21 C
New Delhi
Saturday, February 27, 2021

गुरुद्वारा श्री ननकाणा साहिब पर हमले की निंदा, भड़के सिख

-सिखों ने की प्रधानमंत्री मोदी से अपील, करें हस्तक्षेप
–दिल्ली के सिख आज पाकिस्तान दूतावास के बाहर करेंगे प्रदर्शन
–सिखों को डराने के प्रयासों पर जबरदस्त विरोध करेंगे: सिरसा

(आलोक सांगवान)

नई दिल्ली  : पाकिस्तान स्थित गुरुद्वारा श्री ननकाणा साहिब पर कुछ लोगों द्वारा हमला करने पर भारत के सिखों ने जबरदस्त विरोध जताया है। साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस मामले में हस्तक्षेप की गुहार लगाई है। सिखों ने इस मसले को भारतीय विदेश मंत्रालय के समक्ष भी उठाया है। विरोध स्वरूप शनिवार को दिल्ली स्थित पाकिस्तानी दूतावास के बाहर विरोध प्रदर्शन का ऐलान किया है। इसको लेकर दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा है कि सिख भाईचारा पाकिस्तान में सिखों को धमकियां देने वाले प्रयासों का पुरजोर विरोध करेगा।

सिरसा ने कहा कि मुहम्मद हसन ने गुरुद्वारा श्री ननकाणा साहिब के ग्रंथी की लड़की जगजीत कौर अगवा की थी, उसी ने आज गुरुद्वारा श्री ननकाणा साहिब पर हमले के लिए भीड़ की अगुवाई की व इस भीेड़ ने गेट तोड़ कर गुरुद्वारा साहिब में दाखिल होने की कोशिश की। हमले से पहले हसन ने एक भीड़ को संबोधित किया व ऐलान किया कि वह एक भी सिख को श्री ननकाणा साहिब में नहीं रहने देगा व इस पवित्र शहर का नाम बदल कर गुलाम अली मुस्तफा कर दिया जायेगा।


सिरसा ने कहा कि इस हैरान करने वाली घटना व सिख भाईचारे को धमकियां भाईचारे द्वारा बर्दाशत नहीं की जायेंगी। उन्होंने कहा कि जगजीत कौर को अगवा करने वाला यह सबकुछ सिर्फ भाईचारे से बदला लेने के लिए कर रहा है। उन्होंने कहा कि भाईचारा, हसन जैसे बदमाशों के इन प्रयासों के प्रति मूक दर्शक बन कर नहीं बैठ सकता और वह पाकिसतान में अल्पसंख्यकों की सुरक्षा के लिए जरूरी हर कदम उठायेगा।

मामला संयुक्त राष्ट्र में भी उठायेंगे

सिरसा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से गुहार लगाई है कि वह इस मामले की गंभीर नोटिस लें और पाकिस्तान सरकार व विश्व भाईचारे के पास उठायें। सिरसा ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को अपील किया कि वह मामले पर तुरंत कार्रवाइ्र करने और मुहम्मद हसन जैसे गुंडों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने जो कि सरेआम देश में अल्पसंख्यकों को धमकियां दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाओं से ना सिर्फ उनका अक्स दुनिया के सामने खराब होगा बल्कि उनके लिए जो भी कुछ पाकिस्तान में हो रहा है, उसका जवाब दुनिया को देना मुश्किल हो जायेगा। सिरसा ने कहा कि वह यह मामला संयुक्त राष्ट्र में भी उठायेंगे और दुनिया भर में शुरु करेंगे तांकि इमरान खान का असली चेहरा बेनकाब किया जा सके।

Related Articles

epaper

Latest Articles