spot_img
26.1 C
New Delhi
Thursday, October 28, 2021
spot_img

JSPL की शालू जिन्दल को मिला एशिया का सर्वोत्तम CSR अवार्ड

-शालू जिन्दल को यह अवार्ड सिंगापुर में दिया गया
-यह जेएसपीएल फाउंडेशन के लिए गौरव का पल :शालू
-शालू के मार्गदर्शन में 7000 से अधिक लघु उद्यमों को बढ़ावा

(खुशबू पाण्डेय)
नई दिल्ली, 18 अगस्त – सुप्रसिद्ध कुचिपुड़ी नृत्य विदूषी और जेएसपीएल फाउंडेशन की सह-अध्यक्ष शालू जिन्दल को सामाजिक उद्यमिता के लिए सीएमओ एशिया का श्रेष्ठ सीएसआर-2019 अवार्ड प्रदान किया गया है।

जिन्दल हाउस के मुुताबिक श्रीमती शालू जिन्दल को यह अवार्ड सिंगापुर में आयोजित विशेष समारोह में प्रदान किया गया। उद्योग और समाज के संतुलित विकास के सिद्धांतों की प्रबल पक्षधर श्रीमती जिन्दल का कहना है कि जेएसपीएल फाउंडेशन“बिल्डिंग इंडिया-एम्पावरिंग लाइव्स” का सपना साकार करने के लिए पूरे समर्पण भाव से कार्य कर रहा है। उन्होंने इस अवार्ड के लिए जेएसपीएल फाउंडेशन के चयन के लिए ज्यूरी मेंबरों का आभार जताया और फाउंडेशन की समर्पित टीम की भी हौसला अफजाई की।

श्रीमती जिन्दल ने अवार्ड प्राप्त करने के अवसर पर कहा कि यह जेएसपीएल फाउंडेशन के लिए गौरव का पल है। फाउंडेशन ने अपनी सीएसआर गतिविधियों के माध्यम से समाज के विकास में योगदान करने का हरसंभव प्रयास किया है।

गौरतलब है कि श्रीमती शालू जिन्दल कुचिपुड़ी के अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञ पद्म भूषण गुरु राजा एवं राधा रेड्डी की शिष्या हैं। श्रीमती जिन्दल ने कुचिपुड़ी नृत्य के विकास में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर महत्वपूर्ण योगदान किया है। उन्हें भारतीय शास्त्रीय नृत्य (कुचिपुड़ी), कला-संस्कृति, शिक्षा और सामुदायिक विकास में उल्लेखनीय उपलब्धियों के लिए अनेक पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है।

इसके अलावा उन्होंने “तिरंगा एंड फ्रीडम” नामक पुस्तक का संकलन किया है। उन्होंने नेशनल बाल भवन के चेयरपर्सन की जिम्मेदारी निभाते हुए बच्चों के लिए “इंडियाः ऐन अल्फाबेट राइड”नामक पुस्तक की रचना की। वह यंग फिक्की लेडीज ऑर्गेनाइजेशन और जिन्दल आर्ट इंस्टीट्यूट की संस्थापक अध्यक्ष भी हैं।

जेएसपीएल फाउंडेशन ने श्रीमती शालू जिन्दल के मार्गदर्शन में कृषि, गैर-कृषि एवं अन्य क्षेत्रों में 7000 से अधिक लघु उद्यमों को बढ़ावा दिया है। लगभग 3000 परिवारों के लिए स्थायी आजीविका संसाधनों का इंतजाम करने के साथ-साथ 40 हजार परिवारों के लिए रोजगार की व्यवस्था कराने में भी जेएसपीएल फाउंडेशन ने अहम भूमिका अदा की है। श्रीमती जिन्दल ने लगभग 2 करोड़ लोगों में उम्मीद की किरण जगाई है और शिक्षा-स्वास्थ्य एवं जीवन निर्माण के विविध क्षेत्रों में उन्हें प्रोत्साहित किया है।

श्रीमती शालू जिन्दल को एशिया का सर्वश्रेष्ठ सीएसआर अवार्ड मिलने पर कुरुक्षेत्र के पूर्व सांसद श्री नवीन जिन्दल के नेतृत्व वाली कंपनी जेएसपीएल की पूरी टीम स्वयं को गौरवान्वित महसूस कर रही है।

Related Articles

epaper

Latest Articles