27.1 C
New Delhi
Thursday, June 30, 2022

तख्त श्री पटना साहिब में गुरु तेग बहादुर, गुरु गोबिन्द सिंह का मनाया जायेगा प्रकाश पर्व

नई दिल्ली /टीम डिजिटल : तख्त श्री हरिमंदिर जी पटना साहिब कमेटी में गुरु तेग बहादुर जी के 400वां प्रकाश पर्व और गुरु गोबिन्द सिंह जी का 355वां प्रकाश पर्व एक साथ 4 से 9 जनवरी तक मनाया जायेगा। इसमें राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बिहार के मुख्यमंत्री नीतिश कुमार, श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह सहित अनेक गणमान्य शख्सीयतें हाजरी भरेंगी। यह जानकारी तख्त श्री पटना साहिब कमेटी के अध्यक्ष अवतार सिंह हित ने आज यहां दी। जत्थेेदार अवतार सिंह हित के मुताबिक तख्त साहिब कमेटी द्वारा बिहार सरकार के सहयोग से बाप और बेटे दोनों गुरु साहिबान के प्रकाश पर्व को एक साथ मनाने का आयोजन किया जा रहा है। इसमें 4 जनवरी को राजगीर गुरुद्वारा साहिब में श्री अखण्ड पाठ साहिब आरंभ होंगे और 6 जनवरी को सुबह समाप्ति के उपरांत दोपहर तक दीवान सजाए जायेंगे। 7 तारीख को तख्त साहिब में बड़ी प्रभात फेरी निकाली जायेगी और राज को कवि दरबार का कार्यक्रम होगा जिसमें देशभर से कवि पहुंचकर गुरु साहिब के जीवन पर कविताएं पेश करेंगे।

-4 से 6 जनवरी तक मनेगा गुरु तेग बहादुर का 400वां प्रकाश पर्व
-7 से 9 जनवरी तक गुरु गोबिन्द सिंह जी का 355वें प्रकाश पर्व होगा
–राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री मोदी के पहुंचने की संभावना, कमेटी ने दिया संकेत

6 जनवरी को सुबह गायघाट गुरुद्वारा साहिब में दीवान सजेंगे और वहीं से नगर कीर्तन गुरु ग्रन्थ साहिब की अगुवाई में निकाला जायेगा जो देर शाम तख्त साहिब पर पहुंचेगा और तख्त साहिब साहिब पर देर रात तक दीवान सजाए जायेंगे। इसमें श्री दरबार साहिब के हजूरी रागी भाई सतनाम सिंह, भाई कारज सिंह, दिल्ली कमेटी के हजूरी रागी भाई मनोहर सिंह कीर्तन द्वारा संगतों को निहाल करेेंगे। 9 तारीख को अमृतवेले से कीर्तन समागम आरंभ होंगे जो कि रात 12 बजे गुरु साहिब के प्रकाश समय तक चलेंगे। इसमें विशेष तौर पर भाई चमनजीत सिंह जी लाल, भाई गुरइकबाल सिंह, भाई पिंदरपाल सिंह पहुंचकर गुरबाणी कीर्तन और कथा द्वारा संगतों को निहाल करेंगे।

25 हजार संगतों के लिए एक साथ लंगर तैयार किया जा सकेगा

पत्रकारों से बातचीत करते हुए जत्थेदार अवतार सिंह हित ने बताया कि तख्त कमेटी द्वारा संगतों के रहने और लंगर आदि की व्यवस्था के साथ साथ संगतों को लाने लेजाने के लिए बसों का भी विषेष प्रबन्ध किया जायेगा। उन्होंने बताया कि तख्त साहिब पर लंगर के लिए आटोमैटिक हाईजेनिक किचन की भी शुरुआत की जा रही है, जिसमें 25 हजार संगतों के लिए एक साथ लंगर तैयार किया जा सकेगा। नए लंगर हाल में सब्जियां काटने, धोने के साथ साथ लंगर तैयार करने और बर्तन धोने की मशीनें भी लगाई जा रही है। इसके अतिरिक्त सोलर सिस्टम और आधुनिक सहूलतों से लैस सरायें भी बनाई जा रही हैं। टैट सिटी इस बार कोरोना के चलते नहीं बनाई जायेगी पर बिहार सरकार ने सरकारी भवन और स्कूल कमेटी को देकर वहां संगतों के रहने के प्रबन्ध की बात कही है ताकि जो भी संगत वहां पहुंचे उसे किसी तरह की दिक्कत पेश ना आये।

Related Articles

epaper

Latest Articles