spot_img
9.1 C
New Delhi
Tuesday, January 18, 2022
spot_img

BJP की केजरीवाल को नसीहत, खराब समय में परिवार में लड़ाई नहीं होनी चाहिए 

spot_imgspot_img

–भाजपा ने दिल्ली की केजरीवाल सरकार को दी नसीहत , बोला हमला    
-वैक्सीन डोज को लेकर झूठ बोल रही है दिल्ली सरकार
– मनीष सिसोदिया के आरोपों का भाजपा ने सिरे से खारिज किया  
-चिटठी का खेला बंद कीजिये,और सहयोग का संस्कार सीखिए : भाजपा

Indradev shukla

नई दिल्ली/ खुशबू पाण्डेय : भारतीय जनता पार्टी ने आज लगातार दूसरे दिन विपक्षी पार्टियों पर हमला बोला और आरोप लगाया कि कोविड टीका, वैक्सीनेशन सहित अन्य कोविड मामलों को लेकर विपक्षी पार्टियों द्वारा देश की जनता को गुमराह किया जा रहा है। भाजपा ने दिल्ली की केजरीवाल सरकार के उन आरोपों को भी सिरे से खारिज कर दिया है, जिसमें उन्होंने विदेश वैक्सीन भेजने, दूसरी कंपनियों को लाइसेंस देने एवं दिल्ली को वैक्सीन नहीं देने का आरोप लगाया है। भाजपा नेता ने कहा कि अरविंद केजरीवाल सहित विपक्षी पार्टियों के कुछ नेता जिस तरह झूठ का भ्रमजाल फैलाए हुए हैं, यह सरासर निंदनीय है। भारत सरकार की सारी संस्थाएं दिन-रात काम कर रही हैं, स्वयं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  हर चीज पर नजर बनाए हुए हैं, लेकिन कुछ नेताओं के पास सिवाय झूठ फैलाने के, कोई काम नहीं रह गया है।

Indradev shukla

आम आदमी पार्टी पर हमला करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने कहा कि अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया वोट की राजनीति आप बाद में कर लेना लेकिन इस वक्त तो ओछी राजनीति न करें। अरविंद केजरीवाल को वैक्सीन का फॉर्मूला नहीं चाहिए, उन्हें तो बस पॉलिटिकली रेलिवेंट बने रहने का फॉर्मूला चाहिए।
भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के झूठ को उजागर करते हुए कहा कि मनीष सिसोदिया ने प्रेस वार्ता कर कहा कि हमने वैक्सीन का ऑर्डर प्लेस किया, लेकिन किसी ने दिया नहीं और केंद्र ने भी केवल 3.5 लाख वैक्सीन डोज ही दिए हैं।

यह भी पढें…BJP चीफ जेपी नड्डा ने सोनिया गांधी को लिखा पत्र, कांग्रेस के प्रस्ताव पर किया पलटवार

मनीष सिसोदिया का यह बयान भी सच्चाई से कोसों दूर है। कल ही दिल्ली सरकार का जो कोविड वैक्सीनेशन बुलेटिन जारी हुआ है, उसमें बताया गया है कि 18 से 44 वर्ष वाले लोगों के लिए केंद्र की ओर से 5.50 लाख वैक्सीन की आपूर्ति हुई है और (11 मई) ही लगभग तीन लाख डोज और आ जायेगी। इसका मतलब, 8 लाख वैक्सीन डोज का हिसाब तो महज कल के दिल्ली सरकार के एक बुलेटिन से सामने आ गया है।
भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि 26 अप्रैल को अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि दिल्ली सरकार ने 1.34 करोड़ वैक्सीन डोज का ऑर्डर प्लेस कर दिया है जबकि दिल्ली सरकार द्वारा लिखे गए लेटर में ऑर्डर प्लेस करने की बात के बजाय ‘प्लानिंग टू प्रोक्योर का जिक्र है। अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया  को प्लानिंग और ऑर्डर के बीच का अंतर पता होना चाहिए।

यह भी पढें…UP : दिव्यांगजन, ग्रामीण महिलाओं, श्रमिकों का होगा वैक्सीनेशन

भाजपा प्रवक्ता ने आज मनीष सिसोदिया द्वारा भारत बायोटेक के जवाबी लेटर दिखाए जाने पर कहा कि भारत बायोटेक का यह लेटर ही दिल्ली की केजरीवाल सरकार की पोल खोलने के लिए काफी है। इस लेटर से स्पष्ट है कि केजरीवाल सरकार ने कोवैक्सीन को खरीदने की इच्छा 07 मई 2021 को जताई थी। केजरीवाल सरकार ने काफी समय बाद महज कुछ दिन पहले 07 मई को भारत बायोटेक को लेटर लिखा जबकि यह ऑर्डर नहीं था बल्कि केजरीवाल सरकार द्वारा वैक्सीन को खरीदने की इच्छा जताई गई थी। वैक्सीन खरीद के लिए एडवांस पेमेंट किया जाता है, ऑर्डर प्लेस किया जाता है जो केजरीवाल सरकार ने अब तक नहीं किया।

यह भी पढें…UP में होम आइसोलेशन के मरीजों को मिलेगी आक्सीजन, निर्देश जारी

डॉ पात्रा ने कहा कि खराब समय में परिवार में लड़ाई नहीं होनी चाहिए। केंद्र सरकार राज्यों को 50 फीसदी वैक्सीन डोज पहले से ही फ्री ऑफ कॉस्ट दी जा रही है। जब टीकाकरण का अभियान हेल्थ वर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए शुरू किया गया था तब तो केजरीवाल जी भी कहते थे कि टीके की कोई कमी नहीं है। आखिर क्यों केवल 60 फीसदी हेल्थ वर्कर्स और 45 फीसदी फ्रंटलाइन वर्कर्स को ही दूसरा डोज दिया गया। अभी भी दिल्ली हाईकोर्ट ने केजरीवाल सरकार को फटकार लगाई है कि कोविड फैसिलिटी बनाइये। भाजपा नेता ने कहा कि चिटठी चिटठी का खेला बंद कीजिये, झूठ की राजनीति बंद कीजिये और सहयोग का संस्कार सीखिए।

spot_imgspot_imgspot_img

Related Articles

epaper

spot_img

Latest Articles

spot_img