17.1 C
New Delhi
Sunday, December 4, 2022

बेटी को खादी लाउंज का ठेका देने पर घिरे LG, आप ने मांगा इस्तीफा

नयी दिल्ली/, अदिति सिंह । आम आदमी पार्टी (आप) ने शनिवार को आरोप लगाया कि दिल्ली के उपराज्यपाल वी. के. सक्सेना ने खादी विकास एवं ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईएस) के अध्यक्ष पद पर रहते हुए अपने पद का दुरुपयोग किया और एक खादी लाउंज की आंतरिक साजसज्जा (इंटीरियर डिजाइनिंग) का ठेका अपनी बेटी को दिया था। पार्टी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से तत्काल सक्सेना को बर्खास्त करने की मांग की।

आप के राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए यह भी मांग की कि कानून का उल्लंघन कर अपनी बेटी को कथित तौर पर ठेका देने के लिए सक्सेना के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए। सिंह ने आरोप लगाया, उपराज्यपाल सक्सेना ने केवीआईसी के अध्यक्ष के तौर पर अपने कार्यकाल के दौरान अपने पद का दुरुपयोग किया तथा मुंबई में एक खादी लाउंज की आंतरिक साजसज्जा का ठेका अपनी बेटी को दिया। ठेका देने में उन्होंने केवाईआईसी कानून, 1961 के प्रावधानों का उल्लंघन किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को दिल्ली के उपराज्यपाल के तौर पर सक्सेना को फौरन बर्खास्त करना चाहिए तथा अपनी बेटी को अवैध तरीके से ठेका देने के लिए उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जानी चाहिए।

सिंह ने कहा कि ‘आप अपने वरिष्ठ वकीलों के साथ विचार-विमर्श कर रही है और मामले में अदालत का रुख करने की तैयारी कर रही है। उन्होंने कहा, ”दिल्ली के उपराज्यपाल अपने गलत कृत्यों की जवाबदेही से बच नहीं सकते। हम इस मामले में जल्द ही अदालत का रुख करेंगे क्योंकि ठेका देने में उचित प्रक्रिया का पालन नहीं किया गया। ‘आप नेता ने पूछा, केवाईआईसी के अध्यक्ष अपने रिश्तेदार को ठेका कैसे दे सकते हैं? संजय सिंह ने बृहस्पतिवार को Twitter पर सक्सेना से पूछा था कि क्या उन्होंने खादी और केवीआईसी के प्रमुख के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान अपनी बेटी को बिना किसी निविदा के ठेका दिया था।’AAP’ के सांसद के आरोपों पर प्रतिक्रिया देते हुए उपराज्यपाल कार्यालय ने Tweet किया था कि सक्सेना ने केवीआईसी के अध्यक्ष के रूप में मुंबई के एक खादी लाउंज का डिजाइन अपने बेटी से मुफ्त बनवाया था, जो एक डिजाइनर है। राजनिवास के स्पष्टीकरण पर सवालों के जवाब में ङ्क्षसह ने कहा कि केवीआईसी कानून में स्पष्ट रूप से उसके अधिकारियों को अपने परिवार के सदस्यों को कोई ठेका या काम देने पर पाबंदी है। उन्होंने पूछा, ”यह किस तरह की दलील है? सौरभ भारद्वाज (आप नेता) कम्प्यूटर इंजीनियर है और वह सेंट्रल विस्टा के आईटी का काम मुफ्त में करना चाहते हैं। हमारे प्रवीण देशमुख (आप विधायक) एक एमबीए डिग्री धारक हैं और वह प्रधानमंत्री कार्यालय का कामकाज मुफ्त में देखना चाहते हैं…क्या उन्हें यह काम दिया जाएगा?

‘AAP’ सांसद ने कहा कि केवीआईसी को नियमों के अनुसार खादी लाउंज की आंतरिक साजसज्जा का काम देने में उचित प्रक्रिया का पालन करना चाहिए और अगर वह चाहता है कि काम मुफ्त में किया जाए तो उसे सर्वश्रेष्ठ इंटीरियर डिजाइनर को मौका देने के लिए खुली निविदा आमंत्रित करनी चाहिए थी।ÓÓ उन्होंने पूछा, ”क्या उचित प्रक्रिया का पालन किया गया? क्या इस काम के लिए इंटीरियर डिजाइनर की निशुल्क सेवा देने के लिए कोई निविदा दी गयी या खुला निमंत्रण दिया गया। क्या देश में सक्सेना की बेटी ही सबसे अ’छी इंटीरियर डिजाइनर हैं? संजय सिंह ने आरोप लगाया कि सक्सेना ने मुंबई खादी लाउंज के इंटीरियर डिजाइनिंग का काम अपनी बेटी से कराया और उनके पेशेवर फायदे के लिए लाउंज की उद्घाटन पट्टिका पर उनका नाम भी लिखवाया।

Related Articles

epaper

Latest Articles