spot_img
22.1 C
New Delhi
Wednesday, October 20, 2021
spot_img

कोरोना संकट में दिहाड़ी मजदूरों को मिला संघ का सम्बल

(अदिति सिंह)
नई दिल्ली/ टीम डिजिटल :  जानलेवा बीमारी कोरोना के चेन सिस्टम को तोड़ने के लिए भारत में 21 दिन के लॉकडाउन में कर्फ्यू जैसी स्थिति बनी हुई है। ऐसे में दिहाड़ी व मजदूरी करने वाले हजारों लोगों को भोजन व दैनिक जीवन की अन्य उपयोगी सामग्री उपलब्ध करवाने में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवक एक बड़ा संबल साबित हो रहे हैं।

स्वयंसेवक कर रहे सहायता
दिल्ली में विभिन्न स्थानों में स्वयंसेवकों द्वारा जरूरतमंद लोगों के लिए खाने-पीने व अन्य जरूरी सामान उपलब्ध करवाने के लिए सेवा भारती के हेल्पलाइन नंबर 8010066066 के माध्यम से चलाए जा रहे सहायता अभियान के अंतर्गत आज बड़ी संख्या में लोगों तक सहायता पहुंचायी गयी। चिकित्सा, भोजन व अन्य जरूरी  सामान इस नंबर पर फ़ोन करने पर  दिन के चौबीसों घंटे उपलब्ध करवाया जा रहा है ।

40 मुस्लिम मजदूरों के लिए स्वयंसेवकों ने की भोजन की व्यवस्था
इस अभियान के तहत महरौली में  28 मार्च तक 12000 भोजन के पैकेट वितरित किये जा चुके हैं। फतेहपुर, घिटोरनी, महिपालपुर, छतरपुर, बिजवासन, वसंत कुञ्ज और आसपास के इलाकों में भी लगातार भोजन के पैकेट वितरित किये जा रहे हैं। दक्षिणी दिल्ली के जिलाधिकारी (DM) श्री बृजमोहन मिश्रा जी के सहयोग से 6000 पैकेट सरकारी कर्मचारियों के माध्यम से वितरित किये गए। तहसीलदार श्री अरविन्द चोपड़ा को बिहार के मुख्यमंत्री के कार्यालय से फोन आया कि कुछ मजदूर नेबसराय इलाके में फंसे हुए हैं। श्री चोपड़ा के संपर्क करने पर नेबसराय में भी 40 मुस्लिम मजदूरों के लिए स्वयंसेवकों ने भोजन की व्यवस्था की।

खिचड़ी बनाकर कर रहे मदद
मोती नगर, रमेश नगर के सनातनधर्म मंदिर में 50 से अधिक दिहाड़ी श्रमिकों को भोजन उपलब्ध कराया गया। करमपुरा में खिचड़ी बनाकर 200 लोगों को भोजन कराया गया। राजा गार्डन नगर में पुलिसकर्मियों के साथ मिलकर भोजन के पैकेट वितरित किये गए।

 स्वयंसेवक सस्ती दर पर बेच रहे सब्जी  
भोजन उपलब्ध कराने के अलाव राजा गार्डन में स्वयंसेवकों ने 500 किलो सब्जी सस्ती दर पर बेचकर सेवा कार्य किया। पटेल नगर, बलजीत नगर के इन्द्रपुरी, लोहामंडी, टोडापुर आदि क्षेत्रों में सेवा भारती ने 200 पैकेट भोजन का वितरण किया।

रणजीत नगर में SHO श्री नरेन्द्र कुमार त्यागी जी की सूचना पर रात्रि 12 बजे पांडव नगर, संगम कॉलोनी, शादीपुर, आनंद पर्वत आदि क्षेत्रों में 150 दिहाड़ी श्रमिकों, महिलाओं एवं बच्चों के रहने की व्यवस्था स्थानीय पार्षद तेजराम जी के सहयोग से साथ पटेल नगर मंदिर में रहने की व्यवस्था की गई और 150 भोजन के पैकेट वितरित किये गए। रणजीत नगर के एक ट्रांजिट कैंप में 72 परिवारों को एवं इन्द्रपुरी में भी लोगों के बीच राशन के पैकेट वितरित किये गए।

