spot_img
20.1 C
New Delhi
Friday, December 3, 2021
spot_img

नगर कीर्तन को लेकर सिखों में हो सकता है ‘टकराव’

spot_imgspot_img

–28 अक्टूबर को दो-दो नगर कीर्तन निकालने पर आमादा
–सरना को पाकिस्तान से मिल चुकी है मंजूरी, अकाली ठोंक रहे हैं दावा
–श्री गुरुनानक देव के 550वें प्रकाश पर्व को समर्पित होना है नगर कीर्तन
— दिल्ली से ननकाना साहिब जाएगा नगर कीर्तन

Indradev shukla

(नीता बुधौलिया)

नई दिल्ली, 10 जुलाई (वरिष्ठ संवाददाता) : साहिब श्री गुरुनानक देव ने इस संसार को एक परमात्मा को मानने का संदेश दिया था। लेकिन, उसकी विरासत के दावेदार एक दिन में ही दो नगर कीर्तन निकालने को आमादा हो गए हंै। 12 नवम्बर को श्री गुरुनानक देव का 550वां प्रकाश पर्व है। गुरु साहिब का जन्म स्थान ननकाना साहिब (पाकिस्तान) में होने के कारण ननकाना साहिब तक जाने वाले नगर कीर्तन को लेकर संगतों में गहरी आस्था देखी जा रही है। शिरेामणि अकाली दल (दिल्ली) के अध्यक्ष परमजीत सिंह सरना ने इस बावत 2016 में ही पाकिस्तान सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी और पाकिस्तान अवेक्यू ट्रस्ट प्रापर्टी बोर्ड से मंजूरी मांगी थी। उन्हें दिल्ली से ननकाना साहिब तक नगर कीर्तन ले जाने की मंजूरी भी मिल भी चुकी है। लिहाजा, सरना आजकल इस संबंधी सिख जगत की प्रमुख हस्तियों, सियासी दलों की हस्तियों, एवं समाज के विभिन्न तपकों से जुड़ी नामचीन हस्तियों को नगर कीर्तन में शामिल होने का निमंत्रण पत्र भी बांट रहे है। लेकिन इस बीच दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने भी 28 अक्टूबर को ही दिल्ली से नगर कीर्तन निकालने की तैयारी कर ली है। इसके लिए बाकायदा पिछले हफ्ते अकाली दल अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल के नेतृत्व में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात भी की थी।

Indradev shukla

शिष्टमंडल ने उक्त नगर कीर्तन की मंजूरी तथा 550 सिखों को वीजा दिलवाने की सरकार से अपील की थी। इसके बाद दिल्ली कमेटी अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने 4 जुलाई को दिल्ली की सिंह सभा गुरूद्वारों को पत्र लिखकर 29 अक्टूबर को दिल्ली कमेटी द्वारा नगर कीर्तन निकालने की जानकारी दी थी। साथ ही सभी गुरूद्वारों को इस संबंधी अपने गुरुद्वारों में रोजाना संगत को जानकारी देने की अपील भी की गई थी।

नगर कीर्तन में जाने के इच्छुक लोगों के पासपोर्ट भी कमेटी दफ्तर में जमा करवाने की सलाह दी गई थी। सूत्रों के मुताबिक सोमवार को अकाली दल के प्रभारी बलविंदर सिंह की अध्यक्षता में कोर कमेटी की एक बैठक भी हुई,जिसमें 28 अक्टूबर को नगर कीर्तन निकलाने को लेकर सर्व सहमति नहीं बन पाई थी। क्योंकि मनजिंदर सिंह सिरसा दिल्ली की बजाय अमृतसर में थे। मंगलवार को सिरसा ने एक बार फिर कमेटी सदस्यों के साथ मीटिंग करते हुए 28 अक्टूबर को ही नगर कीर्तन ले जाने पर मुहर लगा दी। इसके लिए बाकायदा पूरा प्रोगाम भी सुनिश्चित कर दिया। अब सवाल उठ रहा है कि गुरूद्वारा बंगला साहिब से 28 अक्टूबर को क्या दो नगर कीर्तन जाएंगे।

28 अक्टूबर को ही निकालेंगे नगर कीर्तन : DSGMC


दिल्ली कमेटी के मीडिया एडवाइजर सुदीप सिंह की माने तो दिल्ली कमेटी 28 अक्टूबर को ही नगर कीर्तन निकालेगी। इसके लिए कमेटी को पाकिस्तान से परमीशन मिल गया है। उन्होंने बताया कि मंगलवार को हुई बैठक में नगर कीर्तन की रणनीति पर चर्चा हुई और कहां-कहां ठहरने की व्यवस्था होनी है, क्या-क्या करना है उसपर लोगों को तैनात करने पर भी रणनीति बनी।

सरकार को लिखा पत्र, दिलाए पाक से परमीशन : रंजीत कौर


दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की वरिष्ठ उपाध्यक्ष बीबी रंजीत कौर ने कहा कि कमेटी ने फैसला लिया है कि 28 अक्टूबर 2019 को दिल्ली कमेटी दिल्ली से ननकाना साहिब (पाकिस्तान) के लिए नगर कीर्तन निकालेगी। इसके लिए कमेटी ने भारत सरकार को एक पत्र आज लिखा है। इसमें कहा गया है कि केंद्र सरकार पाकिस्तान सरकार से नगर कीर्तन की परमीशन लेकर दे। साथ ही 550 लोगों को नगर कीर्तन में शामिल होने की वीजा भी दे।

सरना दल 28 अक्टूबर को नगर कीर्तन निकालेगा : सरना


शिरोमणि अकाली दल (दिल्ली) के महासचिव हरविंदर सिंह सरना ने कहा कि कोई क्या कर रहा है इससे हमें कोई लेना देना नहीं है। पाकिस्तान सरकार ने हमें परमीशन दिया है और हम सिखों को लेकर 28 अक्टूबर को ननकाना साहिब दर्शनों के लिए नगर कीर्तन लेकर जा रहे हैं। सरना ने कहा कि बाजूवद इसके अगर अकाली उनके नगर कीर्तन को रेाकने के लिए रोड़ा अटका रहे हैं तो यह सिख संगत के साथ सरासर धोखा होगा। दिल्ली कमेटी, शिरोमणि कमेटी के पास अगर कोई परमीशन होती तो ये दिखा देते।

spot_imgspot_imgspot_img

Related Articles

epaper

spot_img

Latest Articles

spot_img