22.1 C
New Delhi
Sunday, December 4, 2022

डेल्टा प्लस वेरियंट को लेकर UP सरकार अलर्ट, बढाई एहतियात, सभी जिलों को निर्देश

—गहन पड़ताल के लिए जीनोम सिक्वेंसिंग करायी जाए, जिलों में लिए जाएं सेंपल

लखनऊ/ टीम डिजिटल : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने देश के कई राज्यों में कोविड-19 के डेल्टा प्लस वेरियंट से संक्रमित मरीज पाये जाने के दृष्टिगत प्रदेश में अतिरिक्त सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि डेल्टा प्लस वेरियंट की गहन पड़ताल के लिए अधिक से अधिक सैम्पल की जीनोम सिक्वेंसिंग करायी जाए। उन्होंने प्रदेश में जीनोम सिक्वेंसिंग की सुविधा के लिए KGMU, लखनऊ तथा BHU वाराणसी में आवश्यक व्यवस्थाएं उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री आज यहां लोक भवन में आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राज्य में कोरोना संक्रमण की स्थिति नियंत्रण में है। इसके बावजूद थोड़ी लापरवाही भी भारी पड़ सकती है। इसके दृष्टिगत ‘ट्रेस, टेस्ट एण्ड ट्रीट’ नीति के अनुरूप कोविड-19 से बचाव और उपचार की व्यवस्थाओं को प्रभावी ढंग से जारी रखा जाए।
मुख्यमंत्री ने कहा कि विशेषज्ञों के अनुसार डेल्टा प्लस वेरियंट के संक्रमण की तीव्रता पूर्व की अपेक्षा कहीं अधिक है। चिकित्सा विशेषज्ञों की राज्य स्तरीय सलाहकार समिति द्वारा इससे बचाव के सम्बन्ध में विस्तृत रिपोर्ट तैयार की गई है। इस रिपोर्ट के अनुसार अन्य आयु वर्ग की अपेक्षा यह वेरियंट बच्चों को कहीं अधिक प्रभावित कर सकता है। इसलिए चिकित्सा विशेषज्ञों के परामर्श के अनुरूप अविलम्ब सभी जरूरी कदम उठाए जाएं। लोगों को सही एवं तथ्यपरक जानकारी उपलब्ध कराने के लिए जनजागरूकता के प्रयास किये जाएं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि रेल, बस तथा हवाई जहाज से प्रदेश में आ रहे लोगों के सैम्पल लेकर जीनोम सिक्वेंसिंग करायी जाए। जनपदों में भी सैम्पल लिये जाएं। जांच परिणाम के अनुसार डेल्टा प्लस प्रभावी क्षेत्रों की मैपिंग करायी जानी चाहिए। इससे बचाव के प्रभावी प्रबन्ध सुनिश्चित करने में मदद मिलेगी।

डबल मास्क, दो गज की दूरी, स्वच्छता और सैनिटाइजेशन अपनाना होगा

बैठक में अवगत कराया गया कि पिछले 24 घण्टों में कोरोना संक्रमण के 226 नये मामले सामने आये हैं। इसी अवधि में 320 संक्रमित लोग स्वस्थ होकर डिस्चार्ज किये गये हैं। कुल एक्टिव केस की संख्या 3,500 से भी कम होकर 3,423 रह गई है। विगत 24 घण्टों में 02 लाख 69 हजार 272 कोविड जांच की गईं। अब तक प्रदेश में 05 करोड़ 65 लाख 40 हजार 503 कोविड टेस्ट किये जा चुके हैं। वर्तमान में संक्रमण की रिकवरी दर 98.5 प्रतिशत है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 के खिलाफ जंग में सभी की भूमिका महत्वपूर्ण है। डबल मास्क, दो गज की दूरी, स्वच्छता और सैनिटाइजेशन जैसे कोविड बचाव सम्बन्धी व्यवहार को पूरी तरह अपनाना होगा। भीड़-भाड़ से बचना होगा। बैठक में अवगत कराया गया कि सीरो सर्वें के प्रारम्भिक परिणाम के अच्छे संकेत मिले हैं। शुरूआती नतीजों के मुताबिक सर्वेक्षण में लोगों में हाई लेवल एन्टीबाॅडी की पुष्टि हुई है।

Related Articles

epaper

Latest Articles