34 C
New Delhi
Tuesday, April 16, 2024

विराट कोहली का 48वां शतक, भारत ने बांग्लादेश को सात विकेट से रौंदा

पुणे /अल्का जायसवाल । विराट कोहली ने विजयी छक्का जड़कर अपने वनडे करियर का 48वां शतक पूरा किया जिससे भारत ने गुरुवार को यहां बांग्लादेश को 51 गेंद शेष रहते हुए सात विकेट से हराकर एकदिवसीय विश्व कप में अपना विजय अभियान जारी रखा। रोहित शर्मा (40 गेंद पर 48 रन) और शुभमन गिल (55 गेंद पर 53 रन) में पहले विकेट के लिए 88 रन जोड़कर भारत को अच्छी शुरुआत दिलाई। इसके बाद कोहली का बल्ला चला और उन्होंने 97 गेंद पर नाबाद 103 रन बनाए जिसमें छह चौके और चार छक्के शामिल हैं। उन्होंने केएल राहुल (नाबाद 34) के साथ चौथे विकेट के लिए 83 रन जोड़कर भारत का स्कोर 41.3 ओवर में तीन विकेट पर 261 रन तक पहुंचाया। बांग्लादेश पहले बल्लेबाजी करते हुए अच्छी शुरुआत के बावजूद आठ विकेट पर 256 रन ही बना पाया। उसकी तरफ से लिटन दास ने 66, उनके सलामी जोड़ीदार तंजीद हसन ने 51 और महमुदुल्लाह ने 46 रन का योगदान दिया। भारत की तरफ से जसप्रीत बुमराह, रविंद्र जडेजा और मोहम्मद सिराज ने दो-दो विकेट लिए। भारत की लगातार यह चौथी जीत है जिससे उसने सेमीफाइनल में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को पंख लगाए। भारत ने चार मैच में चार जीत से न्यूजीलैंड की बराबरी कर ली है लेकिन कीवी टीम बेहतर रन रेट के आधार पर शीर्ष पर बनी हुई है।

—भारत ने विश्व कप में अपना विजय अभियान जारी रखा
— कोहली ने वनडे करियर का 48वां शतक पूरा किया
—भारत ने 4 मैच में 4 जीत से न्यूजीलैंड की बराबरी कर ली

मैच के अंतिम क्षणों में सभी की निगाहें इस पर टिकी थी कि कोहली शतक पूरा कर पाएंगे या नहीं। राहुल ने अपने बल्ले पर अंकुश लगाया जबकि कोहली ने अपने पास स्ट्राइक रखी। उन्होंने हसन महमूद और नासुम अहमद पर छक्के जड़कर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे कम पारियों में 26000 रन पूरे किए। कोहली ने नासुम पर विजयी छक्का लगाया और सचिन तेंदुलकर के 49 शतकों के रिकॉर्ड की तरफ कदम बढ़ाए।

विराट कोहली का 48वां शतक, भारत ने बांग्लादेश को सात विकेट से रौंदा

भारतीय पारी के शुरू में रोहित आक्रामक मूड में थे। उन्होंने शोरिफुल इस्लाम के पारी के पहले ओवर में दो चौके और इसी गेंदबाज के अगले ओवर में अपने पसंदीदा पुल शॉट से छक्का जड़ा। वह हालांकि बड़ी पारी नहीं खेल पाए। हसन महमूद पर गगनदायी छक्का लगाने के बाद अगली शॉर्ट पिच गेंद पर वह सीमा रेखा पर कैच दे बैठे। रोहित ने सात चौके और दो छक्के लगाए। इस बीच सहयोगी की भूमिका निभा रहे गिल ने बाएं हाथ के स्पिनर नासुम अहमद पर दो छक्के लगाकर आत्मविश्वास जगाया और फिर मुस्तफिजुर रहमान के ओवर में तीन चौके लगाए।

