spot_img
30.1 C
New Delhi
Friday, October 22, 2021
spot_img

हुनर हाट में अब विश्वकर्मा वाटिका भी होगी, UP के रामपुर से होगा श्रीगणेश

-यूपी के रामपुर से होगा श्रीगणेश, 700 दस्तकार होंगे शामिल
– 30 राज्यों के कारीगर एवं शिल्पकार लगाएंगे उत्पादों की प्रदर्शनी
–केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान करेंगे शुभारंभ, नकवी और मेघवाल रहेंगे मौजूद
–आजादी के अमृत महोत्सव के तहत देश भर में 75 हुनर हाट होंगे आयोजित

नई दिल्ली /अदिति सिंह : देश भर में आयोजित की जा रही हुनर हाट में अब विश्वकर्मा वाटिका भी होगी, जिसमें देश के शिल्पकारों, मूॢतकारों, लोहार, बढ़ई, माटी कला, स्वर्ण-कांस्य, कांच, ब्रास कला आदि जैसे सैंकड़ों परंपरागत कार्यों से लोग रूबरू होंगें। अब पहली विश्वकर्मा वाटिका 16 अक्टूबर से उत्तर प्रदेश के रामपुर में आयोजित हो रही हुनर हाट में लगायी जाएगी। नुमाइश ग्राउंड (पनवडिय़ा, रामपुर) में आयोजित हो रही हुनर हाट में 30 से ज्यादा राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लगभग 700 दस्तकार, शिल्पकार, कारीगर अपने स्वदेशी हस्तनिॢमत उत्पादों की प्रदर्शनी एवं बिक्री के लिए आये हैं। इस हुनर हाट में उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, राजस्थान, दिल्ली, नागालैंड, मध्य प्रदेश, मणिपुर, बिहार, आंध्र प्रदेश, झारखण्ड, गोवा, पंजाब, लद्दाख, कर्नाटक, गुजरात, हरियाणा, जम्मू-कश्मीर, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, तमिलनाडु, केरल एवं अन्य क्षेत्रों से हुनर के उस्ताद कारीगर अपने साथ लकड़ी, ब्रास, बांस, शीशे, कपडे, कागा, मिटटी आदि के शानदार उत्पाद लेकर आये हैं।
बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विश्वकर्मा जयंती पर मन की बात में कहा था कि जो सृष्टि और निर्माण से जुड़े सभी कर्म करता है वह विश्वकर्मा है। हमारे शास्त्रों की नजर में हमारे आस-पास निर्माण और सृजन में जुटे जितने भी स्किल्ड, हुनरमंद लोग हैं, वो भगवान विश्वकर्मा की विरासत हैं। इनके बिना हम अपने जीवन की कल्पना भी नहीं कर सकते।
इस बावत केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव के तहत देश भर में 75 हुनर हाट आयोजित हो रही है। इसी श्रृंखला में रामपुर में 16 से 25 अक्टूबर तक आयोजित होने वाली हुनर हाट का उद्घाटन 16 अक्टूबर को केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान करेंगे। इस अवसर पर खुद नकवी एवं केंद्रीय संसदीय कार्य एवं संस्कृति राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहेंगे। नकवी ने कहा कि इस ‘हुनर हाट में कई जाने-माने कलाकार पंकज उधास, अन्नू कपूर, सुदेश भोंसले, कुमार सानू, अल्ताफ राजा, विनोद राठौर, निजामी बंधू, विवेक मिश्रा, नीलम चौहान, रेखा राज, प्रेम भाटिया, नूरन सिस्टर्स, जूनियर महमूद जैसे जाने-माने कलाकार शानदार गीत-संगीत-गजल पेश करेंगें। अल्पसंख्यक कार्य मंत्री ने कहा, पिछले लगभग 6 वर्षों में हुनर हाट के माध्यम से 5 लाख 50 हजार से ज्यादा दस्तकारों, शिल्पकारों, कारीगरों और उनसे जुड़े लोगों को रोजगार और रोजगार के अवसर मुहैया कराए गए हैं।

22 दिसंबर से 2 जनवरी तक नई दिल्ली में हुनर हाट होगा

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने बताया कि रामपुर के बाद, 29 अक्टूबर से 7 नवम्बर को देहरादून, 12 नवम्बर से 21 नवम्बर के बीच लखनऊ, 26 नवम्बर से 5 दिसंबर तक हैदराबाद, 10 दिसंबर से 19 दिसंबर तक सूरत एवं 22 दिसंबर 2021 से 2 जनवरी 2022 तक नई दिल्ली में हुनर हाट का आयोजन होगा। इसके अलावा हुनर हाट का आयोजन मैसुरु, गुवाहाटी, पुणे, अहमदाबाद, भोपाल, पटना, पुडुचेरी, मुंबई, जम्मू, चेन्नई, चंडीगढ़, आगरा, प्रयागराज, गोवा, जयपुर, बेंगलुरु, कोटा, सिक्किम, श्रीनगर, लेह, शिलांग, रांची, अगरतला एवं अन्य स्थानों भी पर होगा।

हुनर हाट में कबाड़ से कमाल का दिखेगा जलवा

केंद्रीय मंत्री नकवी के मुताबिक हुनर हाट में कबाड़ से कमाल को प्रोत्साहित करते हुए फेंक दिए जाने वाले लोहे, रबर, प्लास्टिक, कपडे, शीशे, पीतल, ताम्बा, सेरेमिक, लकड़ी आदि से निर्मित सामग्री, हुनर हाट आने वाले लोग देख और खरीद सकेंगें। देश के हर कोने के पारम्परिक विशिष्ट व्यंजनों का सेक्शन बावर्चीखाना में एक ही स्थान पर भारत के सभी प्रांतों के पकवान होंगें। इन पारम्परिक पकवानों में अवध, रामपुर, हैदराबाद, महाराष्ट्र, गोवा, बिहार, राजस्थान, नार्थईस्ट, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, मध्य प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, मैसूरु आदि के लजीज व्यंजनों का लोग आनंद ले सकेंगें।

Previous article15 October 2021
Next article16 October 2021

Related Articles

epaper

Latest Articles