27.1 C
New Delhi
Thursday, June 30, 2022

अकाली दल को बड़ा झटका, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कुलदीप भोगल ने छोडी पार्टी, हुए भाजपाई

नई दिल्ली/ खुशबू पाण्डेय : शिरोमणि अकाली दल (बादल) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं 1984 सिख दंगा पीडि़त राहत कमेटी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सरदार कुलदीप सिंह भोगल वीरवार को भाजपाई हो गए। भाजपा के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता एंव राष्ट्रीय प्रवक्ता सरदार आरपी सिंह की मौजूदगी में कुलदीप भोगल दर्जनों साथियों के साथ भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। आदेश गुप्ता ने सरदार कुलदीप सिंह भोगल को पटका पहनाकर भाजपा परिवार में स्वागत किया। साथ ही कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अगुवाई में सिख समाज ने भाजपा पर जो भरोसा जताया है आज उसी का नतीजा है कि इतने वरिष्ठ नेता सहित सैकड़ों सिख समाज के गणमान्य पार्टी में शामिल हो रहे हैं। अनुभवी नेता के आने से पार्टी को मजबूती मिलेगी। उन्होंने कहा कि भोगल के भाजपा में शामिल होना उन सभी लोगों के मुंह पर यह एक जोरदार तमाचा है जो यह कहते थे कि मोदी सरकार सिख विरोधी है।

-पूरी टीम के साथ थामा भाजपा का दामन, अध्यक्ष ने किया स्वागत
– ऐसा लग रहा है कि मैं अपने परिवार में वापस आ गया हूं : भोगल
– 36 साल से संगठन बनाकर 1984 सिख दंगों की लड़ रहे हैं लड़ाई

भाजपाई होते ही सरदार कुलदीप सिंह भोगल ने कहा कि आज भाजपा में शामिल होकर ऐसा लग रहा है कि मैं अपने परिवार में वापस आ गया हूं। पिछले 36 सालों से 84 के दंगों को जिंदा रखने की प्रेरणा अगर मुझे मिली तो वह भाजपा के नेता स्व. अटल बिहारी बाजपेयी थे। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का धन्यवाद देते हुए कहा कि जिस 84 दंगों के दोषियों को सजा देने से बाकी पार्टियां पीछे हटती रही, लेकिन मोदी सरकार ने उन सभी दोषियों को चिह्नित किया है और अब एक-एक कर सजा देने का काम भी शुरु कर दिया गया है।
इस मौके पर भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि मोदी सरकार में सिख दंगे के दोषीयों को सज़ा दिलवाने का काम बहुत तेजी से हुआ है। कांग्रेस नेताओं को समाज विरोधी बताते हुए कहा कि सिख भाईयों की दुकान जलाने, लूटने और उनकी हत्या करने का जो षडयंत्र रचा गया था, उसका पर्दाफाश प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया है। मोदी सरकार ने सिख समाज को लगातार सम्मान देने का काम किया है। उनकी धार्मिक भावनाओं को एक अलग पहचान और गौरव बढ़ाने का काम किया है।
गुप्ता ने कहा कि कांग्रेस हमेशा से ही सिखों को अपनी राजनीति फायदें के लिए इस्तेमाल करती रही है। लेकिन उन्हें उनका हक और सम्मान देने का काम मोदी सरकार ने किया है। चाहे वह अफगानिस्तान से आए सिख भाईयों को सम्मान देना हो, पाकिस्तान के अंदर करतारपुर कॉरिडोर बनाना हो या फिर उदारवादी रवैया दिखाते हुए प्रधानमंत्री ने किसानों और सिखों के एतराज जताने पर कृषि कानून को वापस लेने की बात हो। गुप्ता ने सिख समाज को आश्वस्त करते हुए कहा कि अगर सिख समाज के अंदर पार्टी को लेकर चाहे राजनीति या फिर भ्रम के कारण किसी भी प्रकार का एतराज या शिकायत है, तो उसे लेकर प्रदेश भाजपा एक अभियान चलाएगी ताकि उन्हें दूर किया जा सके।

1984 दंगों के सभी दोषियों को सजा दिलाएंगे : आरपी सिंह

बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सरदार आर पी सिंह ने कहा कि भाजपा में शामिल हुए सरदार कुलदीप सिंह भोगल ने जिस तरह से सिख दंगों में पीडि़तों को न्याय दिलाने की लड़ाई निस्वार्थ भाव से लड़ी है, ऐसा बहुत कम होता है। सिखों के अंदर जो 1984 दंगे की छाप है, उसे भुलाया नहीं जा सकता। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के आने के बाद और अब भोगल के भाजपा में शामिल होने पर हम सब मिलकर 84 के दंगों के सभी दोषियों को सजा दिलाने का प्रयास करेंगे और सिखों के बीच भाजपा की छवि पहले से ज्यादा मजबूत होगी।

Related Articles

epaper

Latest Articles