29 C
New Delhi
Sunday, April 11, 2021

ताश के पत्तों की तरह बिखर गई भारतीय क्रिकेट टीम

—टॉस गंवाना पड़ा महंगा, फ्लॉप हुआ बल्लेबाजी

अहमदाबाद /टीम डिजिटल : देश के पहले नरेंद्र मोदी क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए पहले टी20 मैच में टीम इंडिया को इंग्लैडं के हाथों 8 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। भारत की टीम के लिए इस मैच में कुछ भी सही नहीं घटा। टॉस गंवाकर बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम इंग्लिश गेंदबाजों के आगे ताश के पत्तों की तरह बिखर गई और 20 ओवर में महज 124 रन ही बना सकी। गेंदबाजी में टीम के गेंदबाज शुरुआत में सफलता दिलाने में नाकाम रहे और रनगति पर भी लगाम नहीं लगा सके।
ओस को देखते हुए पहले टी20 मैच में टॉस को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा था। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली इस मामले में अनलकी रहे और टॉस नहीं जीत सके। पिच से शुरुआत में तेज गेंदबाजों को अच्छा उछाल मिला, जिसका पूरा फायदा जोफ्रा आर्चर और मार्क वुड ने उठाया और भारतीय बल्लेबाजों को बैकफुट पर ढकेल दिया। भारत ने पावरप्ले के अंदर अपने तीन बड़े विकेट गंवाए, जिसके बाद टीम की पारी संभल नहीं सकी। भारत की बल्लेबाज इंग्लिश गेंदबाजों के सामने हर रन के लिए जूझते नजर आए। रोहित को आराम दिए जाने पर केएल राहुल (1) और शिखर धवन (4) ने टीम की तरफ से पारी की शुरुआत की,लेकिन दोनों ही बल्ले से कुछ खास नहीं सके। कप्तान विराट कोहली बिना खाता खोले आदिल राशिद की गेंद पर जोर्डन को कैच देकर पवेलियन लौटे। ऋषभ पंत (21) और हार्दिक पांड्या (19) ने शुरुआत तो अच्छी की, लेकिन अपनी पारी को तब्दील नहीं कर सके।

कप्तान कोहली शून्य पर आउट

विराट कोहली की टेस्ट सीरीज की खराब फॉर्म पहले टी20 मैच में भी जारी रही। कोहली पांच गेंदों का सामना करने के बाद बिना खाता खोले आदिल राशिद की गेंद पर क्रिस जोर्डन को कैच देकर पवेलियन लौटे। कोहली टेस्ट सीरीज के दौरान भी दो दफा जीरो पर आउट हुए थे। चौथे टेस्ट में बेन स्टोक्स ने और दूसरे टेस्ट में मोईन अली ने उनको शून्य पर आउट किया था।

शुरुआती विकेट नहीं दिला सके गेंदबाज

125 रनों का लक्ष्य इंग्लैंड के सामने रखने के बाद मैच का पूरा दारोमदार भारतीय गेंदबाजों के ऊपर था। हालांकि, टीम के बॉलिंग अटैक ने अपनी गेंदबाजी से काफी निराश किया और पावरप्ले के अंदर जमकर रन लुटाए। जेसन रॉय और जोस बटलर की जोड़ी ने पहले 7.6 ओवर में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए पहले विकेट के लिए 72 जोड़े। रॉय और बटलर की जोडी के सामने कोई भी भारतीय गेंदबाज कारगर साबित नहीं हुए।

युजवेंद्र चहल की पिटाई पड़ी महंगी

कप्तान विराट कोहली और सभी भारतीय फैन्स को युजवेंद्र चहल से काफी उम्मीदें थे और यह माना जा रहा था कि बोर्ड पर कम स्कोर होने के चलते चहल के चार ओवर काफी महत्वपूर्ण होंगे। काफी समय बाद मैदान पर उतरे चहल की इंग्लिश बल्लेबाजों ने जमकर खबर ली और उनको दबाव बनाने का कोई मौका नहीं दिया। आलम यह रहा कि चहल ने पहले टी20 में सबसे महंगे गेंदबाज साबित हुए। लेग स्पिनर ने अपने चार ओवर में 44 रन लुटाए और जोस बटलर का विकेट अपने नाम किया।

Related Articles

epaper

Latest Articles