spot_img
29.1 C
New Delhi
Thursday, June 17, 2021
spot_img

योगी की अनोखी पहल, श्रमिकों की 2,754 बेटियों का करवाया सामूहिक विवाह

—निर्माण श्रमिकों की पुत्रियों के सामूहिक विवाह कार्यक्रम का मण्डल स्तरीय वृहद आयोजन
—निर्माण श्रमिक राष्ट्र निर्माण के प्रति समर्पित, सरकार उनके परिवार के कल्याण की जिम्मेदारी बखूबी निभा रही

लखनऊ /टीम डिजिटल। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज जनपद मुरादाबाद में कन्या विवाह सहायता योजना के तहत उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के पंजीकृत निर्माण श्रमिकों की 2,754 पुत्रियों के सामूहिक विवाह कार्यक्रम में सम्मिलित हुए। उन्होंने मुरादाबाद मण्डल के पंजीकृत निर्माण श्रमिकों की पुत्रियों के सामूहिक विवाह कार्यक्रम में 2,754 नवविवाहित जोड़ों को आशीर्वाद दिया। इनमें हिन्दू, मुस्लिम, सिख, ईसाई व बौद्ध आदि सम्प्रदायों के दम्पत्ति शामिल थे। उन्होंने लाभार्थियों को सामूहिक विवाह हितलाभ प्रमाण पत्र प्रदान किए।
मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर मुरादाबाद जनपद के विकास के लिए 183.10 करोड़ रुपए लागत की 48 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास भी किया। इनमें 103.69 करोड़ रुपए लागत की 36 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं 79.41 करोड़ रुपए की 12 परियोजनाओं का शिलान्यास सम्मिलित है।

यह भी पढें…जाट रेजिमेंटल सेंटर और दिल्‍ली पुलिस ने जीती सर्वश्रेष्‍ठ मार्चिंग दस्‍ते की ट्रॉफी

मुख्यमंत्री ने सामूहिक विवाह कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए परिणय सूत्र में बंधने वाले नवविवाहित जोड़ों के सुखद दाम्पत्य जीवन एवं उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए उन्हें हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार बिना किसी भेदभाव के समाज के सभी वर्गों के विकास एवं कल्याण हेतु कार्य कर रही है। निर्माण श्रमिकों की पुत्रियों के सामूहिक विवाह कार्यक्रम का मण्डल स्तरीय वृहद आयोजन जनकल्याण और विकास के प्रति समर्पित राज्य सरकार की प्रतिबद्धता का एक जीवन्त उदाहरण है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि निर्माण श्रमिक, राष्ट्र निर्माण के प्रति समर्पित हैं। प्रदेश सरकार उनके परिवार के कल्याण की जिम्मेदारी बखूबी निभा रही है। निर्माण श्रमिकों के कल्याण हेतु कई महत्वपूर्ण योजनाएं संचालित की जा रही हैं। इनमें मातृत्व शिशु एवं बालिका मदद सहायता योजना, मेधावी छात्र पुरस्कार योजना, सन्त रविदास शिक्षा सहायता योजना, चिकित्सा सुविधा सहायता योजना, शौचालय सुविधा सहायता योजना, आवास सहायता योजना, निर्माण कामगार मृत्यु एवं दिव्यांगता सहायता एवं अक्षमता पेंशन योजना आदि सम्मिलित हैैं। यह योजनाएं श्रमिकों की विभिन्न जरूरत के लिए सहायता उपलब्ध कराने के उद्देश्य से संचालित की जा रही हैं।

यह भी पढें…कोरोना से मृत पत्रकारों के परिजनों को मिलेगा 5 लाख रुपये की आर्थिक सहायता

मुख्यमंत्री ने कहा कि भवन एवं अन्य सन्निर्माण प्रक्रियाओं में लगे असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को उ0प्र0 भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के तहत अपना पंजीकरण कराकर इन योजनाओं का लाभ प्राप्त करना चाहिए, जिससे उनका जीवन स्तर बेहतर हो और उनकी सामाजिक व आर्थिक स्थिति सुदृढ़ हो सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास’ के सिद्धान्त का अनुसरण करते हुए गरीबों, मजदूरों, महिलाओं, नौजवानों, किसानों व वंचितों को विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ पहुंचा रही है। गांव, गरीब, किसान आदि राज्य सरकार के एजेण्डे में हैं। अन्नदाता किसान के जीवन में खुशहाली, देश की उन्नति का आधार है। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह हमारी भारतीयता की ही ताकत है, जिसके तहत सामूहिक विवाह कार्यक्रम का वृहद आयोजन सौहार्दपूर्ण वातावरण में सम्पन्न हुआ है। सामूहिकता की शक्ति पर बल देते हुए उन्होंने कहा कि देश-प्रदेश ने सफलता के साथ वैश्विक महामारी कोविड-19 का प्रबन्धन एवं नियंत्रण किया, इससे विश्व की धारणा में व्यापक सकारात्मक बदलाव आया है। विश्व पटल पर भारत की विशिष्ट पहचान स्थापित हुई है।

