spot_img
10.1 C
New Delhi
Tuesday, January 18, 2022
spot_img

दिल्ली के कोरोना योद्धा टीचर के परिवार को सरकार ने दिया एक करोड़ रुपए की सहायता

spot_imgspot_img
  • सरकार का ऐलान, मारे गए टीचर के बड़े बेटे को नौकरी भी देंगे
  • कल्याणवासी स्थित आरएसबीवी में शिक्षक थे शिवजी मिश्रा
  • अपनी अंतिम सांस तक लोगों की सेवा की- अरविंद केजरीवाल
Indradev shukla

नई दिल्ली, टीम डिजिटल: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने आज कोरोना योद्धा स्वर्गीय शिवजी मिश्रा (shivji mishra) के परिजनों से मुलाकात की और उन्हें एक करोड़ रुपए की सहायता राशि का चेक सौंपा। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वर्गीय शिवजी मिश्रा कल्याणवासी स्थित आरएसबीवी में शिक्षक थे और वह मेहनती और कर्मठ शिक्षक थे। उन्होंने अपनी अंतिम सांस तक लोगों की सेवा की। हम उनकी कमी को पूरा तो नहीं कर सकते, लेकिन मुझे उम्मीद है कि इस आर्थिक मदद से उनके परिवार को थोड़ी मदद मिलेगी। हम दिल्ली सरकार में उनके बेटे को नौकरी भी देंगे।

सीएम केजरीवाल ने कोरोना योद्धा स्वर्गीय शिवजी के परिवार से की मुलाकात

Indradev shukla

मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने आज कोरोना योद्धा स्वर्गीय शिवजी के घर जाकर उनके परिजनों से मुलाकात की और दिल्ली सरकार की तरफ से उनके परिजनों को एक करोड़ रुपए की सहायता राशि का चेक सौंपा। इस दौरान उन्होंने परिवार के सदस्यों को बातचीत कर ढांढस भी बढ़ाया और भविष्य में जरूरत पड़ने पर हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि स्वर्गीय शिवजी मिश्रा हमारे दिल्ली सरकार के स्कूल में शिक्षक थे। वह बहुत ही मेहनती और कर्मठ शिक्षक थे। कोरोना काल के दौरान उनकी ड्यूटी लगी थी और उसी दौरान वे कोरोना (Corona) से संक्रमित हो गए थे और कोरोना की वजह से उनकी मौत हो गई।

दिल्ली सरकार की तरफ से एक करोड़ रुपए की सहायता

सीएम ने कहा कि उनकी मृत्यु की वजह से उनके परिवार पर जो गुजर रही है, उसे मैं समझ सकता हूं। हम उनकी कमी को तो पूरा नहीं कर सकते हैं। आज मैंने दिल्ली सरकार की तरफ से उनके परिवार को एक करोड़ रुपए की सहायता राशि का चेक प्रदान किया है। वह अपने पीछे अपनी पत्नी और दो बच्चों को छोड़ गए हैं। उनका बड़ा बेटा अभी नौकरी की तैयारी कर रहा है। हम दिल्ली सरकार में उनको नौकरी देंगे। परिवार को कभी भी मदद की जरूरत होगी, हम मदद करने का प्रयास करेंगे। परिवार अपने आपको अकेला न समझे। सरकार हमेशा उनके साथ है।

कोरोना योद्धा स्वर्गीय शिवजी मिश्रा का संक्षिप्त परिचय

मूलरूप से दिल्ली के रहने वाले स्व. शिवजी मिश्रा पेशे से शिक्षक थे। वह कल्याणवासी स्थित आरएसबीवी में बातौर टीजीटी (अंग्रेजी) तैनात थे। इस स्कूल में प्रवासी मजदूरों की स्क्रीनिंग, उनकी आवाजाही, उन्हें भोजन उपलब्ध कराने और अस्थाई ठहरने (रात्रिभोज) की व्यवस्था की गई थी और स्व. शिवजी मिश्रा ने भी स्कूल में कोविड-19 ड्यूटी (COVID-19 Duty) के तहत काम किया। ड्यूटी के दौरान वे कोरोना से संक्रमित हो गए थे और तबियत बिगड़ने पर उन्हें 04 जून 2020 को सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था। कोविड के चलते 07 जून 2020 को उनका निधन हो गया। वह 1999 से शिक्षण कार्य कर रहे थे। परिवार में उनकी पत्नी श्रीमती सरोज मिश्रा (Saroj Mishra), बड़ा बेटा पीयूष कुमार और छोटा बेटा आयुष कुमार हैं। पत्नी गृहिणी हैं। बड़ा बेटा जॉब की तैयारी कर रहा है और छोटा बेटा बारहवीं कक्षा में पढ़ रहा है।

spot_imgspot_imgspot_img

Related Articles

epaper

spot_img

Latest Articles

spot_img