spot_img
28.1 C
New Delhi
Friday, October 22, 2021
spot_img

हरियाणा सरकार की अमित शाह से गुहार, जल्द खुलवाएं सिंघू बार्डर व टिकरी बार्डर

-हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने गृहमंत्री से की मुलाकात
–20 अक्तूबर को हरियाणा सरकार सुप्रीम कोर्ट में अपना पक्ष रखेगी
-किसानों ने बंद कर रखा है सिंघू बार्डर व टिकरी बार्डर पर राष्ट्रीय राजमार्ग
-मुख्यमंत्री ने कहा-औद्योगिक क्षेत्र व ग्रामीण क्षेत्र के लिए बेहद परेशानी

नई दिल्ली /नेशनल ब्यूरो : केंद्र सरकार के तीनों कृषि कानूनों के विरोध में किसान संगठनों द्वारा हरियाणा में लंबे समय से अवरूद्ध राष्ट्रीय राजमार्गों को खुलवाने की बावत हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने आज केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की। इस दौरान मुख्यमंत्री ने अवरूद्ध हुए राष्ट्रीय राजमार्गों को खुलवाने को लेकर अमित शाह से विशेष रूप से दखल देने की मांग की। साथ ही कहा कि राष्ट्रीय राजमार्ग अवरूद्ध होने के कारण आम जनता विशेषकर सिंधू बार्डर व टिकरी बार्डर के निकटवर्ती औद्योगिक क्षेत्र व ग्रामीण क्षेत्र के लिए परेशानी बनी हुई है। निकटवर्ती क्षेत्रों के निवासियों द्वारा अवरूद्ध हुए राजमार्गों को खुलवाने के लिए लगातार मांग भी की जा रही है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बताया कि किसान संगठनों द्वारा लंबे समय से हरियाणा में दिल्ली के साथ लगते सिंघू बार्डर व टिकरी बार्डर पर राष्ट्रीय राजमार्ग अवरूद्ध किए गए हैं। इस मौके पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने हरियाणा में अन्य स्थानों भी पर किसानों द्वारा किए जा रहे धरना-प्रदर्शनों की स्थिति के संदर्भ में भी केंद्रीय गृह मंत्री को अवगत करवाया।
केंद्रीय गृह मंत्री से मुलाकात के उपरांत हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि बातचीत जारी है और 20 अक्तूबर को हरियाणा सरकार सर्वोच्च न्यायालय में अपना पक्ष रखेगी। इसमें किसान नेताओं को भी पार्टी बनाया गया है। इससे पहले किसान संगठनों के साथ कोई सहमति बनती है तो सही है। इसके उपरांत सर्वोच्च न्यायालय के आदेशानुसार राजमार्गों को खुलवाया जाएगा। किसानों से उनके विरोध प्रदर्शन व आंदोलन के दौरान शांति बनाए रखने की सदैव अपील है और केंद्रीय गृह मंत्री ने भी यही अपेक्षा की है।

सोनीपत के किसानों ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात

इस बीच सिंघु बार्डर पर अवरूद्ध हुए राष्ट्रीय राजमार्ग को खुलवाए जाने को लेकर भारतीय किसान संघ के नेतृत्व में सोनीपत जिला के विभिन्न किसान प्रतिनिधियों ने नई दिल्ली में
हरियााणा भवन में मुख्यमंत्री मनोहर लाल को एक ज्ञापन दिया। मुख्यमंत्री ने उन्हे आश्वस्त किया कि इस संदर्भ में सभी प्रयास जारी हैं, बातचीत जारी है और आशा है कि प्रदेश में अवरूद्ध हुए राष्ट्रीय राजमार्ग शीघ्र खुल जाएंगे।

किसान आंदोलन के चलते दूसरी सड़के टूटी, महीने भर में होगी मरम्मत

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बताया कि राष्ट्रीय राजमार्ग अवरूद्ध होने की स्थिति में दूसरे सड़क मार्गों पर वाहनों के अधिक दबाव के परिणामस्वरूप टूट चुके सड़क मार्गों की एक माह में मरम्मत करवाने के निर्देश दिए गए हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा हरियााणा में पराली जलाए जाने के मीडिया द्वारा किए गए प्रश्न पर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि यह सब निराधार है और हरियाणा में धान उत्पादक किसानों को 1000 रूपये प्रति एकड़ प्रोत्साहन के रूप में प्रदान किए जा रहे हैं। अब कंपनियां द्वारा किसानों से पराली खरीदी जा रही है और प्रति एकड़ किसानों की आमदन में भी वृद्धि हुई है।

Related Articles

epaper

Latest Articles