spot_img
27.1 C
New Delhi
Saturday, September 18, 2021
spot_img

दिल्ली कमेटी की धार्मिक अवज्ञा पर जागो ने की क्षमा याचना की अरदास

– मीडिया कर्मियों पर कमेटी स्टाफ के हमले की जीके ने निंदा की

– मीडिया की आज़ादी छीनने को अपना अधिकार न समझे कमेटी : जीके

नई दिल्ली, टीम डिजिटल: गुरुद्वारा रकाबगंज साहिब (Gurdwara Rakabganj Sahib) के कोविड सैंटर में फिल्मी गीत बजाने के कारण मर्यादा की उड़ी धज्जियों के पश्चाताप के लिए आज जागो पार्टी के द्वारा समूह संगतों के सहयोग से क्षमा याचना की अरदास की गई। गुरु तेग बहादर साहिब जी के चरणों में चौपई साहिब व आनंद साहिब की बाणी का पाठ करने के बाद जागो के प्रदेश अध्यक्ष तथा दिल्ली कमेटी सदस्य चमन सिंह के द्वारा अरदास की गई।
जागो पार्टी के अन्तर्राष्ट्रीय अध्यक्ष मनजीत सिंह जीके (Manjit Singh GK) ने अरदास के बाद पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि गुरु तेग बहादर साहिब जी के चरणों में हमने अरदास की है कि मर्यादा से अनजान प्रबंधकों को गुरु साहिब अक्ल बख्शें और हुए उनके गुनाहों को माफ करें। जीके ने दावा किया कि यह सीधे तौर पर गुरबाणी को फिल्म गीतों से छोटा दिखाने की दिल्ली कमेटी प्रबंधकों की साज़िश के नाकाम होने के बाद जरुरी था कि इस बड़े गुनाह की क्षमा याचना गुरु साहिब के चरणों में की जाए। हमारे लिए गुरु साहिब, मर्यादा और गुरबाणी सर्वोच्च है। लेकिन हमें अरदास करने से रोकने के लिए व्याकुल अकाली समर्थकों ने सोशल मीडिया पर धमकी और बदमाशी भरें संदेश कल देर रात तक खूब चलाए, ताकि हम अरदास करने का फैसला वापस ले लें।

prayer

यह भी पढ़े… जागो पार्टी के अध्यक्ष मनजीत सिंह जी.के ने कौम के साथ किया धोखा : कालका

हम मर्यादा बचाने आए हैं, तोड़ने नहीं
जीके ने कहा कि अरदास करने का फैसला वापस लेने का मतलब ही नहीं था, इसलिए मैंने अपने साथियों को गुरुद्वारा रकाबगंज साहिब में साफ कह दिया था कि हम मर्यादा बचाने आए हैं, तोड़ने नहीं, सब अनुशासन में रहेंगे और किसी के उकसावे में नहीं आएंगे। जीके ने सभी का अनुशासन में रहने पर धन्यवाद करते हुए कहा कि सभी साथियों ने वर्किंग-डे और तपती गर्मी होने के बावजूद धार्मिक मर्यादा के प्रति अपनी जिम्मेदारी निभाने को अनुशासन में रहकर प्राथमिकता दी है और साबित किया कि हमारा हुल्लड़बाजी में विश्वास नहीं है।बदमाशी पर उतरे बादलों के बेसमझों को नसीहत देते हुए जीके ने कहा कि डरते क्यों हो, घबराते क्यों हो, दुनिया भर के इल्ज़ाम मेरे पर लगा दिए, पर मैंने तो किसी का कैमरा नहीं छीना ? मुकाबला करो, क्योंकि तुमने गुरुद्वारा कमेटी की चौधराहट हथियाई हैं, आज अगर तुमने हथियाई है, तो जवाबदेही भी तुम्हारी है।

यह भी पढ़े… दुनिया की सबसे जवान दादी ने अपनी खूबसूरती का किया खुलासा

जीके ने मीडिया कर्मियों के साथ की गई बत्तमीजी पर कही ये बात
जीके ने सोमवार को कमेटी दफ्तर में मीडिया कर्मियों के साथ स्टाफ द्वारा की गई बदमाशी की निंदा करते हुए कहा कि गुरु तेग बहादुर साहिब जी ने धर्म की आजादी के लिए अपनी शहादत दी थी, पर यह मीडिया की आज़ादी छीनने को अपना अधिकार समझ रहे हैं। मेरे खिलाफ इतना बुरा-भला मीडिया ने छापा, पर हमने कभी किसी के कैमरों को छीनकर बदमाशी नहीं की। गुरुद्वारा रकाबगंज साहिब में आने से खुद को रोकने की धमकी देने वालों को सचेत करते हुए जीके ने कहा कि यह भूल गए कि मैं सज्जन कुमार और जगदीश टाइटलर से नहीं डरा, खालिस्तान के नाम पर अपनी दुकान चलाने वाले मुझे नहीं डरा पाए, गुरुद्वारा शीशगंज साहिब का प्याऊ टूटने के बाद दिल्ली हाईकोर्ट की चेतावनी मुझे गुरुद्वारा शीशगंज साहिब जाने से नहीं रोक पाई थी। तब भी मैंने कोर्ट को कहा था कि आप मुझे जेल भेज सकते हैं, पर गुरूद्वारा शीशगंज जाने से नहीं रोक सकते। इस मौके बड़ी संख्या में जागो पार्टी के उम्मीदवार तथा पदाधिकारी मौजूद थे।

Related Articles

epaper

Latest Articles