39.1 C
New Delhi
Sunday, June 16, 2024

Delhi Metro के कोच में अब नहीं कर पाएंगे अश्लीलता, किए तो जाएंगे जेल

नयी दिल्ली/अदिति सिंह । दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) ट्रेन के अंदर यात्रा के दौरान लोगों द्वारा वीडियो बनाने और उन्हें सोशल मीडिया (Social Media) पर प्रसारित करने की घटनाओं में लगातार वृद्धि के कारण ‘दिल्ली मेट्रो रेल निगम’ (DMRC) ने स्टेशनों और ट्रेनों के भीतर सुरक्षा कर्मियों और सादी वर्दी में कर्मियों को नियुक्त कर गश्त बढ़ाने का फैसला किया है। अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी। पुलिस उपायुक्त (मेट्रो) जितेंद्र मणि ने कहा कि मेट्रो के अंदर या इसके आसपास किसी भी तरह की अश्लील गतिविधियों में लिप्त पाए जाने वाले लोगों के खिलाफ कानून के अनुसार सख्त कार्रवाई की जाएगी। पुलिस ने कहा कि सादे कपड़ों में उनके कर्मी, डीएमआरसी और केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (central industrial security force) के साथ मिलकर मेट्रो स्टेशनों पर कड़ी निगरानी रख रहे हैं ताकि इस तरह की घटनाएं न हों।

—मेट्रो कोच में लडकी का चुंबन लेते हुए वीडियो वायरल, मेट्रो ने बढाई सख्ती
—दिल्ली मेट्रो में अब नही बना पाएंगे वीडियो रील, जाएंगे जेल
— वीडियो फिल्माने से रोकने के लिए मेट्रो कोच में गश्त बढ़ाने का फैसला किया

सोशल मीडिया पर प्रसारित हाल के एक वीडियो में एक जोड़ा मेट्रो कोच के फर्श पर बैठकर कथित रूप से एक दूसरे का चुंबन लेते नजर आ रहा है। सोशल मीडिया पर वीडियो प्रसारित होने के बाद डीएमआरसी ने यात्रियों से इस तरह की अश्लील गतिविधियों में शामिल होने से बचने की अपील की। सूत्रों के मुताबिक, डीएमआरसी ने हाल में दिल्ली पुलिस को लिखा कि इस तरह की घटनाओं पर रोक लगाने के लिए मेट्रो स्टेशनों और कोच के अंदर सुरक्षाकर्मियों की गश्त बढ़ाई जाए। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, हाल में इस तरह के वीडियो के प्रकाश में आने के बाद दिल्ली मेट्रो कई उपायों को लागू करके मेट्रो में सुरक्षा और निगरानी में सुधार करना चाहता है।

Delhi Metro के कोच में अब नहीं कर पाएंगे अश्लीलता, किए तो जाएंगे जेल

उन्होंने कहा, इसी तरह के एक उपाय के तहत वर्दीधारी पुलिसकर्मी और सादी वर्दी में डीएमआरसी के कर्मचारी ट्रेनों में गश्त लगाएंगे। पुलिस ने कहा कि इस तरह के कृत्यों में शामिल पाए जाने वाले लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी और इस तरह के अश्लील वीडियो को अपलोड करने वाले व्यक्तियों को ‘कानून और नागरिकों की गोपनीयता का उल्लंघन’ करने के लिए भी जिम्मेदार ठहराया जाएगा। डीएमआरसी के अधिकारी ने कहा कि कुछ पुरानी ट्रेनों को छोड़कर मेट्रो की सभी लाइनों में कोच में सीसीटीवी कैमरे लगे हैं। किसी भी तरह की आपत्तिजनक गतिविधि की निगरानी के लिए वर्तमान में जारी आधुनिकीकरण की प्रक्रिया के दौरान इन कोच में भी सीसीटीवी कैमरे लगाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा, इससे महिलाओं समेत यात्रियों को होने वाले खतरे और असुविधा को दूर किया जा सकेगा। हाल में मेट्रो कोच में चुंबन करते एक युगल का वीडियो सोशल मीडिया पर प्रसारित होने के बाद सोशल मीडिया उपयोगकर्ताओं ने डीएमआरसी से इस मामले में कार्रवाई करने का आग्रह किया था तथा कई सोशल मीडिया उपयोगकर्ताओं ने इस तरह के वीडियो को फिल्माने पर सवाल भी उठाया था। इसके बाद डीएमआरसी ने यात्रियों से अनुरोध किया कि वे इस तरह की घटनाओं की जानकारी मौके पर मौजूद मेट्रो कर्मचारियों/सीआईएसएफ (केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल) को तुरंत दें ताकि उसके खिलाफ उचित कार्रवाई की जा सके।

मेट्रो कोच के भीतर वीडियो या रील न बनाएं

डीएमआरसी (DMRC)ने इससे पहले भी सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों से अपील की थी कि मेट्रो कोच के भीतर वीडियो या रील न बनाएं। DCP (मेट्रो) ने यात्रियों से ट्विटर या अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म इस तरह के वीडियो डालने के बजाय कुछ भी अश्लील पाए जाने पर सुरक्षा एजेंसियों को सूचित करने का अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि उन्हें तुरंत हेल्पलाइन 112 या 1511 पर फोन करना चाहिए या डीएमआरसी या सीआईएसएफ कर्मियों को सूचित करना चाहिए।

latest news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

epaper

Latest Articles