spot_img
29.1 C
New Delhi
Wednesday, June 16, 2021
spot_img

दिल्ली में जहां वोट, वहीं होगा वैक्सीनेशन 

– सीएम अरविंद केजरीवाल ने राजकीय सर्वोदय विद्यालय में ‘जहां वोट, वहीं वैक्सीनेशन’ के तहत वैक्सीनेशन सेंटर का दौरा कर लोगों को वैक्सीन लगावाने के लिए प्रोत्साहित किया
– दिल्ली सरकार की इस मुहिम से लोग बहुत खुश हैं, हमने घर से वैक्सीनेशन सेंटर तक आने-जाने के लिए ई-रिक्शे का भी इंतजाम किया है- अरविंद केजरीवाल
– जैसे मतदान से पहले बीएलओ घर-घर जाकर पर्ची देते हैं, उसी तरह वैक्सीन लगवाने के लिए स्लाॅट की पर्ची दे रहे हैं- अरविंद केजरीवाल
– जो लोग स्लाॅट मिलने के बावजूद वैक्सीन नहीं लगवाने आएंगे, दोबारा बीएलओ उनके घर जाकर उनकी सभी शंकाओं को दूर करेंगे- अरविंद केजरीवाल
– वैक्सीन को लेकर लोगों के मन में तरह-तरह की अफवाहें फैली हैं, उनको दूर करने की जिम्मेदारी हम सब की है- अरविंद केजरीवाल
– अगले चार हफ्ते के अंदर पूरी दिल्ली में 45 साल से उपर की उम्र के सभी लोगों को वैक्सीन की पहली डोज लगा दी जाएगी- अरविंद केजरीवाल
– हमारा चुनाव का प्रशासनिक ढांचा बहुत शानदार है, अगर हम पूरे देश में इसका इस्तेमाल करें, तो दो से तीन महीने में सबको वैक्सीन लगा सकते हैं- अरविंद केजरीवाल
नई दिल्ली, टीम डिजिटल: मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) ने आज लांसर रोड स्थित राजकीय सर्वोदय विद्यालय में ‘जहां वोट, वहीं वैक्सीनेशन’ अभियान के तहत वैक्सीनेशन सेंटर का दौरा किया और 45 साल से अधिक उम्र के लोगों को आगे बढ़कर वैक्सीन लगावाने के लिए प्रोत्साहित किया। सीएम ने कहा कि दिल्ली सरकार की इस मुहिम से लोग बहुत खुश हैं। हमने घर से सेंटर तक आने-जाने के लिए ई-रिक्शे का भी इंतजाम किया है। जिस तरह, मतदान से पहले बीएलओ घर-घर जाकर पर्ची देते हैं, उसी तरह वैक्सीन लगवाने के लिए स्लाॅट की पर्ची दे रहे हैं और लोगों को जागरूक भी कर रहे हैं। सीएम ने कहा कि वैक्सीन को लेकर लोगों के मन में तरह-तरह की अफवाहें फैली हैं, उनको दूर करने की जिम्मेदारी हम सब की है। सीएम ने अपने देश के चुनाव के प्रशासनिक ढांचे की तारीफ करते हुए कहा कि अगर हम अपने चुनावी ढांचे का पूरे देश में इस्तेमाल करते हैं, तो दो से तीन महीने में सबको वैक्सीन लगा सकते हैं।
45 साल से अधिक उम्र के दिल्ली के करीब 57 लाख लोगों में से अभी 30 लाख लोगों को वैक्सीन की पहली डोज नहीं लगी है- अरविंद केजरीवाल
मुख्यमंत्री  श्री अरविंद केजरीवाल ने आज लांसर रोड स्थित राजकीय सर्वोदय विद्यालय में ‘जहां वोट, वहीं वैक्सीनेशन’ अभियान के तहत बनाए गए वैक्सीनेशन सेंटर (vaccination center) का दौरा किया और 45 साल से अधिक उम्र के लोगों को आगे बढ़ कर वैक्सीन लगावाने के लिए प्रोत्साहित किया। इस दौरान सीएम ने कहा कि दिल्ली सरकार द्वारा ‘जहां वोट, वहां वैक्सीनेशन’ अभियान के तहत एक नए किस्म का प्रयोग किया जा रहा है। हमने दिल्ली में देखा है कि 45 साल की उम्र से उपर के लगभग 50 फीसद लोगों को वैक्सीन लग चुकी है और अभी भी 50 फीसद लोग वैक्सीनेशन से बचे हैं। दिल्ली में करीब 57 लाख लोग 45 साल से अधिक उम्र के हैं और इसमें से करीब 27-28 लाख लोगों को वैक्सीन लग चुकी है और करीब 30 लाख लोगों को अभी वैक्सीन नहीं लगी है।
