9 C
New Delhi
Saturday, January 23, 2021

राहुल गांधी ने देश की छवि बिगाड़ी, मांगे जनता से माफी

-भाजपा ने पूछा, राहुल गांधी कब तक देश को बदनाम करते रहेंगे
–कांग्रेस पार्टी को अपनी नकारात्मक राजनीति से बाज आना चाहिए : शाहनवाज
–राहुल गांधी के विदेशी नागरिक से बात करने पर भाजपा को सख्त ऐतराज
–राहुल को न भारतीय संस्कृति और न ही सामाजिक ताने-बाने की समझ

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल : भारतीय जनता पार्टी ने आज यहां कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आज एक अमेरिकी नागरिक निकोलस बन्र्स से बातचीत करते हुए जिस तरह से देश की छवि को धूमिल करने का प्रयास किया है, वह निंदनीय है। भाजपा राहुल गांधी के बयान और कांग्रेस की देश को बदनाम करने वाली नकारात्मक राजनीति की कड़ी भत्र्सना करती है। भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं राष्ट्रीय प्रवक्ता सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति और मीडिया में बने रहने के लिए देश का अपमान करना, वह भी एक विदेशी नागरिक के समक्ष, निस्संदेह एक अक्षम्य अपराध है। इससे पूरी दुनिया में एक गलत संदेश गया है।

उन्होंने कहा कि आखिर राहुल गांधी कब तक देश को बदनाम करते रहेंगे। देश को बदनाम करने का अधिकार किसी को भी नहीं है। देश के बारे में जिस अशोभनीय भाषा का इस्तेमाल राहुल गांधी ने किया है, उससे पूरी दुनिया में देश की छवि धूमिल हुई है। राहुल गांधी को इसके लिए अविलंब देश की जनता से माफी मांगनी चाहिए।

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि एक अमेरिकी नागरिक से बातचीत में राहुल गांधी द्वारा यह कहा जाना कि भारत में असहिष्णुता बढ़ रही है और सहिष्णुता खत्म होती जा रही है, निश्चित रूप से देश के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है। कांग्रेस पार्टी और राहुल गांधी जिस तरह लगातार देश को बदनाम करने की राजनीति कर रही है, उसे देश कभी क्षमा नहीं करेगा।
उन्होंने कहा कि राहुल गांधी द्वारा यह तुलना करना कि अमेरिका में जिस तरह गोरे और काले का विवाद है और उनके बीच टकराव है, उसी तरह का टकराव भारत में भी हिंदू, मुस्लिम और सिख के बीच में भी हो रहा है, वह निश्चित ही निदंनीय और अक्षम्य है। यह बताता है कि राहुल गांधी को देश की महानतम सांस्कृतिक विरासत की बिलकुल भी समझ नहीं है।

भारत न केवल दुनिया का सबसे विशाल लोकतंत्र है बल्कि यहां आज भी सर्व धर्म सम्भाव है। आज भी भारत में विभिन्न समुदायों और संस्कृतियों के बीच जिस तरह से एकता है, जिस तरह का सद्भाव है, वह अदभुत है। पूरी दुनिया में इसकी मिसाल दी जाती है।
राष्ट्रीय प्रवक्ता सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी को देश को बदनाम करने की आदत पड़ गई है। उन्हें न तो भारतीय संस्कृति की समझ है और न ही यहां के सामाजिक ताने-बाने की।

महामारी के दौर में राहुल गांधी देश को बदनाम करने की कोशिश कर रहे

कोविड-19 महामारी के दौर में राहुल गांधी जिस तरह विदेशियों से बातचीत में देश को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं, इसकी जितनी भी भत्र्सना की जाए कम है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी को अपनी नकारात्मक और देश को बदनाम करने की राजनीति से बाज आना चाहिए। कभी देश की रक्षा में जुटे सेना का अपमान करना, कभी संवैधानिक संस्थाओं पर सवाल उठाना तो कभी विदेशी नागरिकों के साथ बातचीत में देश को बदनाम करना कांग्रेस पार्टी और राहुल गांधी की पहचान बन चुकी है। लिहाजा, देश की जनता ऐसे लोगों को कभी माफ नहीं करेगी।

Related Articles

Stay Connected

21,393FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles