spot_img
15.1 C
New Delhi
Wednesday, January 26, 2022
spot_img

कांग्रेस की वरिष्ठ नेता इंदिरा हृदयेश का कार्डिक अटैक से हुआ निधन

spot_imgspot_img
Indradev shukla

नई दिल्ली, साधना मिश्रा: उत्तराखंड की राजनीति से जुड़ी बेहद दुखद खबर सामने आई है। उत्तराखंड विधानसभा की नेता प्रतिपक्ष और कांग्रेस की वरिष्ठ नेता इंदिरा हृदयेश का कार्डिक अटैक होने से आज दिल्ली में निधन हो गया। बता दें कि उनकी मृत्यु दिल्ली स्थित उत्तराखंड सदन में हुई, उत्तराखंड में कांग्रेस पार्टी के इंचार्ज देवेंद्र यादव ने कहा कि इंदिरा हृदयेश यहां यानी दिल्ली बैठक में शामिल होने के लिए आई थीं, लेकिन दिल का दौरा पड़ने के बाद उनका निधन हो गया। फिलहाल उनके शव को उत्तराखंड ले जाया जा रहा है।

पीएम मोदी ने ट्वीट कर जताया शोक
इस खबर से पूरी राजनीति में शोक की लहर दौड़ गई है। प्राधनमंत्री समेत कई नेताओं ने ट्वीट कर इंदिरा हृदयेश के निधन पर शोक व्यक्त किया है। पीएम मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा है कि, डॉ. इंदिरा हृदयेश जी कई सामुदायिक सेवा प्रयासों में सबसे आगे थीं। उन्होंने एक प्रभावी विधायक के रूप में अपनी पहचान बनाई और उनके पास समृद्ध प्रशासनिक अनुभव भी था। उनके निधन से दुखी हूं। उनके परिवार और समर्थकों के प्रति संवेदना। ओम शांति:।

Indradev shukla

राहुल गांधी ने कहा इंदिरा जी कांग्रेस पार्टी की एक मज़बूत कड़ी थी
उनके निधन पर रहुल गांधी ने भी ट्वीट कर दुख जताया। रहुल ने लिखा कि, उत्तराखंड में कांग्रेस पार्टी की एक मज़बूत कड़ी, डॉ इंदिरा हृदयेश जी के निधन का दुखद समाचार मिला। वे अंत तक जन सेवा एवं कांग्रेस परिवार के लिए कार्यरत रहीं। उनके सामाजिक व राजनीतिक योगदान प्रेरणास्रोत हैं। उनके प्रियजनों को शोक संवेदनाएँ।

तीरथ सिंह रावत ने इंदिरा हृदयेश को बताया बड़ी बहन
इंदिरा हृदयेश जी के निधन पर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने भी दुख जाहिर किया है। उन्होंने ट्वीट करके लिखा, उत्तराखण्ड राज्य की वरिष्ठ नेत्री, पूर्व मंत्री एवं वर्तमान विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रहीं, मेरी बड़ी बहन जैसी आदरणीया श्रीमती इंदिरा हृदयेश जी के निधन का दुखद समाचार मिला। मैं उनकी आत्मा की शांति के लिए भगवान के श्री चरणों में प्रार्थना करता हूँ। उन्होंने आगे लिखा कि, स्वo इंदिरा हृदयेश जी से मेरा परिचय दशकों पुराना रहा है। उनसे सदा मुझे बड़ी बहन जैसी आत्मीयता मिली। विधानसभा में जनहित के मुद्दे उठाने में वे सदा अग्रणी रहती थीं। मैं इस कठिन समय में उनके परिजनों व समर्थकों के प्रति अपनी सांत्वना व्यक्त करता हूँ। ॐ शांति।

त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इंदिरा हृदयेश जी के निधन को बताया व्यक्तिगत क्षति
वहीं उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ट्वीट कर उनके निधन पर शोक जताया है। उन्होंने लिखा कि, इस दुखद समाचार से मन दुखी है। पूर्व सीएम ने लिखा कि, उन्होंने अपने राजनीतिक जीवन में कई पदों को सुशोभित किया और विधायिका के कार्य में पारंगत हासिल की। ये मेरे लिये व्यक्तिगत क्षति है।

मैं दिवंगत आत्मा की शान्ति के लिए प्रार्थना करता हूँ और परमपिता परमेश्वर से विनती करता हूँ कि वो इन्दिरा बहिन जी की आत्मा को अपने श्री-चरणों में स्थान दें। दुख की इस कठिन घड़ी में मेरी संवेदनाएँ एवं समस्त परिवार के साथ हैं। ॐ शान्ति शान्ति शान्ति।

20 साल से रही उत्तराखंड में प्रमुख नेता
इंदिरा हृदयेश लंबे समय से कांग्रेस का उत्तराखंड में प्रमुख चेहरा रही हैं। उत्तर प्रदेश से अलग होने के बाद तकरीबन 20 साल से इंदिरा उत्तराखंड में कांग्रेस की प्रमुख नेता रही हैं। उन्हें विपक्ष का कद्दावर नेता माना जाता था। बेहद धीर गंभीर अंदाज में वह अपनी बात को रखने के लिए जानी जाती थीं। इंदिरा हृदयेश के निधन पर कई दिग्गज नेताओं ने शोक जाहिर किया है। कांग्रेस नेता अल्का लांबा, अनिल चौधरी, सरल पटेल सहित कई नेताओं ने इंदिरा के निधन पर दुख जाहिर किया है।

यह भी पढ़ें… बीजेपी का आरोप, कांग्रेस का पाकिस्तान के साथ गहरा रिश्ता 

spot_imgspot_imgspot_img

Related Articles

epaper

spot_img

Latest Articles

spot_img