यह भी पढें…प्रधानमंत्री मोदी ने सेना को सौंपा हाईटेक स्वदेशी ‘अर्जुन मेन बैटल टैंक’

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर जनपद मुरादाबाद की 103.69 करोड़ रुपए की जिन 36 परियोजनाओं का लोकार्पण किया, उनमें मुरादाबाद-दिल्ली मार्ग (पुराना राष्ट्रीय मार्ग-24) पर लोकोशेड रेल उपरिगामी सेतु का निर्माण, मण्डलीय होमगार्ड्स प्रशिक्षण केन्द्र का निर्माण, क्राइम ब्रान्च की स्थापना हेतु अनावासीय भवनों का निर्माण, बाईपास भाग-2 के किमी 14 से होमगार्ड प्रशिक्षण केन्द्र तक के मार्ग का नवनिर्माण, अमृत योजना कार्यक्रम अन्तर्गत मुरादाबाद नगर क्षेत्र में पेयजल गृह संयोजन कार्य, सांसद आदर्श ग्राम योजना के अन्तर्गत ग्राम बरबारा मजरा पेयजल योजना, विखं मुरादाबाद, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल योजना कार्यक्रम के अन्तर्गत रतनपुर कलां पेयजल योजना, विखं कुन्दरकी, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल योजना के अन्तर्गत मुरादाबाद में शरीफनगर ग्राम पेयजल योजना विखं ठाकुरद्वारा, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल योजना के अन्तर्गत मुरादाबाद में असालतनगर बघा ग्राम पेयजल योजना, सांसद आदर्श ग्राम योजना के अन्तर्गत ग्राम सहसपुरी में पेयजल योजना विखं डिलारी, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल योजना कार्यक्रम के अन्तर्गत मुरादाबाद में सरकडा खास ग्राम पेयो विखं मूढ़ापाण्डे, सांसद आदर्श ग्राम योजना के अन्तर्गत ग्राम डिडोरा में पेयजल योजना का निर्माण, सांसद आदर्श ग्राम योजना के अन्तर्गत ग्राम पल्लूपुरा घोसी में पेयजल योजना सम्मिलित हैं।

कई परियोजनाओं का योगी ने किया शुभारंभ

मुख्यमंत्री द्वारा लोकार्पित परियोजनाओं में नवीन राजकीय हाईस्कूल खदाना, विकास खण्ड मुरादाबाद, नवीन हाईस्कूल हुसैनपुर छिरावली विकास खण्ड मूढ़ापाण्डे, साधन सहकारी समिति लि डोमधर के परिसर में 100 मी टन क्षमता के गोदाम का निर्माण, साधन सहकारी समिति रौड़ा के परिसर में 100 मी टन क्षमता के गोदाम का निर्माण, साधन सहकारी समिति लि गुलड़िया के परिसर में 100 मी टन क्षमता के गोदाम का निर्माण, साधन सहकारी समिति लि गूंगानगला के परिसर में 100 मी टन क्षमता के गोदाम का निर्माण, साधन सहकारी समिति लि अमरपुर काशी के परिसर में 100 मी टन क्षमता के गोदाम का निर्माण, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र शरीफनगर ठाकुरद्वारा जनपद मुरादाबाद का निर्माण कार्य, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र शरीफनगर ठाकुरद्वारा जनपद मुरादाबाद का निर्माण कार्य, जिला अस्पताल मुरादाबाद में प्लास्टिक सर्जरी एवं बर्न यूनिट का निर्माण कार्य, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बिलारी जनपद मुरादाबाद में रोगी आश्रय स्थल भवन का निर्माण कार्य, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कांठ जनपद मुरादाबाद में रोगी आश्रय स्थल भवन का निर्माण कार्य सम्मिलित हैं।

मुरादाबाद में 200 व्यक्तियों की क्षमता की बैरक का निर्माण

मुख्यमंत्री द्वारा जनपद मुरादाबाद की 79.41 करोड़ रुपए की लागत की जिन 12 परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया, उनमें 9वीं वाहिनीं पी0ए0सी0 मुरादाबाद में 200 व्यक्तियों की क्षमता की बैरक का निर्माण, 23वीं वाहिनी पी0ए0सी0 मुरादाबाद में 200 व्यक्तियों की क्षमता की बैरक का निर्माण, 24वीं वाहिनी पी0ए0सी0 मुरादाबाद में 200 व्यक्तियों की क्षमता की बैरक का निर्माण, पुलिस लाइन मुरादाबाद में 200 पुरुष कर्मियों हेतु हॉस्टल निर्माण का कार्य सम्मिलित है।

Previous article16 February 2021
Next article17 February 2021

Related Articles

epaper

Latest Articles