41.1 C
New Delhi
Monday, May 23, 2022

जामा मजिस्द के सामने बना हैरिटेज पार्क, बनेगा टूरिस्ट स्पॉट

नई दिल्ली /अदिति सिंह : सांस्कृतिक कार्यक्रम, हैंडीक्राफ्ट म्यूजियम और चांदनी चौक की चाट के साथ राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने लाल किले के सामने और जामा मस्जिद के समीप उत्तरी दिल्ली नगर निगम द्वारा बनाए गए अनूठे ‘चरतीलाल गोयल हैरिटेज पार्क’ का उद्घाटन आज एक बड़े उत्सव के दौरान किया। जैसे ही राष्ट्रपति ने उद्घाटन किया, वैसे ही हैरिटेज पार्क रोषनी में नहा गया और विशेष रूप से बनाए गए ओपन आडिटोरियम में अदिति मंगलदास का कत्थक प्रस्तुतिकरण शुरू हो गया। राष्ट्रपति ने पहले नामपट का उद्घाटन किया और फिर चरती लाल जी की मूर्ति पर माल्यार्पण किया। राष्ट्रपति कोविन्द के साथ चरतीलाल गोयल के सुपुत्र पूर्व केन्द्रीय मंत्री और गांधी स्मृति एवं गांधी दर्षन के उपाध्यक्ष विजय गोयल थे। इस अवसर पर उपराज्यपाल अनिल बैजल, उत्तरी दिल्ली नगर निगम के कमिश्नर संजय गोयल, डिप्टी कमिश्नर विजय कुमार देव, मेयर राजा इकबाल सिंह, आर्किटेक्ट कपिल अग्रवाल, कई राजनीतिक हस्तियां, प्रतिष्ठित प्रबुद्धजन एवं अन्य गण्यमान्य लोग उपस्थित थे।

राष्ट्रपति ने ‘चरती लाल गोयल हैरिटेज पार्क’ का किया उद्घाटन
—हैरिटेज पार्क देश-विदेश के पर्यटकों के लिए आकर्षण का केन्द्र बनेगा
— चांदनी चौक के व्यंजन, हैंडीक्राफ्ट, सांस्कृतिक कार्यक्रम ने लोगों का मन जीता

इस हैरिटेज पार्क की 2017 में कल्पना करने वाले विजय गोयल ने बताया कि यह हैरिटेज पार्क देश-विदेश के पर्यटकों के लिए बहुत बड़ा आकर्शण का केन्द्र बनेगा और चांदनी चौक में आने वाले पर्यटकों को यहां के व्यंजन, कलाकृतियां और सांस्कृतिक कार्यकम एक साथ देखने को मिलेगा।
गोयल ने कहा कि इस पार्क को बनाने वाले आर्किटेक्ट कपिल अग्रवाल उत्तरी दिल्ली नगर निगम के कमिश्नर संजय गोयल की टीम ने इसको पूर्ण करने के लिए बहुत मेहनत की है। राष्ट्रपति ने पूरे पार्क को घूमकर देखा, कई जगह फोटो खिंचवाए, सांस्कृतिक कार्यक्रम की झलक देखी और वे बहुत आनंदित हुए। राष्ट्रपति और चरती लाल जी ने किसी समय में एक साथ भारतीय जनता पार्टी में काम किया था।
गोयल ने कहा कि इसके रख-रखाव के लिए टिकट बहुत जरूरी है और प्राइवेट संस्थाओं को भी सामने आना होगा ताकि यहां पर लगातार कार्यक्रम होते रहें। गोयल ने कहा कि शीघ्र ही इसके सैकिंड फेज का काम षुरू होगा, जिसके लिए और फंड की जरूरत होगी एवं कई अतिक्रमण हटाने होंगे। गोयल ने सभी सांसदों डाॅ कर्ण सिंह, के.टी.एस. तुलसी, परवेज हाश्मी, विकास महात्मे, सुब्रमण्यम स्वामी, रूपा गांगुली, स्वप्नदास गुप्ता, नरेन्द्र जाधव का धन्यवाद किया, जिन्होंने इसे बनाने में सहयोग किया।

Related Articles

epaper

Latest Articles