spot_img
17.1 C
New Delhi
Tuesday, December 7, 2021
spot_img

सिखों को बड़ा तोहफा, खुला करतारपुर कॉरिडोर, संगत करेगी श्री करतारपुर साहिब के दीदार

spot_imgspot_img

-कोविड प्रोटोकॉल के साथ आज से कोरिडोर का होगा संचालन
–श्री गुरुनानक देव जी के 552वें प्रकाश उत्सव पर जाएगी सिख संगत
–पाकिस्तान में स्थित है श्री करतारपुर साहिब, केंद्र के फैसले से सिख गदगद
-पंजाब भाजपा के नेता तीन दिन से दिल्ली में डाले थे डेरा, राष्ट्रपति, PM से की थी मुलाकात

Indradev shukla

नई दिल्ली /अदिति सिंह : श्री गुरुनानक देव जी के 552वें प्रकाश उत्सव के मौके पर सिख संगतों के लिए केंद्र सरकार ने बड़ा तोहफा देते हुए पाकिस्तान स्थित गुरूद्वारा करतारपुर साहिब के दर्शनों के लिए श्री करतारपुर साहिब कॉरिडोर खोलने का ऐलान किया है। इस कॉरिडोर का संचालन बुधवार 17 नवम्बर से शुरू हो जाएगा। यह गुरूद्वारा गुरु साहिब का महान स्थान के रूप में जाना जाता है और सिखों में इस पवित्र जगह को लेकर अपार श्रद्वा है। कोविड महामारी के चलते यह गलियारा 16 मार्च 2020 को बंद कर दिया गया था। श्री करतारपुर साहिब गलियारे से तीर्थयात्रा की सुविधा मौजूदा प्रक्रियाओं और कोविड प्रोटोकॉल के अनुसार दी जाएगी। गलियारे को खोलने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फैसले की जानकारी खुद गृहमंत्री अमित शाह ने मंगलवार को ट्वीट करके दी है। उन्होंने कहा कि सिख श्रद्वालुओं की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए सरकार ने करतारपुर गलियारे को 17 नवम्बर से फिर से खोलने जा रही है। सरकार का यह निर्णय दर्शाता है कि मोदी सरकार गुरुनानक देव जी में असीम श्रद्वार एवं सिख समुदाय से अपार स्नेह रखती है। इस फैसले से बड़ी संख्या में सिख श्रद्वालुओं को फायदा होगा।
बता दें कि इससे पहले सरकार ने पिछले सप्ताह कहा था कि गुरु नानक देव की जयंती के मौके पर करीब 1500 सिख श्रद्वालुओं के एक जत्थे को 17 से 26 नवम्बर के बीच पाकिस्तान भेजने का फैसला किया गया है। यह जत्था पाकिस्तान स्थित छह पवित्र गुरुद्वारों, दरबार साहिब, श्री पंजा साहिब, श्री ननकाना साहिब, श्री करतारपुर साहिब और गुरूद्वारा श्री सच्चा सौदा की यात्रा करेगा। पाकिस्तान सरकार ने भी कुछ दिन पहले ही करतारपुर गलियारा खोलने की पेशकश की थी।


गौरतलब है कि करतारपुर कॉडिोर को खुलवाने के लिए पंजाब भारतीय जनता पार्टी के प्रतिनिधिमंडल लगातार तीन दिनों से दिल्ली में डेरा जमाए हुए हैं। भाजपा के पंजाब प्रदेश अध्यक्ष अश्वनी शर्मा के नेतृत्व में नेताओं ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, सोमवार को गृहमंत्री अमित शाह, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद एवं भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नडडा से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा था। साथ ही गुरु पर्व से पहले करतारपुर कॉरिडोर खोलने की गुहार लगाई थी।
बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कॉरिडोर का पुन: संचालन शुरू करने के काम में गति लाने के लिए अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठकें कीं। श्री करतारपुर साहिब कॉरिडोर से तीर्थयात्रा की सुविधा मौजूदा प्रक्रियाओं और कोविड प्रोटोकॉल के पालन के अनुसार प्रदान की जाएगी। भारत ने जीरो प्वाइंट, इंटरनेशनल बाउंड्री पर डेरा बाबा नानक में श्री करतारपुर साहिब कॉरिडोर के संचालन के तौर-तरीकों पर पाकिस्तान के साथ 24 अक्तूबर 2019 को एक समझौते पर हस्ताक्षर किए थे। इस दौरान विदेश मंत्रालय, रक्षा मंत्रालय और गृह मंत्रालय के प्रतिनिधियों के साथ पंजाब सरकार के प्रतिनिधि भी उपस्थित थे। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 22 नवंबर 2018 को श्री गुरु नानक देवजी की 550 वीं जयंती के ऐतिहासिक अवसर को पूरे देश और दुनिया भर में भव्य तरीके से मनाने का एक प्रस्ताव पारित किया था। इस ऐतिहासिक फैसले में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने अंतर्राष्ट्रीय सीमा तक डेरा बाबा नानक से श्री करतारपुर साहिब कॉरिडोर के निर्माण और विकास को मंजूरी दी थी ताकि भारत के तीर्थयात्रियों को गुरुद्वारा दरबार साहिब करतारपुर की यात्रा करने में सुविधा हो और यह यात्रा वर्ष भर सुचारू और सुगम तरीके से चल सके।

Indradev shukla
Indradev shukla
Previous article17 November 2021
Next article18 November 2021
spot_imgspot_imgspot_img

Related Articles

epaper

spot_img

Latest Articles

spot_img