33.1 C
New Delhi
Monday, July 15, 2024

दिल्ली में कोरोना वायरस का विस्फोट, स्कूल-कालेज सब बंद

—दिल्ली में शुक्रवार को 8,521 नए मामले दर्ज, 39 लोगों की मौत
—दिल्ली सरकार ने बढाई सख्ती, सभी क्लासेज पर भी पाबंदी

नई दिल्ली /टीम डिजिटल । देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस का कहर बढ़ता जा रहा है। तेजी से बढ़ते कोविड-19 मामलों के मद्देनजर एक बार फिर दिल्ली के सभी निजी और सरकारी स्कूलों को अगले आदेश तक बंद कर दिया गया है। इसको सरकार दिल्ली सरकार ने शुक्रवार को सख्त आदेश जारी किए हैं। स्कूलों के अलावा सभी क्लासों को रोक दिया गया है। इसके साथ ही 9वीं से 12वीं तक के छात्रों की फिजीकल मोड़ में चल रही अकादमिक व परीक्षा संबंधी सभी प्रकार की गतिविधियां भी रद्द कर दी गई हैं। 9वीं तक पहले से ही क्लासें ऑनलाइन चल रही थीं।

दिल्ली में कोरोना वायरस का विस्फोट, स्कूल-कालेज सब बंद
दिल्ली में शुक्रवार को 8,521 नए मामले दर्ज किए गए हैं। इससे पहले गुरुवार को 7,437 नए केस रिपोर्ट किए गए थे। पिछले कुछ दिनों से राजधानी में लगातार 5,000 से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। वहीं 39 मरीजों ने संक्रमण की वजह से अपनी जान गंवाई है। स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 8,521 नए मामले रिपोर्ट किए गए हैं। इसके साथ ही कुल संक्रमितों की संख्या 7,06,526 पर पहुंच गई है। जबकि 5,032 लोग ठीक होकर अस्पताल से घर लौटे हैं। वहीं 39 लोगों की मौत हुई है।
इस बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा, कोविड के बढ़ते मामलों के कारण, दिल्ली में सभी स्कूल (सरकारी, प्राइवेट सहित), सभी क्लासेज के लिए अगले आदेश तक बंद किए जा रहे हैं। बता दें कि, इससे पहले दिए गए आदेश के मुताबिक, अकादमिक सत्र 2020-21 के 9वीं, 10वीं, 11वीं और 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों को बीते 5 फरवरी से अपने अभिभावकों की मंजूरी लेकर परीक्षाओं, प्रैक्टिकल, प्रोजेक्ट वर्क व इंटर्नल असेसमेंट संबंधी कार्यों के लिए स्कूल आने की छूट दी गई थी। स्कूल में आने वाले सभी शिक्षकों और विद्यार्थियों को मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग और कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करने को कहा गया था।
बता दें कि दिल्ली में अबतक 6,68,699 लोगों ने वायरस को मात दी है और घर वापस लौटे हैं। वहीं 11,196 मरीजों की कोरोना के कारण मौत हो गई है। राजधानी में कुल सक्रिय मामलों की संख्या 26,631 है। इसके साथ ही राजधानी में पॉजिटिव दर बढ़कर 7.79 प्रतिशत हो गई है। कंटेनमेंट जोन की संख्या 4768 है। हालांकि दिल्ली में गुरुवार को कोरोना संक्रमण के 7,437 मामले सामने आए थे। बुलेटिन में कहा गया कि एक दिन पहले 52,696 आरटी-पीसीआर जांच और 39,074 रैपिड एंटीजन जांच सहित कुल 91,770 जांच की गई थी। गुरुवार को संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 6,98,005 हो गए। अब तक 6.63 लाख से अधिक मरीज वायरस से उबर चुके हैं।

दिल्ली एम्स के 20 डॉक्टरों समेत 64 स्वास्थ्यकर्मी कोरोना संक्रमित

राजधानी दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल में 37 डॉक्टरों के कोरोना संक्रमित मिलने के बाद अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भी 64 स्वास्थ्यकर्मियों के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। ये सभी पिछले 10 दिनों में कोरोना संक्रमित मिले हैं। इनमें से अधिकतर स्वास्थ्यकर्मियों में कोरोना के हल्के लक्षण हैं, वहीं पहले से दूसरी बीमारियों से पीड़ित कुछ स्वास्थ्यकर्मियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है जबकि अन्य सभी होम आइसोलेशन में हैं। 64 स्वास्थ्यकर्मियों में 20 डॉक्टर हैं और 6 एमबीबीएस के छात्र भी शामिल। संक्रमित स्वास्थ्यकर्मियों में सबसे अधिक संख्या नर्सिंग कर्मचारियों की है। 31 मार्च से 8 मार्च तक कुल 38 नर्सिंग कर्मचारियों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। इनमें से छह अप्रैल को एक ही दिन में 17 नर्स कर्मचारियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई थी। वहीं 7 अप्रैल को 7 और 5 अप्रैल को चार नर्सिंग कर्मचारियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई। बड़ी संख्या में स्वास्थ्यकर्मियों के कोरोना संक्रमित मिलने के बाद शुक्रवार से एम्स ने ऑपरेशन थियेटर में होने वाली नियमित सर्जरी पर रोक लगा दी।

latest news

Related Articles

epaper

Latest Articles