16.1 C
New Delhi
Tuesday, February 27, 2024

राष्ट्रपति प्रत्याशी द्रौपदी मुर्मू को मिली VIP जेड प्लस सुरक्षा

नयी दिल्ली/ अदिति सिंह : केंद्र सरकार ने राष्ट्रपति पद के लिए होने जा रहे चुनाव में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) की प्रत्याशी द्रौपदी मुर्मू को ‘जेड प्लस सुरक्षा प्रदान की है। उनके साथ केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवानों से लैस सुरक्षा चौबीस घंटे साथ रहेगी। सशस्त्र दस्ते ने बुधवार को तड़के मुर्मू की सुरक्षा का जिम्मा संभाल लिया। मंगलवार की रात राष्ट्रपति प्रत्याशी के नाम पर द्रौपदी मुर्मू के नाम की घोषणा के तुरंत बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सीआरपीएफ को मुर्मू की सुरक्षा की जिम्मेदारी संभालने के लिए उसके ‘वीआईपी सुरक्षा दल को तैनात करने का निर्देश दिया था। केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों द्वारा राष्ट्रपति पद की राजग उम्मीदवार को लेकर खतरे के अंदेशा होने संबंधी रिपोर्ट पेश किए जाने के बाद गृह मंत्रालय ने यह फैसला किया।

-एनडीए उम्मीदवार चुने जाने के बाद गृह मंत्रालय ने लिया फैसला
-ओडिशा के रायरंगपुर स्थित मुर्मू के आवास की भी सुरक्षा करेंगे

एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक ओडिशा स्थित अर्धसैनिक बल के करीब 14-16 जवानों की एक टुकड़ी ने मुर्मू की सुरक्षा की जिम्मेदारी संभाली है। वे राज्य या देश में कहीं भी यात्रा के दौरान उनके साथ रहेंगे। सुरक्षाकर्मी ओडिशा के रायरंगपुर स्थित मुर्मू के आवास की भी सुरक्षा करेंगे। अधिकारी ने बताया कि अपनी उम्मीदवारी के वास्ते समर्थन मांगने के लिए विधायकों और विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं से मिलने के लिए मुर्मू के अगले एक महीने में कई यात्राएं करने की उम्मीद है। गौरतलब है कि सीआरपीएफ का ‘वीआईपी सुरक्षा दल केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी, उनके बेटे राहुल गांधी तथा बेटी प्रियंका गांधी वाड्रा को भी सुरक्षा मुहैया करता है। देश में 18 जुलाई को राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव होगा और इसके परिणाम 21 जुलाई को घोषित किए जाएंगे। मौजूदा राष्ट्रपति रामनाथ कोङ्क्षवद का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त हो रहा है।
गौरतलब है कि भाजपा संसदीय दल की मंगलवार की रात भाजपा मुख्यालय में हुई बैठक के दौरान राष्ट्रपति पद के लिए 20 उम्मीदवारों के नामों पर गहन चर्चा हुई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में हुई बैठक में आदिवासी नेता द्रौपदी मुर्मू के नाम पर आखिरी मुहर लगी। वह पिछले साल तक झारखंड की राज्यपाल रहीं हैं।

latest news

Related Articles

epaper

Latest Articles