35 C
New Delhi
Sunday, May 22, 2022

BJP ने पंजाब की जनता को किया आगाह, केजरीवाल से रहे सावधान

नई दिल्ली /नेशनल ब्यूरो : भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने आज यहां दिल्ली की सत्ताधारी पार्टी एवं मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर घेरेबंदी करते हुए बड़ा हमला बोला है। साथ ही आरोप लगाया कि केजरीवाल पंजाब को गलत रास्ते पर ले जाना चाहते हैं। भाजपा ने पंजाब की जनता से अपील करते हुए कहा कि पिछले सात सालों से दिल्ली की जनता को गुमराह करने वाले केजरीवाल एवं उनकी पार्टी से सावधान रहें। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता एवं मनजिंदर सिंह सिरसा ने भाजपा मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत करते हुए केजरीवाल के दिल्ली मॉडल पर सवाल उठाए, जिस मॉडल को वह पंजाब में लागू करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि केजरीवाल का दिल्ली मॉडल बदहाल मोहल्ला क्लीनिक है, जिसको बनवाने में 1500 करोड़ रुपये खर्च किए गए और 500 करोड़ रुपये प्रति साल खर्च होते हैं, लेकिन वहां ऐसी दवाईयां दी जाती है जिससे बच्चों की जान तक चली जाती है। उन्होंने कहा कि पंजाब में रोजगार देने की बात करने वाले केजरीवाल के आवास के बाहर लगभग एक सप्ताह से आंगनबाड़ी की महिलाएं अपनी मांगों को लेकर बैठी हैं लेकिन केजरीवाल उनकी सुध लेने की जगह चुनावी यात्रा में व्यस्त हैं।

-कुमार विश्वास के खुलासे को लेकर भाजपा ने केजरीवाल को घेरा
-पंजाब को भाजपा की डबल इंजन सरकार की सख्त जरुरत : सिरसा

दिल्ली में लगभग 22000 गेस्ट शिक्षक हैं, जिन्हें आज तक नियमित करने की जगह जब शिक्षकों ने अदालत का रुख अपनाया तो दिल्ली सरकार ने उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया।
भाजपा अध्यक्ष गुप्ता ने कहा कि दिल्ली के विधानसभा में एक विशेष सत्र बुलाकर केजरीवाल पंजाब के बारे में चर्चा करते हैं, लेकिन पिछले आठ दिनों से उनके आवास के बाहर किसान अपने अधिकार और मांगों को लेकर धरने पर बैठे हैं, लेकिन उनकी समस्या जानने की जगह केजरीवाल पंजाब में जाकर किसानों के हित में झूठे चुनावी वायदें करने में व्यस्त हैं। दिल्ली के किसानों से कमर्शियल दर पर बिजली के शुल्क लिए जा रहे हैं, उन्हें ट्रैक्टर, खाद इत्यादि कृषि उपकरण खरीदने और सिंचाई पर कोई सब्सिडी नहीं मिल रही है। पंजाब में दिल्ली के किसानों को 2616 रुपये एमएसपी देने की बात कहकर जनता के बीच भ्रम पैदा कर रहे हैं। भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि दिल्ली के अंदर तीसरे कार्यकाल का दो साल पूरा करने वाले केजरीवाल पूरे बजट का मात्र 21 प्रतिशत पैसे ही खर्च कर पाए हैं। 65000 करोड़ रुपये का सलाना बजट और उसका सिर्फ 21 प्रतिशत खर्च करना यह बताता है कि दिल्ली के अंदर काम न करने की नियत केजरीवाल सरकार की शुरु से ही रही है।

जनता को गुमराह करने का काम केजरीवाल सरकार ने किया

उन्होंने कहा कि जब सात साल पहले अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली की सत्ता संभाली थी तब 11000 नई बसें लाने का वायदा किया था। उस वक्त 6600 डीटीसी बसें थी जो आज घटकर 3700 रह गई है। इसके अलावा यमुना सफाई को लेकर भी पिछले सात सालों से दिल्ली की जनता को गुमराह करने का काम केजरीवाल सरकार ने किया है।
भाजपा नेता सरदार मनजिंदर सिंह सिरसा ने पंजाब के मतदाताओं से एक बार फिर बदलाव लाने की अपील की। साथ ही कहा कि पंजाब को सुरक्षित, बेरोजगारी एवं नशामुक्त और खुशहाल बनाने के लिए एक बार भाजपा गठबंधन की सरकार लानी ही होगी। उन्होंने आरोप लगाया कि पंजाब में वे जो भी वायदें कर रहे हैं, उनमें से एक को भी उन्होंने दिल्ली में पूरा नहीं किया है।

दिल्ली में घर-घर शराब पहुंचाने वाले केजरीवाल 

मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा कि पंजाब को नशामुक्त बनाने का वायदा करने वाले केजरीवाल ने दिल्ली में 850 से ज्यादा शराब की दुकानें खोलकर दिल्ली में घर-घर शराब पहुंचाने और नशे का व्यापार करने का काम किया है। उन्होंने आम आदमी पार्टी और केजरीवाल पर पंजाब में हिन्दू-सिख भाईचारे को तोडऩे का आरोप लगाते हुए कहा कि ये केवल ‘फूट डालो और राज करो की नीति पर चलने वाले लोगों का गिरोह है। दिल्ली में 10 लाख से ज्यादा नौकरियां देने का दावा करने वाले केजरीवाल सिर्फ पांच हजार लोगों का नाम दे दें जिन्हें उन्होंने नौकरी दी हो तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा।
सिरसा ने कहा कि पंजाब को भाजपा की डबल इंजन सरकार की सख्त जरुरत है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का मानना है कि देश की खुशहाली और सुरक्षा पंजाब से चलती है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल दिल्ली में हिंदुओं को भयभीत बताने की चाल चल रहे हैं जबकि हकीकत यह है कि पंजाब में हिंदू-सिख एकता ‘मास और नाखूनÓ के स्वरुप हैं जिसे अलग नहीं किया जा सकता है।

Related Articles

epaper

Latest Articles