37.5 C
New Delhi
Monday, May 23, 2022

खालसा स्थापना दिवस पर अमृत छक कर गुरु के सिंह बने सिख

नई दिल्ली /अदिति सिंह : दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की ओर से खालसा पंथ का स्थापना दिवस श्रद्धा व उत्साह के साथ मनाया गया। इस मौके पर विभिन्न गुरुद्वारों में गुरमति समागम आयोजित किए गए। मुख्य समागम गुरुद्वारा मजनू का टीला में आयोजित किया गया। इस दौरान रागी सिंहो द्वारा गुरबाणी कीर्तन संगतों को श्रवण करवाया गया तथा संगत ने पूरे उत्साह के साथ समागम में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। आज विभिन्न गुरुद्वारा साहिबान में अमृत संचार लहर चलाई गई। इस दौरान बड़ी संख्या में सिख अमृत छक कर गुरु के सिंह बने।
समागम में दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी के अध्यक्ष हरमीत सिंह कालका ने कहा कि खालसा पंथ दुनिया का एकमात्र पंथ है जो अपना जन्म दिवस मनाता है। 1699 ई. में वैसाखी के दिन गुरु साहिब ने पांच प्यारों को सजा कर खालसा पंथ की स्थापना की। उन्होंने कहा कि हालांकि दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी सिख धर्म के प्रचार प्रसार के लिए काम कर रही है पर बहुत अफसोस है कि पंजाब में ईसाई धर्म के पक्ष में धर्म परिवर्तन की लहर चल रही है और शिरोमणि कमेटी अपनी जिम्मेवारी निभाने में नाकाम है।

-समागम गुरुद्वारा मजनू का टीला में हुआ, रागी सिंहो ने किया गुरबाणी कीर्तन
-गुरुद्वारों में अमृत संचार लहर, अमृत छक कर गुरु के सिंह बने सिख

-खालसा पंथ दुनिया का एकमात्र पंथ है जो मनाता है धर्म का जन्मदिवस
– सिख गुरुओं के बारे में विभिन्न भाषाओं में लघु फिल्में बनाई जाएंगी

कालका ने घर-घर सिखी की लहर चलाने का निमंत्रण देते हुए कहा कि दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी की टीम समूची संगत के साथ मिल कर यह लहर चलाएगी और बच्चों को सिख विरासत एवं इतिहास से परिचित करवाया जाएगा। इसके लिए हम हर इलाके में जा कर अमृत संचार मुहिम चलाएंगे और इसके लिए सिंह सभाओं का सहयोग लिया जाएगा।
कमेटी महासचिव जगदीप सिंह काहलों ने कहा कि दिल्ली कमेटी अपने इतिहास से वर्तमान पीढ़ी को परिचित करवाने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। हाल ही में गुरुद्वारा रकाबगंज साहिब परिसर में श्री गुरु तेग बहादुर होलोग्राफिक ऑडिटोरियम का उद्घाटन किया गया है, जिसमें लघु फिल्मों के माध्यम से खासतौर पर बच्चों और युवा पीढ़ी को सिख गुर इतिहास से परिचित करवाया जाएगा। उन्होंने यह भी बताया कि गुरु साहिब के इतिहास के बारे में तैयार होने वाली फिल्में अंग्रेजी, स्पेनिश, फ्रेंच सहित कई भाषाओं में तैयार की जाएंगी।

काहलों ने कहा कि दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी मेडिकल सुविधा देने के मामले में भी पीछे नहीं हटेगी, इसलिए बाला प्रीतम दवाखाने खोला गया, मुफ्त टेस्ट के लिए लैबोरेट्री खोली तथा अब और नई मशीनें गुरु हरिकृष्ण पॉलीक्लिनिक में आ गई हैं । इससे संगत को अधिक सुविधा मिलेगी। इसके साथ ही बाला साहिब अस्पताल में ओपीडी की सुविधा भी जल्द शुरु होगी।
काहलों ने बताया कि देश की सरकार ने दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी के साथ विचार-विमर्श कर 20 व 21 अप्रैल का कार्यक्रम लाल किले पर रखा है जहां गुरु तेग बहादुर साहिब जी के 400 वें प्रकाश पर्व को समर्पित बेमिसाल कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। इन कार्यक्रमों में बाबा बचन सिंह, बाबा सुरिंदर सिंह, दिल्ली कमेटी के उपाध्यक्ष आत्मा सिंह लुबाणा, धर्म प्रचार कमेटी के चेयरमैन जसप्रीत सिंह कर्मसर व अन्य पदाधिकारी, सदस्य तथा बड़ी संख्या में संगत मौजूद रही।

Related Articles

epaper

Latest Articles