28 C
New Delhi
Monday, March 1, 2021

दिल्ली में खुलेगा रोजगार केंद्र, सिख युवाओं को मिलेगी नौकरी

—सिख युवाओं को रोजगार दिलाने के लिए बड़ी ‘सियासी पहल’
–दिल्ली में खुलेगा रोजगार केंद्र, योग्यता के हिसाब से मिलेगी नौकरी
–100 सिख युवाओं को प्रतिवर्ष भेजेंगे इटली और कनाडा
–दिल्ली, मुबंई, कोलकाता, बंगलौर और विदेशी कंपनियों से बातचीत
–सिख युवाओं का भविष्य बनाने को पहली बार हुई कोशिश

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल : दिल्ली सिख गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी के चुनाव से पहले प्रमुख विपक्षी दल शिरोमणि अकाली दल (दिल्ली) ने आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति से अलग हटते हुए बेरोजगार सिख युवाओं के लिए एक बड़ी पहल की है। पार्टी युवाओं को रोजगार दिलाने के लिए बाकायदा ‘सिख रोजगार केंद्र’ खोलने जा रही है। रोजगार केंद्र में युवाओं से आवेदन लिया जाएगा और उनकी योग्यता के अनुसार उन्हें दिल्ली एवं देश-विदेश की बड़ी कंपनियों में रोजगार मुहैया करवाया जाएगा। इसके लिए कुछ कंपनियों से बात भी कर ली है। खास बात यह है कि हर वर्ष 100 से अधिक सिख युवाओं को विदेश (कनाडा और इटली) भी भेजा जाएगा, जहां उन्हें योग्यता के अनुसार नौकरी मिलेगी। पार्टी के प्रधान महासचिव हरविंदर सिंह सरना ने दावा किया कि वह सिख युवाओं का भविष्य बनाने के लिए पूरी ताकत झोंक देंगे। उनका यह अभियान अब लगातार जारी रहेगा। सरना की माने तो विदेशों में प्लबंर, इलेक्ट्रीशियन, कारपेंटर आदि कार्यों की बहुत डिमांड है। इन कार्यों के लिए युवाओं को प्रशिक्षित किया जाएगा और उन्हें दिल्ली, मुबंई, कोलकाता, बंगलौर, सहित अन्य शहरों में रोजगार दिलाया जाएगा। सरना के मुताबिक सिख युवाओं को रोजगार प्रदान करना एक बहुत ही महत्वपूर्ण मुद्दा है, जिसे संस्थानों द्वारा नजरअंदाज कर दिया जाता है। लेकिन, अब ऐसा नहीं होगा।उनकी कोशिश होगी कि दिल्ली, पंजाब सहित अन्य शहरों में जहां भी सिख नौजवान बेरोजगार हैं उनकी रोजगार केंद्र के जरिये पहचान की जाएगी और उन्हें रोजगार मुहैया करवाने की कोशिश की जाएगी। रोजगार केंद्र के लिए दिल्ली में बाकायदा कंट्रोल रूम बनाया जाएगा, और बेवसाइट भी होगी, जिसके जरिये रोजगार की पूरी जानकारी उपलब्ध करवाई जाएगी। सरना के मुताबिक गरीब तपके के प्रशिक्षित युवाओं को विदेश भेजने के लिए वह वीजा भी अपनी तरफ से मुहैया करवाएंगे।

टीचरों को 30 तारीख को ही मिलेगी सैलरी 

शिरोमणि अकाली दल (दिल्ली) के प्रधान महासचिव हरविंदर सिंह सरना ने कहा कि दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी में अगर उनकी पार्टी को सत्ता मिलती है तो वह पूरी तस्वीर बदल देंगे। साथ ही टीचरों सहित प्रत्येक कर्मचारियों को 30 तारीख को ही सैलरी दे देंगे। इसके लिए बाकायदा बैकअप लेकर चलेंगे। सरना ने दावा किया कि टीचरों के रिटायर होने पर उन्हें उसी दिन ग्रुेच्युटी सहित सभी भत्ते दे दिये जाएंगे, ताकि उन्हें भटकना ना पड़े। इसके अलावा बोर्ड की परीक्षा में 100 प्रतिशत रिजल्ट देने वाले अध्यापकों को अतिरिक्त इंक्रीमेंट देने की व्यवस्था शुरू करेंगे। साथ ही अध्यापकों को हाईटेक एवं अत्याधुनिक शैक्षणिक शिक्षा की ट्रेनिंग भी कमेटी की तरफ से दिलवाएंगे।

Related Articles

epaper

Latest Articles