spot_img
8.1 C
New Delhi
Tuesday, January 25, 2022
spot_img

साहिब-ए-कमाल गुरु गोबिंद सिंह जी के प्रकाश पर्व पर संगतों ने टेका मत्था

spot_imgspot_img
Indradev shukla

नई दिल्ली /अदिति सिंह : साहिब-ए-कमाल गुरु गोबिंद सिंह जी का प्रकाश पर्व रविवार को श्रद्धा पूर्वक व उत्साह के साथ मनाया गया। इस मौके पर दिल्ली के सभी ऐतिहासिक गुरुद्वारों में समागम हुए। जबकि मुख्य गुरमति समागम गुरुद्वारा बंगला साहिब में हुआ। इस मौके पर गुरुद्वारा साहिब में धार्मिक दीवान सजाये गये एवं रागी सिंह द्वारा गुरबाणी कीर्तन संगतों को श्रवण करवाया गया। इस दौरान दिल्ली कमेटी द्वारा अमृत संचार लहर भी चलाई गई। आयोजन दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की अगुवाई में हुआ। कोविड महामारी के चलते बडे नगर कीर्तन का आयोजन ​नहीं किया गया। गुरुद्वारों में संगतें कोविड नियमों का पालन करते हुए मत्था टेकनें पहुंचीं।

— गुरु साहिब ने कौम के लिए पूरा परिवार कुर्बान कर दिया: कालका
—संगत अधिक से अधिक संख्या में अपने बच्चों को अमृत छकाने के लिए प्रेरित करे
—दिल्ली कमेटी ने चलाई अमृत संचार लहर, सिखों की अपील

मुख्य गुरमति समागम को संबोधित करते कमेटी के कार्यवाहक महासचिव हरमीत सिंह कालका ने कहा कि साहिब-ए-कमाल ने कौम के लिए अपना पूरा परिवार ही कुर्बान कर दिया तथा इस अद्वितीय कुर्बानी की अन्य कोई मिसाल पूरी दुनिया में कहीं नहीं मिलती। आज जरूरत है कि हम अपने बच्चों को ज्यादा से ज्यादा संख्या में अमृत छकाने के लिए प्रेरित करें क्योंकि बच्चों को सिखी के गौरवमई विरासत से परिचित करवाना तथा गुरु साहिब के साथ जोड़ना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि सिख कौम के खिलाफ तो अब भी हर तरफ से साजिशें रची जा रही हैं और पिछले दिनों श्री दरबार साहिब अमृतसर के अंदर की गई बेअदबी की कोशिश इसका सबूत है। यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि हम केवल एक सप्ताह शहीदी दिवस मनाते हैं और उसके बाद 31 दिसंबर को खुशियों की लहर शुरु हो जाती है तथा हम भूल जाते हैं कि कैसे गुरु साहिब ने शहादतें दीं।

कोरोना संकट के दौरान मानवता की सेवा

Indradev shukla

कालका ने दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी द्वारा कोरोना संकट के दौरान मानवता की सेवा के लिए प्रदान की जा रही सेवाओं का ज़िक्र करते हुए बताया कि ओमिक्रॉन के मद्देनज़र अब दिल्ली सरकार ने फिर दिल्ली कमेटी से संपर्क किया है और हमने बाला साहिब अस्पताल में 100 आई.सी.यू बैड उपलब्ध करवा दिये हैं, जिनसे इस खतरे से निपटा जाएगा। कमेटी द्वारा जो भी सेवाएं प्रदान की जा रही हैं वह केवल और केवल दिल्ली की संगत के सहयोग के कारण ही संभव हुआ है तथा आने वाले दिनों में ओमिक्रॉन संकट को देखते हुए स्वास्थ्य संबंधी सेवाओं का दायरा और अधिक बढ़ाया जाएगा।

spot_imgspot_imgspot_img

Related Articles

epaper

spot_img

Latest Articles

spot_img