वैक्सीनेशन सेंटर पर कम लोग आ रहे थे, इसलिए दिल्ली सरकार घर-घर जाकर लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए निमंत्रित और जागरूक कर रही हैं- अरविंद केजरीवाल
सीएम श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से देखा जा रहा था कि 45 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए जो वैक्सीनेशन सेंटर बनाए गए हैं, वहां पर अधिक संख्या में लोग नहीं आ रहे थे। इसलिए हमें लगा कि अब घर-घर जाकर लोगों को वैक्सीनेशन के लिए निमंत्रित करना चाहिए और उन्हें जागरूक करना चाहिए। इसी के मद्देनजर यह नए किस्म का अभियान शुरू किया गया है कि 45 साल से अधिक उम्र के लोगों का ‘जहां वोट, वहीं वैक्सीनेशन’ किया जाएगा। लोग जहां पर वोट डालने जाते हैं, वहीं पर उनको वैक्सीन लगाई जा रही है। पोलिंग स्टेशन को ही वैक्सीनेशन सेंटर बना दिया गया है।
Kejriwal
चुनाव के दौरान जैसे बीएलओ घर-घर जाकर पर्ची देते हैं, उसी तरह वैक्सीन लगवाने के लिए स्लाॅट की पर्ची दे रहे हैं- अरविंद केजरीवाल
सीएम ने राजकीय सर्वोदय विद्यालय में बनाए गए वैक्सीनेशन सेंटर का उदाहरण देते हुए कहा कि इस स्कूल में मतदान के लिए पोलिंग स्टेशन बनाया जाता है। इस पोलिंग स्टेशन पर जो-जो लोग वोट डालने आते हैं, उनके घरों में जैसे चुनाव से पहले बूथ लेवल आॅफिसर (बीएलओ) मतदान के लिए पर्ची देकर आता है। जिसमें वोट डालने की तारीख समेत अन्य जानकारी होती है। उसी तरह, इस अभियान में बीएलओ घर-घर जाकर वैक्सीन लगवाने के लिए स्लाॅट्स की पर्ची देकर आ रहा है कि वैक्सीनेशन सेंटर पर उक्त समय पर वैक्सीन लगवाने के लिए आएं, ताकि सेंटर पर लोगों की भीड़ भी न लगे। कुछ लोगों को 10 बजे का स्लाॅट दिया जा रहा है, तो कुछ को 12 बजे का स्लाॅट दिया जा रहा है। इस तरह, बीएलओ लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए निमंत्रित करके आते हैं। इसके बाद, बीएलओ से मिली पर्ची को लेकर लोग अपने सेंटर पर वैक्सीन लगवाने के लिए आ रहे हैं।
बीएलओ घर-घर जाकर स्लाॅट देने के साथ वैक्सीन को लेकर लोगों के मन में बैठी आशंकाओ को भी दूर कर रहे हैं- अरविंद केजरीवाल
सीएम श्री अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा कि इस सेंटर पर वैक्सीन लगवाने के लिए आए कई लोगों से बातचीत भी की है। लोग दिल्ली सरकार की इस मुहिम से बहुत खुश हैं। दिल्ली सरकार ने लोगों को घर से वैक्सीनेशन सेंटर तक आने-जाने के लिए ई-रिक्शा का इंतजाम किया है। हमने बड़ी संख्या में ई-रिक्शे लगा रखे हैं। इस दौरान बीएलओ जब लोगों के घर जा रहे हैं, तो उन्हें जागरूक भी कर रहे हैं। वैक्सीन को लेकर लोगों में बैठी आशंका को दूर कर रहे हैं। कई सारे लोग हैं जिन्हें वैक्सीन को लेकर डर लग रहा है। सीएम ने बताया कि इस वैक्सीनेशन सेंटर पर एक माता