37.5 C
New Delhi
Monday, May 23, 2022

पंजाब पुलिस के इंटेलिजेंस ऑफिस पर हमला, ग्रेनेड अटैक

चंडीगढ़ /अदिति सिंह : पंजाब पुलिस के मोहाली सेक्टर -77 में स्थित इंटेलिजेंस विंग के हेडक्वार्टर पर रॉकेट प्रोपेल्ड ग्रेनेड (RPG) से हमला किया गया है। घटना में कोई बड़ा नुकसान नहीं हुआ है। हमले के बाद बिल्डिंग के दूसरी फ्लोर के फ्रंट साइड में धमाका हुआ, जिसमें कोई बड़ा नुकसान तो नहीं हुआ लेकिन शीशे जरूर टूट गए। मोहाली के SP रविंदरपाल संधू ने कहा कि यह माइनर ब्लास्ट हुआ है। बाहर से इंटेलिजेंस की बिल्डिंग पर यह अटैक किया गया है। इसमें जान माल का कोई नुकसान नहीं हुआ है। रॉकेट टाइप फायर से यह धमाका किया गया है। आतंकी हमला या टेरर एंगल के सवाल पर उन्होंने कहा कि इस लिहाज से भी पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। इस मामले में केस दर्ज किया जा रहा है।

— हेडक्वार्टर पर रॉकेट से हमला, शीशे टूटे, जांच जारी, इलाका सील

मोहाली पुलिस ने एक आधिकारिक बयान में कहा क‍ि शाम 7:45 बजे के आसपास सेक्टर 77, एसएएस नगर में पंजाब पुलिस खुफिया मुख्यालय में एक मामूली विस्फोट की सूचना मिली थी। कोई नुकसान नहीं हुआ है। मोहाली को पूरी तरह सील कर दिया गया है। आसपास रिहायशी इलाका भी है। वहां भी सर्च अभियान चल रहा है। पंजाब पुलिस के साथ चंडीगढ़ पुलिस की क्विक एक्शन टीमें भी मोहाली पहुंचकर मदद कर रही हैं।वरिष्ठ अधिकारी मौके पर हैं और जांच की जा रही है। पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने डीजीपी वीके भावरा से मामले की रिपोर्ट मांगी है। मीडिया को आधे किलोमीटर दूर ही रोक दिया गया है। पुलिस किसी को भी बिल्डिंग के नजदीक नहीं जाने दे रही है। पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि पंजाब पुलिस इंटेलिजेंस हेडक्वार्टर पर धमाके के बार में सुनकर स्तब्ध हूं। गनीमत रही कि किसी को चोट नहीं आई। हमारे पुलिस बल पर यह हमला बेहद चिंताजनक है और मैं सीएम भगवंत मान से आग्रह करता हूं कि अपराधियों को जल्द से जल्द न्याय के कटघरे में खड़ा किया जाए। बताया जाता है कि बिल्डि़ंग को उड़ाने के लिए ग्रेनेड फेंका गया था। मोहाली और आसपास के क्षेत्र में रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है। पंजाब के मुख्‍यमंत्री भगवंत मान ने पूरी घटना पर राज्‍य के डीजीपी से रिपोर्ट मांगी है। पूरे क्षेत्र में तलाशी अभियान चलाया जा रहा है और घटना की जांच की जा रही है। ग्रेनेड फट जाता ताे बिल्‍डिंग को भारी नुकसान हो सकता था और आसपास भी काफी नुकसान हो सकता था। सूत्रों के अनुसार इंटेलिजेंस बिल्डिंग के सामने से आरपीजी फायर हुआ बताया जा रहा है लेकिन हैरानी की बात यह है कि इंटेलिजेंस दफ्तर के सामने सोहाना अस्पताल की बाउंड्री है। वहीं अस्पताल के साथ इंटेलिजेंस दफ्तर की पार्किंग है जो एरिया पूरी तरह से खाली पड़ा है। डॉग स्क्वायड की टीम को मौके पर बुलाकर जांच की जा रही है। सोहाना अस्पताल में भी सर्च अभियान शुरू कर दिया है। बताया जाता है कि आरपीजी की अधिकतम रेंज 700 मीटर होती है। ऐसे में आसपास के एरिया को भी खंगाला जा रहा है। पुलिस अधिकारियों को आशंका है कि यह आरपीजी आसपास के एरिया से ही फायर किया गया है। पंजाब के पुलिस महानिदेशक वीके ह भावरा के अनुसार राज्य में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है। इंटेलिजेंस के आइजी भी मौके पर जांच के लिए पहुंचे हैं। फिलहाल कोई भी अधिकारी कुछ बताने को तैयार नहीं है। एसएसपी मोहाली, सभी थाने के एसपी व एसएचओ भी मौके पर पहुंचे हैं। इस घटना के बाद मोहाली के साथ चंडीगढ़ में भी सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। पंजाब पुलिस के अधिकारियों के अनुसार ग्रेनेड तीसरी मंजिल पर खिड़की का कांच तोड़कर भीतर गिरा। ग्रेनेड फटा नहीं। यदि यह ग्रेनाइट फट जाता तो बिल्डिंग को बहुत नुकसान होता। ग्रेनेड आरपीजी बिल्डिंग पर टारगेट करके फेंका गया था। शक है कि इस ग्रेनेड से धमाका कर इंंटेलिजेंस आफिस की इमारत काे उड़ाने की सााजिश थी। घटना की जानकारी मिलते ही आईजी इंटेलिजेंस, एसएसपी मोहाली के साथ पूरे जिले के आलाधिकारी मौके पर पहुंच गए। सेक्टर -77 का पूरा एरिया सील कर लिया गया है। फिलहाल कोई भी अधिकारी कुछ बताने को तैयार नहीं है । पूरे एरिया में दहशत का माहौल है। मोहाली में रेड अलर्ट घोषित कर दिया गया है। मौके पर सभी सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगाली जा रही है। आरपीजी फायर से इंटेलिजेंस बिल्डिंग की तीसरी मंजिल पर बने ऑफिस की खिड़की टूटने के बाद दीवार भी डैमेज हुई बताई जा रही है। कुछ दिन पूर्व ही चंडीगढ़ की बुडैल जेल के बाहर भी है विस्फोटक सामग्री मिली थी । जेल की पिछली दीवार को उड़ाने की साजिश के तहत यह विस्फोटक यहां रखे गए थे ।

Related Articles

epaper

Latest Articles