36.1 C
New Delhi
Monday, June 27, 2022

कांग्रेस के बाद राजस्थान के रण में अब BJP का राजनीतिक मंथन

नई दिल्ली /अदिति सिंह : कांग्रेस के तीन दिवसीय ङ्क्षचतन शिविर के बाद भारतीय जनता पार्टी की तीन दिवसीय राष्ट्रीय पदाधिकारी बैठक 19, 20 और 21 मई को जयपुर में होने जा रही है। बैठक में राजस्थान सहित विभिन्न राज्यों में आगामी विधानसभा चुनावों के कार्ययोजना पर चर्चा होगी। पार्टी सूत्रों ने बताया कि राष्ट्रीय पदाधिकारी की बैठक के पहले दिन यानि 19 मई को महामंत्रियों की बैठक होगी। इसके बाद 20 और 21 मई को पदाधिकारी बैठक होगी। जयपुर-दिल्ली राष्ट्रीय राजमार्ग पर एक होटल में मंथन शिविर की जगह मुकर्रर की गई है। बैठक में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी खुद नहीं पहुंचेंगे लेकिन एक सत्र को ऑनलाइन माध्यम से संबोंधित करेंगे।

-भाजपा की राष्ट्रीय पदाधिकारी बैठक 19, 20-21 मई को जयपुर में होगी
-संगठन विस्तार, गुजरात, हिमाचल सहित अन्य चुनावों पर रहेगा पूरा फोकस
-पार्टी हाईकमान ने राज्यों के कामकाज का पूरा खाका मंगाया, होगी चर्चा
-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वर्चुअल करेंगे कार्यकारिणी का शुभारंभ
-भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा सहित देशभर के पदाधिकारी रहेंगे मौजूद

तीन दिवसीय बैठक तीन चार सत्रों में आयोजित होगी। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा राष्ट्रीय पदाधिकारी बैठक का उदघाटन करेंगे। वह बैठक के एक दिन पहले ही जयपुर पहुंच जाएंगे। नड्डा, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, महासचिव, सचिव और प्रवक्ताओं के साथ 20 मई को बैठक करेंगे। उनका अगले दिन यानी 21 मई को पार्टी के प्रदेशाध्यक्षों और प्रदेश महासचिवों (संगठन) के साथ बैठक करने का कार्यक्रम है। सूत्रों के अनुसार बैठक में कई राज्यों में इस वर्ष और आगामी वर्ष में होने वाले विधानसभा चुनावों की रणनीति, संगठनात्मक मुद्दों पर चर्चा की जायेगी। राजस्थान में अगले वर्ष के अंत में विधानसभा के चुनाव होने हैं। नड्डा जयपुर के बिरला सभागार में 21 मई को बुद्धिजीवियों के साथ एक बैठक करेंगे।
बता दें कि पदाधिकारी बैठक आम तौर पर दिल्ली में ही होती है, लेकिन इस बार राजस्थान में किया जा रहा है। इसमें संगठनात्मक चुनाव, साल के आखिर में गुजरात, हिमाचल प्रदेश में हो रहे विधानसभा चुनावों पर मंथन किया जाएगा। बैठक में पूरा संसदीय बौर्ड भी रहेगा। इसके अलावा पार्टी के सभी राष्ट्रीय पदाधिकारियों के अलावा प्रदेशों के अध्यक्ष, केंद्रीय प्रभारी, संगठन महामंत्री, विपक्ष लीडर भी मौजूद रहेंगे।
देश में कोविड-19 महामारी की शुरुआत की बाद भारतीय जनता पार्टी नेताओं की यह पहली ऐसी बैठक होगी, जिसमें सभी मौजूद रहेंगे। महामारी के दौरान पार्टी ने बैठकों का आयोजन तो किया लेकिन वह सभी बैठकें वर्चुअल माध्यम से आयोजित की गईं।
इस बावत भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव अरुण कुमार की ओर से किए गए एक संवाद में प्रदेश अध्यक्षों और राज्यों के संगठन महामंत्रियों को अपने-अपने राज्यों में चलाए गए कार्यक्रमों और गतिविधियों के बारे में रिपोर्ट लाने को कहा गया है। कांग्रेस शासित राजस्थान में इस बैठक के आयोजन का राजनीतिक रूप से बहुत महत्व है। हाल में राज्य के विभिन्न हिस्सों में हुई सांप्रदायिक ङ्क्षहसा की घटनाओं के अलावा अन्य मुद्दों पर भाजपा राज्य की अशोक गहलोत सरकार को घेरने में जुटी हुई है। इसके अलावा हाल ही में पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में भाजपा का प्रदर्शन शानदार रहा था। पार्टी ने उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड सहित चार राज्यों में जीत हासिल की। इस जीत से उत्साहित पार्टी ने अब आगामी चुनाव वाले राज्यों में अपनी गतिविधियां तेज कर दी है।

 

Related Articles

epaper

Latest Articles