जी मिलीं, उन्होंने बताया कि उनको बीपी और सुगर है, उन्हें वैक्सीन लगवानी चाहिए या नहीं लगवानी चाहिए। ऐसे लोगों की शंकाओं को भी बीएलओ दूर कर रहे हैं। दो दिन तक बीएलओ घर-घर जाएंगे और अपना पूरा एरिया कवर कर देंगे और अगले दो दिन में उन सभी लोगों को वैक्सीन लग जाएगी। वहीं, जो लोग वैक्सीन लगवाने के लिए नहीं आएंगे, उनके लिए एक राउंड और चलाया जाएगा। दूसरे राउंड में बीएलओ एक बार फिर उनके घर जाएंगे और पूछेंगे कि आपको स्लाॅट दिया था, लेकिन आप वैक्सीन लगवाने नहीं आए। दोबारा से उनकी जो भी शंकाएं होंगी, उनको दूर की जाएंगी और उन्हें वैक्सीन लगवाने के लिए राजी किया जाएगा। इस तरह, बीएलओ दो बार घर-घर जाकर 45 साल से अधिक उम्र के लोगों को वैैक्सीन लगवाने के लिए प्रोत्साहित करेंगे।
Kejriwal
जब 18 से 44 साल के लोगों के लिए वैक्सीन आ जाएगी, तब इसी तरह से अभियान चलाया जाएगा- अरविंद केजरीवाल
सीएम ने कहा कि इस सप्ताह दिल्ली के 70 वार्डों में ‘जहां वोट, वहां वैक्सीनेशन अभियान शुरू किया गया है। दिल्ली में 272 वार्ड हैं, जबकि दो विधानसभाएं ऐसी हैं, जहां पर वार्ड नहीं हैं, तो उनको भी वार्ड में बांटा जाए, तो मोटे तौर पर दिल्ली में कुल 280 वार्ड हो रहे हैं। इस तरह, चार हफ्ते के अंदर पूरी दिल्ली में 45 साल से उपर के उम्र के लोगों को वैक्सीन की पहली डोज लगा दी जाएगी। अगर हमारे पास 18 से 44 साल की उम्र के लोगों के लिए भी वैक्सीन उपलब्ध होती, तो इसी तरह से उनका भी अभियान चलाया जाता और इसी के साथ उनका भी वैक्सीनेशन पूरा हो जाता। जब 18 से 44 साल के लोगों के लिए वैक्सीन आएगी, तो इसी तरह से अभियान चलाया जाएगा। मुझे लगता है कि हमारा चुनाव का ढांचा बहुत अच्छा है, अगर हम अपने इस ढांचे का इस्तेमाल करें, तो वैक्सीनेशन में काफी सहूलियत मिलेगी। हमारा चुनाव का प्रशासनिक ढांचा बहुत ही शानदार है। अगर इसको पूरे देश के अंदर इस्तेमाल करते हैं, तो मुझे लगता है कि पूरे देश के लोगों को दो से तीन महीने के अंदर सबको वैक्सीन लगा सकते हैं।
Kejriwal
वैक्सीन को लेकर लोगों में बैठी आशंकाओं को दूर करने की जिम्मेदारी पूरे समाज की है- अरविंद केजरीवाल
सीएम श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि वैक्सीन को लेकर लोगों के अंदर बैठी आशंकाओं को दूर करने की जिम्मेदारी समाज की है, हम सब की और मीडिया की जिम्मेदारी है। हमारा प्रयास होना चाहिए कि हम ज्यादा से ज्यादा लोगों को जगरूक करें। मसलन, इस वैक्सीनेशन सेंटर पर जितने लोग आज वैक्सीन लगवा कर जा रहे हैं, वो अपने जान-पहचान के लोगों से कहेंगे कि हमने वैक्सीन लगवा ली और हमें इसका कोई बुरा असर नहीं हुआ। इस तरह, हम सब की जिम्मेदारी है कि लोगों को वैक्सीनेशन को लेकर जागरूक करें। वैक्सीन को लेकर जो तरह-तरह की अफवाहें फैली हुई हैं, उन अफवाहों को दूर करना पड़ेगा। केंद्र सरकार से हमारे पर 21 जून से वैक्सीन आने शुरू होंगी, तो हम इसी तरह सभी उम्र के लोगों के लिए वैक्सीन लगाना शुरू करेंगे।

Related Articles

epaper

Latest Articles