spot_img
28.1 C
New Delhi
Wednesday, September 29, 2021
spot_img

अफगानिस्तान से भारत लाए गए श्री गुरुग्रंथ साहिब के तीनों स्वरुप, दिल्ली के गुरुद्वारा में स्थापित

-तीनों स्वरूप को महावीर नगर स्थित गुरुद्वारा में स्थापित किया गया
-केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी एवंं वी मुरलीधरन ने किया स्वागत
-धर्म की इज्जत करना इंसान का कर्म है : पुरी

नई दिल्ली /नेशनल ब्यूरो : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रयास से काबुल से लाए गए ऐतिहासिक एवं हस्तलिखित गुरुग्रंथ साहिब के तीनों स्वरुपों को आज केंद्र सरकार एवं भाजपा ने दिल्ली एयरपोर्ट पर स्वागत एवं वंदन किया।
इस मौके पर केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी, विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन, भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री दुष्यंत गौतम एवं राष्ट्रीय प्रवक्ता सरदार आर पी सिंह मौजूद रहे। बाद में दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की अगुवाई में गुरुग्रंथ साहिब के तीनों स्वरुप को पश्चिमी दिल्ली के महावीर नगर स्थित गुरुद्वारा साहिब में स्थापित किया गया।

स्वरूपों को सुंदर पालकी साहिब में सुशोभित कर पांच प्यारों की अगुवाई में दिल्ली अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से गुरुद्वारा श्री गुरु अर्जुन देव जी तक लाया गया। इस बीच पूरे रास्ते में कीर्तनीय जत्थों द्वारा गुरु की इलाही बाणी का कीर्तन गायन किया गया।
इस मौके पर केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि धर्म की इज्जत करना इंसान का कर्म है और हमें यह बताते हुए खुशी हो रही है कि अभी तक 228 भारतीय नागरिक अफगानिस्तान से सुरक्षित भारत आ चुके हैं। उन्होंने कहा कि जिन 228 भारतीयों को स्वदेश सुरक्षित लाया गया है, उनमें 77 सिख समुदाय के लोग भी शामिल हैं। पुरी ने इसके लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का धन्यवाद देते हुए कहा कि सिख जत्थों ने लोगों की सेवा की है। गुरुनानक देव जी ने जो सेवा करने की शिक्षा दी है, आज पूरा सिख समुदाय उसको मानता है। गुरुग्रंथ साहिब के तीनों स्वरुप के भारत आगमन पर प्रदेश भाजपा की तरफ से प्रदेश मंत्री सरदार इम्प्रीत सिंह बख्शी, भाजपा युवा मोर्चा के राष्ट्रीय मंत्री तजिंदर पाल सिंह बग्गा, प्रदेश प्रवक्ता आदित्य झा एवं बृजेश राय सहित सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया और आतंकवाद के खिलाफ नारेबाजी की।

सिख व हिन्दू भाईयों के रहने के लिए हर संभव मदद करेंगे : सिरसा

अफगानिस्तान से लाये गये श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी के पावन स्वरूप लेने के लिए आज दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा की अगुवाई में पश्चिमी दिल्ली के न्यू महावीर नगर गुरुद्वारा साहिब श्री गुरु अर्जुन देव जी में आदर तथा सम्मान के साथ सुशोभित किया गया। तीन में से दो स्वरूपों का सुख आसन करवा दिया गया है तथा एक स्वरूप का संगत के दर्शनों के लिए प्रकाश किया गया है। इस संबंध में मनजिंदर सिंह सिरसा ने बताया कि श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी के तीन स्वरूप तथा काबूल से 44 लोग जो सिख व हिन्दू परिवारों से हैं आज विशेष विमान से दिल्ली लाये गये। अफगानिस्तान में हालात बिगडऩे के कारण स्थानीय लोगों ने वहां से निकाले जाने की विनती की थी। उन्होंने कहा कि हम देश की सरकार खास तौर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का धन्यवाद करते हैं जिन्होंने अपील सुनी। साथ ही वह अकाल पुरख का भी शुक्रिया अदा करते हैं कि गुरु साहिब की अपार बख्शीश के कारण यह पावन स्वरूप और लोग सुरक्षित भारत पहुंच गये हैं।
उन्होंने कहा कि जो सिख व हिन्दू परिवार यहां 2020 व 2021 में आये हैं उन्हें यहां की नागरिकता दी जाए ताकि यहां बस सकें इनके बच्चे स्कूलों में पढ़ सकें और यह लोग अपने रोजगार कर सकें। सिरसा के मुताबिक अभी भी 225 सिख व हिन्दू वहां अफगानिस्तान में शेष रहते हैं। कल 75 लोगों को निकालने की कोशिश की गई थी पर अचानक हालात खराब हो गये और सभी लोगों को नहीं जाया जा सका। सिरसा ने कहा कि जिन लोगों के ठहरने का इंतज़ाम नहीं है उन्हें गुरुद्वारा रकाबगंज साहिब में ठहराया जाएगा, साथ ही इन परिवारों की आर्थिक मदद के अलावा हर संभव मदद की जाएगी।

 

Related Articles

epaper

Latest Articles