राज्य सरकार के कई वरिष्ठ मंत्रीगण, विधायक, क्षेत्र के सांसद, प्रदेश और क्षेत्र के पार्टी पदाधिकारी उपस्थित थे। उत्तर प्रदेश की पावन धरा का शत-शत वंदन करते हुए नड्डा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की विचारधारा के अधिष्ठाता रहे हम सबके प्रेरणास्रोत पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी की जन्मभूमि भी यही है। मैं इस वंदनीय भूमि को कोटि-कोटि नमन करता हूँ। उन्होंने कहा कि आज मैं ब्रज क्षेत्र के 28,222 बूथ अध्यक्षों के साथ संवाद कर रहा हूँ। मीडिया और दुनिया देखे कि यह भारतीय जनता पार्टी की जन-सभा नहीं, बल्कि एक क्षेत्र का कार्यकर्ता सम्मेलन है। हमारे कार्यकर्ता परिश्रमी हैं, सेवाव्रती हैं और जन-जन के लिए काम आने वाले हैं। उनकी कर्तव्यपरायणता और निष्ठा अतुलनीय है क्योंकि हमारी सरकार का सोच ईमानदार है, काम दमदार है। कोरोना काल में जिस तरह से पार्टी कार्यकर्ताओं ने अपने प्राणों की परवाह न करते हुए जन-जन की सेवा की और ‘सेवा ही संगठन’ के मंत्र को जमीन पर उतारा, इसके लिए उनकी जितनी भी सराहना की जाय, कम है।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि आज देश में जितनी भी राजनीतिक पार्टियां हैं, उन सबमें आंतरिक लोकतंत्र केवल और केवल भारतीय जनता पार्टी में ही है। भाजपा में आज के बूथ अध्यक्ष कल के प्रदेश अध्यक्ष बन सकते हैं, राष्ट्रीय अध्यक्ष बन सकते हैं, देश के प्रधानमंत्री पद की गरिमा बढ़ा सकते हैं लेकिन दूसरी पार्टियों में यहाँ तक पहुँचने के लिए किसी एक परिवार में जन्म लेना पड़ता है। भाजपा में कार्यकर्ता, वंशवाद के आधार पर नहीं, कर्म और मेधा के आधार पर आगे बढ़ते हैं। भारतीय जनता पार्टी को छोड़ कर, देश की लगभग सभी राजनीतिक पार्टियां वंशवाद, परिवारवाद, जातिवाद और तुष्टिकरण की राजनीति के आधार पर चलती है। कोई जिन्ना के नाम पर जीता है, कोई जातिवाद के नाम पर तो कोई तुष्टिकरण के नाम पर लेकिन भारतीय जनता पार्टी विचारधारा के आधार पर बढ़ती है, सेवा ही संगठन के मंत्र को जमीन पर उतारती है और सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास की अवधारणा पर सब का सशक्तिकरण करती है।

—भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने एटा में ब्रज क्षेत्र के 28,222 बूथ अध्यक्षों के साथ किया संवाद
—देश की लगभग सभी राजनीतिक पार्टियां वंशवाद, परिवारवाद, जातिवाद

हमारे लिए सत्ता सेवा का माध्यम है, देश के नागरिकों के जीवन स्तर को ऊपर उठाने का माध्यम है, देश को मजबूत बनाने का माध्यम है। नड्डा ने कहा कि क्या आज से पहले किसी ने सोचा भी था कि देश से धारा 370 कभी ख़त्म हो सकेगा? क्या किसी ने कल्पना भी की थी अयोध्या में रामलला की जन्मभूमि पर भव्य श्रीराम मंदिर का निर्माण हो पायेगा? किया किसी ने यह सोचा था कि ट्रिपल तलाक कभी देश से ख़त्म होगा? लेकिन, इन सभी समस्याओं का पूर्णकालिक समाधान हुआ  प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में उनकी दृढ़ राजनीतिक इच्छाशक्ति के बल पर। क्या सपा-बसपा और कांग्रेस की सरकार रहते भव्य श्रीराम मंदिर का निर्माण कार्य आरंभ हो पाता? कदापि नहीं। आज श्रीराम मंदिर का निर्माण शुरू हुआ जब केंद्र में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  हैं और उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी हैं। विपक्ष पर हमला करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि किसानों का नेता होने का दावा करने वाले तो कई हुए लेकिन इन लोगों ने किसानों के नाम पर केवल नेतागिरी की, उनका भला नहीं किया। किसानों का कल्याण हुआ और कृषि का विकास हुआ तो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में। कांग्रेस की सरकार में केवल एक बार किसानों का कर्ज माफ़ हुआ, वह भी केवल 57,000 करोड़ रुपये जबकि नरेन्द्र मोदी सरकार ने देश के लगभग 11 करोड़ किसानों के बैंक एकाउंट में केवल एक योजना (किसान सम्मान निधि) में ही 1.60 लाख करोड़ रुपये से अधिक राशि पहुंचा दी है। भारत सरकार प्रति बोरी डीएपी पर 1200 रुपये की सब्सिडी दे रही है जिसके चलते 2400 रुपये की बोरी किसानों को महज 1200 रुपये में मिल रही है। करोड़ों किसान फसल बीमा योजना और स्वायल हेल्थ कार्ड योजना से लाभान्वित हुए हैं।

उत्तर प्रदेश दंगा मुक्त और माफिया मुक्त राज्य बना

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन में और योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश दंगा मुक्त और माफिया मुक्त राज्य बना है। लेकिन, उत्तर प्रदेश की जनता को वो दिन भी याद है जब प्रदेश में प्रजातंत्र नहीं, दंगा तंत्र का शासन था। उत्तर प्रदेश की जनता कैसे भूल सकती है मुजफ्फरनगर का दंश, कैराना से पलायन और तुष्टिकरण की राजनीति का कालखंड! सपा वालों ने पोस्टर से कईयों की तस्वीर हटा दी है लेकिन याद रखें कि ये नई सपा नहीं है, ये वही सपा है। उत्तर प्रदेश के विकास के लिए ऐसे लोगों को घर बिठाना और हर बूथ पर कमल खिलाना जरूरी है। हमारे पास देश और प्रदेश के विकास के लिए नेता है, नेतृत्व है, नीति है, नीयत है और कार्यक्रम भी लेकिन विपक्ष के पास न नेता है, न नीति और नीयत तो है ही नहीं। उनकी नीयत एक ही है – बस किसी भी तरह से कुर्सी पर काबिज होना। हमें रुकना नहीं है, झुकना नहीं है, थकना नहीं है बल्कि राष्ट्र सेवा और जन-जन की सेवा में जुटना है, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश को आगे बढ़ाना है और योगी आदित्यनाथ सरकार को मजबूत करना है।

Related Articles

epaper

Latest Articles