spot_img
27.1 C
New Delhi
Friday, September 17, 2021
spot_img

गुरु तेग बहादर के 400वें प्रकाश पर्व को मनाने की अनोखी पहल

–गुरबाणी के प्रचार को लेकर घर-घर जाएगी जागो पार्टी
-उनकी रचना नौवें महले के श्लोकों के पाठ की शुरुआत
–यह मुहिम गुरु साहिब के प्रकाश पर्व अप्रैल 2021 तक चलेगी

नई दिल्ली /टीम डिजिटल : तिलक और जनेऊ की रक्षा के लिए 1675 ईस्वी में शहीद होने वाले श्री गुरु तेग बहादर साहिब के प्रकाश पर्व की चौथी शताब्दी को समर्पित उनकी रचना नौवें महले के श्लोकों के पाठ की लड़ी की शुरुआत आज यहां शुरू की गई। इसको लेकर दिल्ली के घर-घर तक गुरु तेग बहादर साहिब का इतिहास तथा उनकी बाणी को पहुंचाने की यह मुहिम गुरु साहिब के प्रकाश पर्व अप्रैल 2021 तक जारी रहेंगी। यह मुहिम जागो पार्टी की कौर ब्रिगेड और धर्मप्रचार कमेटी की तरफ से की जाएगी। इसको लेकर दिल्ली में समागम आयोजित किया गया।

इसे भी पढें…दिल्ली में खुलेंगे सारे होटल और साप्ताहिक बाजार

इस अवसर पर जागो पार्टी के अध्यक्ष मनजीत सिंह जीके ने अपने विचार रखते हुए गुरु साहिब की शहादत के कारणों पर रोशनी डाली। साथ ही कहा कि जागो पार्टी ने गुरु तेग बहादर साहिब के प्रकाश की चौथी शताब्दी को मनाने के लिए तड़क-भड़क से दूर रहकर गुरबाणी से संगत को जोडऩे के लिए उक्त मुहिम की शुरुआत की है। गुरु साहिब का सारा जीवन सादा तथा वैराग्य से भरपूर परमात्मा की भक्ति करने वाला था। यही कारण था कि औरंगजेब जैसे क्रूर शासक के सामने झुकने की जगह गुरु साहिब ने मानवाधिकारों तथा दुसरे धर्म के चिन्हों तथा धार्मिक स्वतंत्रता के लिए अपना शीश कटवाना मंजूर किया।

इसे भी पढें...गुरुद्वारा कमेटी में ड्रेस कोड अनिवार्य, दाढ़ी रंगी तो खतरे में नौकरी

जीके ने कहा कि गुरु तेग बहादर साहिब की बाणी जीवन जांच का खजाना है। इसलिए उनकी रचना नौवें महले के श्लोकों का महत्व संगत तक पहुँचाने के लिए मुहिम शुरू की गई है। आज का युवा अवसाद से ग्रस्त होकर आत्महत्या करने पर इस समय उतारू है, पर नौवें महले के श्लोक इंसान को प्रभु भक्ति में अपने आप को समर्पित करके जीवन जीने की कला सिखाते है तथा अवसाद से बाहर निकालने में सक्षम है। इस मौके पार्टी के पदाधिकारी बड़ी संख्या में मौजूद थे।

Related Articles

epaper

Latest Articles