सरस्वती विहार, शकूरपुर में एक विद्यालय में रसोई स्थापित की गई जिसमें 2000 भोजन पैकेट बनाकर प्रतिदिन वितरित किये जा रहे हैं। पीतमपुरा में भी स्वयंसेवकों ने घरों से भोजन बनवाकर 1250 पैकेट दिल्ली पुलिस की सहायता से मुकरबा चौक पर वितरित किये। शालीमार बाग में भी दो स्थानों पर प्रतिदिन 1500 भोजन के पैकेट बनकर वितरित किये जा रहे हैं।

500 परिवार को दिया सूखा राशन
पुष्पांजलिनगर में जैन स्थानक के माध्यम से 500 परिवारों को सूखे राशन के पैकेट उपलब्ध कराये गए। कमलानगर जिला, वजीरपुर रेलवे लाइन बस्ती में 5 किलो आटा, 2 किलो चावल, नमक, 1 किलो चीनी, साबुन और बिस्कुट के पैकेट बनाकर 30 परिवारों में वितरित किया गया। साथ ही तैयार भोजन के 700 पैकेट भी उपलब्ध कराये गए।

अशोक विहार इंडस्ट्रियल क्षेत्र में खिचड़ी बनाकर वितरित की गई। Advocates International and Residents Front NGO की सहायता से वजीरपुर बी ब्लाक और आंबेडकर बस्ती में तैयार भोजन के पैकेट वितरित किये गए।रोहताश नगर जिला, मानसरोवर पार्क बस्ती, रामनगर, न्यू मॉडर्नशाहदरा, लाल बाग बस्ती में स्थानीय नागरिकों की सहायता से राशन के पैकेट वितरित किये गए। नरेला, प्रहलादपुर औरआस पास के क्षेत्रों में  अब तक 1 क्विंटल

चावल, 60 किलो चना दाल, 60 छोले, 550 पैकेट ब्रेड वितरित किया जा चुका है। साथ ही तैयार भोजन के 350 पैकेट वितरित किये गए। रसोई से संबंधित अन्य सामान के 20 किलो के 30 पैकेट भी वितरित किये गए।

पैदल जा रहे यात्रियों के लिए किया रहने का प्रबंध
बवाना में अपना घर छोड़ पैदल आनंद विहार के लिए जा रहे 20 व्यक्तियों के रहने का प्रबंध किया गया। नन्दनगरी के आसपास के क्षेत्रों में प्रतिदिन 1000 तैयार भोजन के पैकेट वितरित किये जा रहे हैं। इंद्रप्रस्थ, यमुनापार के मंडावली आनंद विहार क्षेत्र में अब तक 11000 भोजन के पैकेट वितरित किये गए।

मुख़र्जी नगर में सिविल लाइन्स इलाके की हिन्द बस्ती में 143 परिवारों में 750 किलो आटा, 150 किलोआलू, 75 किलो टमाटर, 150 पीस अनानास, एवं दाल का वितरण किया गया। सिग्नेचर बस्ती में 95 परिवारों को 495 किलो आटा, 150 किलो आलू, 75 किलो टमाटर, 100 पीस अनानास और दाल वितरित किया गया। जमुना बाजार बस्ती में 97 रिक्शा चालकों में 4 व्यक्ति को एक परिवार की इकाई मानते हुए 100 किलो आटा, 50 किलो आलू, 25 किलो टमाटर, वितरित किया गया।

चंद्रावल बस्ती में 7 परिवारों को 35 किलो आटा, 7 किलो आलू, 3।5 किलो टमाटर,7 किलो दाल उपलब्ध कराया गया। इंद्रा विकास में 5 परिवारों को 25 किलो आटा, 5 किलोदाल और 10 किलो चावल का वितरण किया गया। शाहदरा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं ने आनंद विहार में परेशान लोगों को पानी के पाउच, बिस्कुट के पैकेट एवं फल वितरित किये।

राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ का प्रयास समाज के सहयोग से इस राष्ट्रीय संकट के समय जरूरतमंदों तक हर आवश्यक सहायता पहुंचाना है। संघ के स्वयंसेवक सेवा के इस कार्य में सतत लगे हैं। विश्वास है कि मिलकर हम इस संकट पर विजय पा लेंगे।

Related Articles

1 COMMENT

Comments are closed.

epaper

Latest Articles