spot_img
29.1 C
New Delhi
Monday, July 26, 2021
spot_img

प्रधानमंत्री मोदी, अमित शाह ने डा.मुखर्जी को किया याद, दी श्रद्धांजलि

-भाजपा ने बलिदान दिवस पर किया वृक्षारोपण, राहत सामग्री रवाना किया
–मुखर्जी के विचारों से जुड़ें और विचारधारा को आगे बढायें भाजपा कार्यकर्ता : नड्डा
-देश की अखंडता की रक्षा के लिए डा. मुखर्जी ने सर्वस्व न्योछावर किया : शाह

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल : भारतीय जनसंघ के संस्थापक डा. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय मंत्री अमित शाह एवं भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। भाजपा मुख्यालय में उनकी पुण्यतिथि पर विशेष आयोजन किया गया। साथ ही दिल्ली की बूथ संख्या 21 में स्थित पंडित दीनदयाल उपाध्याय पार्क में वृक्षारोपण किया गया। इसके बाद बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सेवा ही संगठन 2.0 के तहत केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल के तत्वाधान में पार्टी के केंद्रीय कार्यालय से बीकानेर (राजस्थान) में 100 बेड क्षमता के डेडिकेटेड कोविड केयर हॉस्पिटल के लिए मेडिकल उपकरण और बड़ी मात्रा में राहत सामग्रियों को रवाना किया।
प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट में कहा है, डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के उच्च आदर्श, विराट विचार और लोगों की सेवा करने की उनकी प्रतिबद्धता हमें लगातार प्रेरित करती रहेगी। राष्ट्रीय एकता के लिये उनके प्रयासों को कभी भुलाया नहीं जा सकता। वहीं रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि भारतीय जनसंघ के संस्थापक डा. मुखर्जी के विचार देश और समाज को सदैव दिशा देते रहेंगे। गृहमंत्री रक्षा मंत्री अमृत शाह ने अपने संदेश में कहा, डा. मुखर्जी ने देश की अस्मिता व अखंडता की रक्षा के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर कर दिया। उन्होंने भारत का पुन: विभाजन होने से बचाया। उनका त्याग, समर्पण और उनके आदर्श युग-युगांतर तक आने वाली पीढिय़ों का मार्ग दर्शन करते रहेंगे। ऐसे अभिजात देशभक्त के बलिदान दिवस पर उन्हें नमन किया।
इस मौके पर बीजेपी अध्यक्ष नड्डा ने कहा कि कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए नड्डा ने कहा कि डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जिन संदिग्ध परिस्थितियों में मृत्यु हुई, उसे लेकर तब की कांग्रेस सरकार ने न कोई इन्क्वायरी कराई और न ही कोई जांच ही कराई। उस वक्त डॉ मुखर्जी की माताजी ने देश के तत्कालीन प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू को पत्र लिखते हुए कहा था – मैं तुम्हारी थोथी दलीलें नहीं सुनना चाहती। मुझे जांच चाहिए और जांच कराई जाए लेकिन कांग्रेस सरकार ने इसे अनसुना करते हुए मामले को दबा दिया। माताजी ने तत्कालीन सरकार पर स्पष्ट आरोप लगाते हुए कहा कि जम्मू-कश्मीर सरकार ने मेरे बेटे की हत्या की है।
राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी के जीवन से प्रेरणा लेते हुए भारतीय जनता पार्टी के करोड़ों कार्यकर्ता देश की एकता और अखंडता की रक्षा के लिए संकल्प भाव से सदैव तत्पर हैं। उनके प्रति हमारी सच्ची श्रद्धांजलि यही होगी कि हम उनके द्वारा बताये गए रास्ते पर चलें, उनके विचारों से जुड़ें और भारतीय संस्कृति तथा राष्ट्रवाद के प्रति समर्पित उस विचारधारा को आगे बढायें।

साल के अंत तक वैक्सीन के 257 करोड़ डोज उपलब्ध होंगे

बीजेपी अध्यक्ष नड्डा ने कहा कि विपक्षी दलों का बस एक ही काम रह गया है और वह है बस राजनीति, राजनीति और राजनीति। केवल और केवल भारतीय जनता पार्टी ऐसी पार्टी है जिसका एक सामाजिक पक्ष भी है और समाज से जुड़ कर समाज के प्रति जिम्मेवारी और दायित्व निभाने का उसका ट्रैक रिकॉर्ड भी रहा है। नड्डा ने कहा कि इस साल के अंत तक हमारे पास वैक्सीन के लगभग 257 करोड़ डोज बन कर उपलब्ध होंगे। लेकिन कुछ विपक्षी पार्टियां सेवा कार्य में भी बढ़ा उत्पन्न करने की कोशिश कर रही है। हम साधक हैं तो कुछ राजनीतिक दल बाधक के रूप में काम कर रहे हैं। कभी कहते हैं कि लॉकडाउन क्यों लगाया, कभी कहते हैं कि लॉकडाउन क्यों हटाया, कभी वैक्सीन की गुणवत्ता को लेकर सवाल करते हैं, तो कहीं वैक्सीन की बर्बादी में लगे हैं। विपक्ष द्वारा शासित एक राज्य के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि मैं इंजेक्शन नहीं लगवाऊंगा। कुछ विपक्षी नेताओं ने कहा कि वैक्सीनेशन मानवता के लिए ख़तरा है और देखिये कि ऐसे सभी नेता चोरी-चोरी चुपके-चुपके वैक्सीन लगवाये जा रहे हैं।

Related Articles

epaper

Latest Articles