41.8 C
New Delhi
Sunday, May 19, 2024

सिख धर्म के प्रचार-प्रसार के लिए दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी की अनोखी पहल 

नई दिल्ली /अदिति सिंह : सिख धर्म के प्रचार-प्रसार को ध्यान में रखते हुए दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी द्वारा गुरु तेग बहादुर जी की 400वीं जयंती और सरदार जस्सा सिंह रामगढ़िया की 300वीं जयंती को समर्पित इंटर जी.एच.पी.एस गुरमति प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता संपन्न हुई। जिसमें हरगोबिंद एन्क्लेव ने प्रथम, फतेह नगर द्वतिय व कालकाजी के गुरु हरिकृष्ण पब्लिक स्कूल ने तीसरा स्थान हासिल किया। दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के महासचिव जगदीप सिंह काहलों व धर्म प्रचार विभाग के अध्यक्ष जसप्रीत सिंह कर्मसर द्वारा मुकाबले के विजेताओं को संयुक्त तौर पर पुरस्कार वितरित किए गए।

—GHPS इंटर स्कूल गुरमति क्विज प्रतियोगिता आयो​जित
—हरगोबिंद एन्क्लेव प्रथम, फतेह नगर द्वितिय व कालकाजी स्कूल थर्ड
—गुरमति प्रतियोगिता से बच्चों को सिख कौम के इतिहास से जोड़ना: काहलों

दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी के इतिहास में यह पहली बार है जब इस प्रकार की गुरमति क्विज़ प्रतियोगिता आयोजित की गई। दिल्ली कमेटी द्वारा प्रतियोगिता की जिम्मेदारी सिख इतिहास व गुरबाणी फोरम को दी गई थी। मंच की निदेशिका डॉ. हरबंस कौर सागू ने बताया कि गुरु हरिकृष्ण पब्लिक स्कूल के 500 से अधिक विद्यार्थियों ने गुरमति क्विज 2023 में भाग लिया तथा सिख इतिहास और गुरबाणी सिद्धांतों के बारे में बहुमूल्य जानकारी प्राप्त की। उन्होंने बताया कि गुरुद्वारा रकाब गंज साहिब के लखी शाह वणजारा हॉल में दो दिवसीय क्विज़ प्रतियोगिता के अंतिम मुकाबले संपन्न हुए जिसमें प्रथम स्थान जी.एच.पी.एस हरगोबिंद एनक्लेव, द्वितीय स्थान जी.एच.पी.एस फतेहनगर, तृतीय स्थान जी.एच.पी.एस कालकाजी व कोंसिलेशन पुरस्कार गुरु हरिकृष्ण पब्लिक स्कूल की करोलबाग शाखा ने जीता।

सिख धर्म के प्रचार-प्रसार के लिए दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी की अनोखी पहल 

इस दौरान दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी के महासचिव जगदीप सिंह काहलों और धर्म प्रचार कमेटी के अध्यक्ष जसप्रीत सिंह करमसर ने विशेष रूप से पहुंचकर बच्चों का हौसला बढ़ाया। स. जगदीप सिंह काहलों ने  कहा कि आज जरूरत है कि हम अपने बच्चों को सिख सिद्धांतों व सिख इतिहास से जोड़ें। इसी को ध्यान में रखते हुए दिल्ली कमेटी ने गुरमति क्विज 2023 आयोजित करने का विशेष प्रयास किया। उन्होंने कहा कि यह देखकर अत्यंत प्रसन्नता हो रही है कि हालांकि यह मुकाबले पहली बार करवाये गये हैं मगर बच्चों को गुरमति का अच्छा ज्ञान हासिल है। दिल्ली में यह केवल गुरु हरिकृष्ण पब्लिक स्कूल के विद्यार्थी हैं जो अपनी अमीर विरासत व सिख इतिहास से जुड़े हुए हैं। इन स्कूलों में बच्चों को सिक्खी से जोड़ने व पुरातन सिख इतिहास की जानकारी देने की विशेष व्यवस्था है। उन्होंने आशा व्यक्त करते हुए कहा कि जिस प्रकार की मेहनत अध्यापकों व विद्यार्थियों ने इस बार के गुरमति क्विज़ मुकाबलों के लिए की, उसी प्रकार की लगन और मेहनत भविष्य में होने वाले अन्य कार्यक्रमों के लिए भी की जाएगी। उन्होंने इस बात पर ज़ोर दिया कि विभिन्न पंथक संस्थाएँ इस प्रकार के मुकाबले करवाने का प्रयास करें ताकि बच्चे अपनी अमीर विरासत व इतिहास के बारे में अधिक जानकारी हासिल कर सकें।

सिख बच्चों में सिक्खी को बहुत बढ़ावा मिला

इस गुरमति क्विज़ मुकाबले से दिल्ली के सिख बच्चों में सिक्खी को बहुत बढ़ावा मिला है। उन्हें खुशी है कि दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी द्वारा गुरु हरिकृष्ण पब्लिक स्कूलों में विद्यार्थियों को गुरबाणी से जोड़ने का निरंतर प्रयास किया जा रहा है। स. जसप्रीत सिंह कर्मसर ने क्विज में भाग लेने वाले बच्चों का उत्साहवर्धन किया तथा बच्चों के माता-पिता व क्विज़ के लिए तैयारी करवाने के लिए सभी शिक्षकों की भरपूर प्रशंसा की।

latest news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

epaper

Latest Articles