रोहित की जगह उतरे कोहली ने हसन महमूद की फ्री हिट वाली गेंद को छह रन के लिए भेजकर 13वें ओवर में भारत का स्कोर तिहरे अंक तक पहुंचाया। गिल ने 50 गेंद पर अपना अर्धशतक पूरा किया, लेकिन इसके तुरंत बाद वह मेहदी हसन मिराज की गेंद हवा में लहराकर पवेलियन लौट गए। उनकी पारी में पांच चौके और दो छक्के शामिल हैं। उनकी जगह लेने के लिए उतरे श्रेयस अय्यर (19) ने भी मिराज की गेंद हवा में खेलकर अपना विकेट इनाम में दिया। इस बीच कोहली ने 48 गेंद पर अपना पचासा पूरा किया और इस दौरान अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में चौथे स्थान पर पहुंचे।

उन्होंने श्रीलंका के माहेला जयवर्धने (25957 रन) को पीछे छोड़ा। इससे पहले भारतीय गेंदबाजों ने लगातार चौथे मैच में अपनी प्रतिद्वंद्वी टीम को अच्छी शुरुआत का फायदा नहीं उठाने दिया। बांग्लादेश का स्कोर एक समय बिना किसी नुकसान के 93 रन था लेकिन इसके बाद भारतीय गेंदबाजों ने हार्दिक पंड्या के चोटिल हो जाने के बावजूद उसे बड़ा स्कोर नहीं बनाने दिया। हार्दिक ने नौवें ओवर में गेंद संभाली लेकिन लिटन दास के स्ट्रेट ड्राइव को रोकने के प्रयास में उनका टखना मुड़ गया। उन्होंने पहले मैदान पर ही उपचार लिया लेकिन आखिर में उन्हें मैदान छोड़ना पड़ा। भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने बाद में कहा कि हार्दिक को स्कैन के लिए ले जाया गया है। हार्दिक का ओवर कोहली ने पूरा किया। उस समय तक भारत को पहली सफलता का इंतजार था। कुलदीप यादव ने भारत को पहली सफलता जबकि जडेजा ने दूसरी सफलता दिलाई। इसके बाद बांग्लादेश के बल्लेबाज खुलकर नहीं खेल पाए। जडेजा ने 10 ओवर में 38 रन दे कर दो विकेट लिए और इसके अलावा मुशफिकुर रहीम का डाइव लगाकर शानदार कैच भी लिया।

बांग्लादेश की पारी का शुरुआती पारी ठीक रही

बांग्लादेश की पारी का शुरुआती चरण हालांकि युवा तंजीद हसन और अनुभवी लिटन दास के नाम रहा। तंजीद 43 गेंद पर 51 रन बनाए, जिसमें पांच चौके और तीन छक्के शामिल हैं। यह वनडे में उनका पहला अर्धशतक है। लिटन दास ने 82 गेंद पर सात चौकों की मदद से 66 रन बनाए। तंजीद और लिटन दास ने 93 रन जोड़े जो विश्व कप में बांग्लादेश की तरफ से पहले विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी है। रहीम ने 38 रन का उपयोगी योगदान दिया। पारी के अंतिम चरण में महमूदुल्लाह ने 36 गेंद पर 46 रन की आक्रामक पारी खेली जिसने तीन चौके और इतने ही छक्के शामिल हैं। पिच से गेंदबाजों को कोई मदद नहीं मिल रही थी और ऐसे में नई गेंद से गेंदबाजी करना चुनौतीपूर्ण था। बुमराह (41 रन देकर दो विकेट) हालांकि हवा में कुछ मूवमेंट हासिल कर रहे थे। सतर्क शुरुआत के बाद लिटन दास ने छठे ओवर में सिराज (60 रन देकर दो विकेट) पर दो चौके लगाए जबकि अगले ओवर में तंजीद ने बुमराह पर पारी का पहला छक्का जड़ा। बांग्लादेश के बल्लेबाजों ने इसके बाद तेजी से रन बनाए। उन्होंने पावरप्ले के अंतिम पांच ओवर में 53 रन जोड़े। यह साझेदारी टूटने के बाद बांग्लादेश ने हालांकि नियमित अंतराल में विकेट गंवाए जिससे उसका 300 रन के करीब पहुंचने का सपना पूरा नहीं हो पाया।

latest news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

epaper

Latest Articles