spot_img
30.1 C
New Delhi
Friday, October 22, 2021
spot_img

आम आदमी पार्टी 2022 में उत्तर प्रदेश विधानसभा का चुनाव लड़ेगी

—दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने किया ऐलान
—मुफ्त बिजली, मुफ्त पानी, अच्छी शिक्षा और स्वास्थ्य केन्द्रों की सुविधा का दांव खेल सकती है आप
—दिल्ली में बिजली पानी है फ्री, मध्यम वर्गीय लोगों को मिल रहा है फायदा

नयी दिल्ली/ टीम डिजिटल । दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को कहा कि आम आदमी पार्टी 2022 में होने वाला उत्तर प्रदेश विधानसभा का चुनाव लड़ेगी। आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने उत्तर प्रदेश की राजनीतिक पार्टियों पर निशाना साधते हुए उन पर लोगों की पीठ में छुरा घोंपने का आरोप लगाया। डिजिटल तरीके से संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि उत्तर प्रदेश का विकास वहां की गंदी राजनीति और भ्रष्ट नेताओं की वजह से रुक गया है। उन्होंने सवाल किया, उत्तर प्रदेश के लोगों को स्वास्थ्य और शिक्षा के लिए दिल्ली का रुख क्यों करना पड़ता है? कोई परिवार कानपुर में रहता है, उन्हें अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा के लिए दिल्ली भेजना पड़ता है। गोरखपुर में रहने वाले व्यक्ति को अपने अभिभावकों को अच्छा इलाज दिलाने के लिए दिल्ली आना पड़ता है। केजरीवाल ने कहा, उत्तर प्रदेश के लोगों ने हर पार्टी को आजमा लिया और उन्हें मौका भी दिया लेकिन इन दलों ने लोगों की पीठ में चाकू घोंपने का काम किया।

उन्होंने कहा कि मोहल्ला क्लीनिक, मुफ्त बिजली, मुफ्त पानी, अच्छी शिक्षा और स्वास्थ्य केन्द्रों की सुविधा उत्तर प्रदेश में भी मुहैया कराई जा सकती है। उन्होंने कहा कि आप ईमानदार सोच पैदा करेगी और यह साबित करेगी कि शासन सीमित संसाधनों का मोहताज नहीं है। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी 2022 में उत्तर प्रदेश विधानसभा का चुनाव लड़ेगी। केजरीवाल ने कहा, मैं आप सबसे आप को एक बार मौका देने की अपील करता हूं और आप बाकी सब दलों को भूल जाएंगे, जैसा दिल्ली में हुआ। केजरीवाल ने कहा, क्या देश का सबसे बड़ा राज्य देश में सबसे विकसित राज्य में नहीं बदल सकता है? अगर दिल्ली के संगम विहार में मोहल्ला क्लीनिक हो सकता है तो उत्तर प्रदेश के गोमती नगर इलाके में क्यों नहीं हो सकता? अगर दिल्ली में सबसे अच्छा अस्पताल हो सकता है तो उत्तर प्रदेश में सरकारी अस्पतालों की स्थिति इतनी बदहाल क्यों है? उन्होंने कहा, दिल्ली के लोगों को 24 घंटे पानी की आपूॢत हो सकती है तो उत्तर प्रदेश को क्यों नहीं? वहां पर बिजली क्यों गुल होती है? उत्तर प्रदेश के लोगों को बिजली के ज्यादा बिल क्यों देने पड़ते हैं? अगर दिल्ली के सरकारी स्कूलों में बच्चों को अच्छी शिक्षा मिल सकती है तो उत्तर प्रदेश में क्यों नहीं। वहां पर सरकारी स्कूलों की हालत इतनी खराब क्यों है। आप के राष्ट्रीय संयोजक ने कहा कि लोगों के समर्थन के कारण पार्टी ने दिल्ली में तीन बार सरकार बनायी और पंजाब में मुख्य विपक्षी पार्टी बन गई।

उत्तर प्रदेश में नहीं गलने वाली केजरीवाल की दाल : सिद्धार्थनाथ

उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्री और प्रवक्ता सिद्धार्थनाथ सिंह ने मंगलवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि उनकी भ्रमित करने की आदत है, वह दिल्ली में बेनकाब हो चुके हैं और उत्तर प्रदेश में उनकी दाल गलने वाली नहीं है। केजरीवाल ने मंगलवार को टवीट किया कि आम आदमी पार्टी उत्तर प्रदेश में 2022 का विधानसभा का चुनाव लड़ेगी। इसके बाद राज्य सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह ने यहां मीडिया सेंटर में पत्रकारों से बातचीत की और केजरीवाल पर जमकर प्रहार किये। केजरीवाल पर निशाना साधते हुए सिंह ने आरोप लगाया,आपने सदी के सबसे बड़े संकट कोरोना वायरस महामारी के दौरान पूर्वांचल के लाखों लोगों का जो अपमान किया था, उसका जवाब देना चाहिए। दिल्ली उच्च न्यायालय ने कोविड प्रबंधन को लेकर दिल्ली सरकार पर जो टिप्पणी की थी, उसका जवाब देना चाहिए। आपने कितने लोगों को रोजगार दिए, आपने कितने अस्पताल, मेडिकल कॉलेज बनाए, कितने एम्स जोड़े यह आपको बताना चाहिए।

Related Articles

epaper

Latest Articles