spot_img
9.1 C
New Delhi
Tuesday, January 18, 2022
spot_img

यात्रियों के लिए बुरी खबर, दिल्ली हवाईअड्डे का टर्मिनल टी2 बंद होगा

spot_imgspot_img
Indradev shukla

— उड़ानों की संख्या में काफी कमी आने के चलते बंद करने का फैसला लिया

नई दिल्ली, साधना मिश्रा: वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (corona virus) की दूसरी लहर के कारण उड़ानों की संख्या में काफी कमी आने के चलते दिल्ली के अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे (International Airport) के टी2 र्टिमनल को सोमवार मध्य रात्रि से बंद करने का फैसला लिया गया है। सूत्रों ने यह जानकारी दी। सूत्रों ने बताया कि सोमवार मध्य रात्रि से सभी उड़ानें र्टिमनल टी3 से ही संचालित होंगी। उन्होंने बताया कि वर्तमान में दिल्ली के हवाईअड्डे पर प्रतिदिन करीब 325 विमानों का आवागमन हो रहा है। महामारी की मार से पहले तक यहां से प्रतिदिन 1,500 उड़ानें संचालित होती थीं।

Indradev shukla

कोरोना की दूसरी लहर से इस कदर प्रभावित हुआ अंतरराष्ट्रीय हवाई यातायात 

सूत्रों ने बताया कि फरवरी माह में दिल्ली हवाईअड्डे (Delhi Airport) पर प्रतिदिन यात्रियों की औसत संख्या करीब 1.15 लाख थी जो महामारी की दूसरी लहर में घटकर प्रतिदिन करीब 30,000 रह गई है। दिल्ली हवाईअड्डे ने यह फैसला ऐसे समय लिया है जब भारत और यहां का विमानन क्षेत्र महामारी की दूसरी लहर से बुरी तरह प्रभावित है। नागर विमानन मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक भारत में घरेलू हवाई यात्रियों की दैनिक संख्या जो 2.2 लाख से अधिक हुआ करती थी, अब घटकर करीब 75,000 रह गई है। इसी प्रकार अंतरराष्ट्रीय हवाई यातायात भी महामारी की दूसरी लहर से प्रभावित हुआ है। उल्लेखनीय है कि भारत में कोविड-19 के 2,81,386 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर सोमवार को 2,49,65,463 हो गई। पिछले 27 दिन में एक दिन में सामने आए ये सबसे कम नए मामले हैं।
वहीं, संक्रमण से 4,106 लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 2,74,390 हो गई। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सोमवार की सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, देश में अभी 35,16,997 लोगों का कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज चल रहा है, जो कुल मामलों का 14.09 प्रतिशत है। आंकड़ों के अनुसार, देश में संक्रमण से कुल 2,11,74,076 लोग उबर चुके हैं और मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 84.81 प्रतिशत है। वहीं, कोविड-19 से मृत्यु दर 1.10 प्रतिशत है।

spot_imgspot_imgspot_img

Related Articles

epaper

spot_img

Latest Articles

spot_img