spot_img
22.1 C
New Delhi
Wednesday, October 20, 2021
spot_img

राजीव गांधी फाउंडेशन को लेकर BJP का सनसनीखेज खुलासा

–गांधी-वाड्रा परिवार व राजीव गांधी फाउंडेशन को लगातार डोनेशन मिला
–मेहुल चौकसी, जाकिर नाईक से परिवार के संबंध, मिले डोनेशन
–भाजपा ने बोला गांधी-वाड्रा परिवार पर सिलसिलेवार हमला
–आरजीएफ को डोनेशन महज कोई संयोग नहीं, बल्कि साजिश थी : पात्रा

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल : भारतीय जनता पार्टी ने सोमवार को राजीव गाँधी फाउंडेशन को मिले डोनेशन को लेकर सनसनीखेज खुलासे किये। साथ ही खुलासे को लेकर सबूत भी शेयर किये। भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ संबित पात्रा ने कहा कि पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के मुख्य आरोपी मेहुल चौकसी, यस बैंक घोटाले और रिश्वत और भगोड़े तथाकथित इस्लामिक प्रचारक जाकिर नाईक की कंपनियों से गांधी-वाड्रा परिवार के राजीव गांधी फाउंडेशन को लगातार डोनेशन मिलता रहा। उन्होंने गांधी-वाड्रा परिवार पर हमला करते हुए कहा कि आरजीएफ को डोनेशन महज कोई संयोग नहीं था, बल्कि एक सोची-समझी साजिश थी।

भाजपा प्रवक्ता ने बताया कि राजीव गांधी फाउंडेशन को कई लाख रुपये मेहुल चोकसी के फाउंडेशन से मिले हैं। मेहुल चोकसी पंजाब नेशनल बैंक फ्रॉड केस में शामिल है। मेहुल चोकसी के नाम पर गीतांजलि ग्रुप है। इसके अंतर्गत एक पेपर कंपनी आती है, जिसका नाम है मैसर्स नवराज एस्टेट्स। मेसर्स गीतांजलि इन्फ्राटेक प्राइवेट लिमिटेड और मेहुल चोकसी द्वारा इस नवराज एस्टेट प्राइवेट लिमिटेड को 2012-13 और 2013-14 में क्रमश: 47.78 करोड़ रुपये और 24.45 लाख रुपये मिले थे, जबकि नवराज एस्टेट प्राइवेट लिमिटेड ने 2012-13 और 2013-14 में अपने खातों में कोई व्यावसायिक गतिविधि नहीं दिखाई। नवराज एस्टेट प्राइवेट लिमिटेड के माध्यम से चेक संख्या 676400 द्वारा 29 अगस्त 2014 को 10 लाख रुपये डोनेट किया गया। यहां यह बताना जरूरी है कि मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में मेहुल चोकसी और गीतांजलि इंफ्राटेक प्राइवेट लिमिटेड, दोनों के खिलाफ पीएमएलए के प्रावधानों के तहत दो शिकायतें लंबित हैं और विशेष न्यायालय द्वारा पहले ही पीएमएलए के तहत अपराध का संज्ञान लिया जा चुका है। यस बैंक घोटाले में आरोपी राणा कपूर द्वारा आरजीएफ को डोनेशन दिए जाने का खुलासा करते हुए डॉ पात्रा ने कहा कि राणा कपूर ने तत्कालीन यूपीए सरकार से पद्म भूषण पुरस्कार प्राप्त करने के इरादे से तत्कालीन यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गाँधी के परिवार के साथ सौहाद्र्रपूर्ण संबंध बनाए रखने हेतु एक पेंटिंग की खरीद मामले में प्रियंका वाड्रा को यस बैंक से दो करोड़ रुपये डायवर्ट किये थे। इसके अतिरिक्त राणा कपूर ने 14 सितंबर 2016 को यस बैंक के फंड से राजीव गाँधी फाउंडेशन को 9.45 लाख रुपये डोनेट किया था। राणा कपूर पर मनी लॉन्ड्रिंग और धोखाधड़ी के कई मामले चल रहे हैं। अब तक 3557 करोड़ रुपये के रिश्वत की परिसंपत्तियों की पहचान कर ली गई है और इसमें से पीएमएलए के तहत 2320 करोड़ रुपये अटैच कर दिया गया है। पीएमएलए के तहत आरोपित कंपनी जिग्नेश शाह की स्वामित्व वाली फाईनेंशियल टेक्नोलोजीज इंडिया लिमिटेड ने राजीव गाँधी चैरिटेबल ट्रस्ट को 27 अक्टूबर 2011 को 50 लाख रुपये का डोनेशन दिया जो कि आपराधिक गतिविधि में आता है।

जाकिर नाइक को 50 लाख का डोनेशन दिया

भाजपा प्रवक्ता डॉ संबित पात्रा ने आरजीएफ और भगौड़े और कई मामलों में आरोपी जाकिर नाइक के बीच भी कनेक्शन का आरोप लगाया। डोनेशन की डिटेल शेयर करते हुए उन्होंने कहा कि जाकिर नाइक ने पीएमएलए के तहत आरोपित अपने संगठन इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन के माध्यम से राजीव गांधी चैरिटेबल ट्रस्ट को 8 जुलाई 2011 को 50 लाख रुपये का चेक दिया था। राजीव गाँधी चैरिटेबल ट्रस्ट ने 12 जुलाई 2016 को इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन को उसके बैंक के दुसरे अकाउंट में 50 लाख रुपये का डोनेशन दिया था। कांग्रेस ने अलग खाते में पैसे भेजे क्योंकि दूसरे खाते की जांच चल रही थी। जाकिर नाइक और इसके संगठन इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन तथा मैसर्स हारमोनी मीडिया प्राइवेट लिमिटेड पर प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) के तहत जांच चल रही है।

Related Articles

epaper

Latest Articles