spot_img
21.1 C
New Delhi
Monday, October 18, 2021
spot_img

CISF : 52 वें स्थापना दिवस पर 1489 ASI को मिला तोहफा, बने उप-निरीक्षक

कोविड-19 महामारी के दौरान CISF ने उत्कृष्ट प्रदर्शन किया
—CISF ने मनाया अपना 52वां स्थापना दिवस, जवानों ने दिखाए करतब
—1489 एएसआई को उप-निरीक्षक पद पर पदोन्नत किया
—राष्ट्रीय महत्व के 351 प्रतिष्ठानों को सुरक्षा प्रदान कर रहे है CISF

नई दिल्ली/ खुशबू पाण्डेय : सीआईएसएफ ने 5वीं आरक्षित वाहिनी परिसर, इंदिरापुरम, गाजियाबाद में 52वां स्थापना दिवस मनाया। इस अवसर पर केन्द्रीय गृह सचिव अजय कुमार भल्ला मुख्य अतिथि थे। मुख्य अतिथि ने स्थापना दिवस पर आयोजित भव्य एवं शानदार परेड की सलामी ली और परेड का निरीक्षण किया। इस अवसर पर सीआईएसएफ (CISF) के महानिदेशक एस के जायसवाल ने कहा कि यह हमारे लिए बहुत गर्व की बात है कि हमने देश के सबसे संवेदनशील और महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचे को सुरक्षित करते हुऐ 52 साल पूरे कर लिए हैं। वर्तमान में, बल में 1,63,000 से अधिक बल सदस्य हैं जो राष्ट्रीय महत्व के 351 प्रतिष्ठानों को सुरक्षा प्रदान कर रहे हैं। सीआईएसएफ एकमात्र केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल है, जिसके पास अग्निशमन सेवा दस्ता है और 104 प्रतिष्ठानों को अग्नि सुरक्षा प्रदान कर रहा है। उन्होंने कहा कि सीआईएसएफ कर्मी देश के सभी हिस्सों में स्थित इकाइयों में पूरी निष्ठा और समर्पण के साथ अपने कर्तव्यों का पालन कर रहे हैं।


इस मौके पर यह और भी उत्साहजनक है कि आज 1489 सहायक उप निरीक्षकों को उप-निरीक्षक पद पर पदोन्नत किया गया। डीजी, सीआईएसएफ ने पदोन्नित कर्मियों को बधाई दी।
केंद्रीय गृह सचिव अजय कुमार भल्ला ने परेड कमांडर और परेड में भाग लेने वाले सभी कर्मियों को उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी के दौर में सीआईएसएफ ने लगातार उत्कृष्ट प्रदर्शन किया। पिछले 52 वर्षों में सीआईएसएफ द्वारा प्रदान की गई सेवाएं सराहनीय हैं। उन्होंने कहा कि सीआईएसएफ एक अद्वितीय बल है और इसकी विविधतापूर्ण भूमिका है।


सीआईएसएफ कर्मियों ने साइलेंट ड्रिल, वीआईपी सुरक्षा और फायर ड्रिल के डेमों को प्रस्तुत करके अपनी परिचालन क्षमताओं का प्रदर्शन किया। दर्शकों ने जमकर प्रदर्शनों की सराहना की। मुख्य अतिथि ने अधिकारियों और पुरुषों, पदक प्राप्तकर्ताओं के साथ बातचीत की और कुछ समय तक परिसर में रहे।
सीआईएसएफ सुरक्षा में दृढ़ता तथा जनता के प्रति मित्रवत एवं विनम्र व्यवहार को प्राथमिक रखते हुए अपने ध्येय वाक्य ‘संरक्षण एवं सुरक्षा’ के प्रति वचनबद्ध है।

अधिकारियों एवं कर्मचारियों को राष्ट्रपति पदक से किया सम्मानित

इस अवसर पर पद अलंकरण समारोह का आयोजन भी किया गया। मुख्य अतिथि ने संजय प्रकाश, महानिरीक्षक (मध्य क्षेत्र), सुनील कुमार मिश्रा, डीसी (MPT मुंबई), और एएसआई राजेन्द्र बाबू (MPRTC बहरोड़) को विशिष्ट सेवाओं के लिए राष्ट्रपति का पुलिस पदक तथा एएसआई/फायर रशपाल दास (MSTPP मौउदा), एएसआई/फायर दरमियान सिंह (BHEL हरिद्वार), एएसआई/फायर उत्तर कंवर शर्मा (FGUTPP उंचाहर), एएसआई/फायर रामनिवास (GTPS घाटमपुर) और एएसआई/फायर ए. नारायणन (SAC अहमदाबाद) को विशिष्ट सेवाओं के लिए राष्ट्रपति का अग्नि सेवा पदक से सम्मानित किया, जिसकी घोषणा गणतंत्र दिवस-२०२० और स्वतंत्रता दिवस-२०२० के अवसर पर की गई थी।

Related Articles

epaper

Latest Articles