27.1 C
New Delhi
Thursday, June 30, 2022

श्री दरबार साहिब में बेअदबी की जांच करेगी SIT, 2 दिन में देगी रिपोर्ट

अमृतसर /नेशनल ब्यूरो : अमृतसर स्थित श्री दरबार साहिब में शनिवार शाम बेदअदबी की कोशिश मामले की जांच अब विशेष जांच दल (एसआईटी) करेगी। पंजाब सरकार ने रविवार को एसआईटी का गठन भी कर दिया है। घटनाक्रम से परिचित लोगों ने बताया कि एसआईटी की अगुवाई अमृतसर पुलिस के डिप्टी कमिश्नर (कानून और व्यवस्था) करेंगे। एसआईटी दो दिनों में घटना पर अपनी रिपोर्ट देगी।
दरअसल, शनिवार को श्री दरबार साहिब में उस समय अफरातफरी मच गई जब 20-22 साल का शख्स सच्चखंड के अंदर माथा टेकने वाले स्थान पर लगी रेलिंग को फांद कर श्री गुरु ग्रंथ साहिब के नजदीक पहुंच गया था जिसे सेवकों ने तुरंत पकड़ लिया। सेवक व्यक्ति को पकड़ कर पुलिस के हवाले करने के लिए ले जा रहे थे तभी लोगों की भीड़ ने उस पर हमला कर दरबार साहिब परिसर में ही उसकी हत्या कर दी।
वहां, मौजूद कुछ लोगों ने बताया कि युवक ने श्री गुरु ग्रंथ साहिब के सामने रखी किरपाण को भी उठाने का प्रयास किया था। इस पूरे घटनाक्रम का एक वीडियो भी सामने आया है। घटना के कुछ देर बाद पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने जांच के आदेश दे दिए थे। दूसरी ओर विपक्षी पार्टियां मामले की केंद्रीय एजेंसी से जांच की मांग की थी।
इस बीच पंजाब के उपमुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने रविवार को अमृतसर में पुलिस अधिकारियों से मुलाकात की। श्रीदरबार साहिब में कथित बेअदबी के प्रयास की निंदा की और कहा कि मामले में सभी पहलुओं की जांच की जा रही है। रंधावा ने कहा कि अमृतसर घटना के आरोपी की अभी तक पहचान नहीं हो पाई है। अधिकारियों के साथ बैठक के बाद रंधावा ने कहा कि यह एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। ऐसा लगता है कि आरोपी शख्स अपवित्र करने की सोच के साथ यहां आया था। उन्होंने आगे कहा कि वह शख्स आठ से नौ घंटे तक था। उसकी अभी तक पहचान नहीं पो पाई हैं। हम इस मामले की जांच करेंगे।

—पंजाब सरकार ने एसआईटी का गठन किया, सिखों ने घटना की निंदा की
—पंजाब के मुख्यमंत्री पहुंचे श्री दरबार साहिब,कहा—चुनाव की वजह हुई होगी बेअदबी की घटना

सिखों के पवित्र स्थल श्री दरबार साहिब में शनिवार शाम को हुई बेअदबी की कोशिश का क्या विधानसभा चुनाव से कोई कनेक्शन है? विपक्ष जहां इसे पहले से कोई साजिश बता रहा है तो अब पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने भी कहा है कि इस घटना को चुनाव की वजह से अंजाम दिया जाना संभव है। दरबार साहिब में बेअदबी की कोशिश के बाद आरोपी युवक की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी। घटना के एक दिन बाद स्वर्ण मंदिर में मत्था टेकने पहुंचे चन्नी ने लोगों से राज्य में शांति और सभी धर्मों के सम्मान की अपील की और आशंका जाहिर की कि घटना के पीछे चुनाव भी वजह हो सकती है। उन्होंने पत्रकारों से बात करते हुए कहा, हम राज्य के लोगों से सभी धर्मों के धार्मिक स्थलों के सम्मान और सुरक्षा की अपील करते हैं। हो सकता है कि कुछ बुरे तत्व विधानसभा नजदीक होने की वजह से ऐसा कर रहे हों। हमारी एजेंसियां जांच कर रही हैं। चन्नी ने कहा कि राज्य की एजेंसियां और पुलिस असमाजिक तत्वों के ऐसे प्रयासों को रोकने में जुटी हैं। उन्होंने कहा कि लोग सर्तक रहें और कानून-व्यवस्था बनाए रखने में पूरे मन से सरकार का सहयोग करें। मुख्यमंत्री ने शहर में पुलिस और प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ स्थिति की समीक्षा की।

Related Articles

epaper

Latest Articles