spot_img
30.1 C
New Delhi
Friday, October 22, 2021
spot_img

दिल्ली में 250 आईसीयू सहित 20 हजार बेड जोड़े जाएंगे …जाने कैसे

—दिल्ली में सभी सुविधाओं से लैस अस्पताल 10 दिनों में तैयार होगा
—DRDO और टाटा ट्रस्ट मिलकर 250 आईसीयू सहित 1 हजार बेड बनाएंगे
—छत्तरपुर में 26 जून तक शुरू होगा 10 हजार बेड वाला कोविड केयर सेंटर
—दिल्ली में रेलवे कोच में 8 हजार अतिरिक्त बेड में सशस्त्र बलों को लगाया

नई दिल्ली / टीम डिजिटल : देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना के बढते प्रकोप को देखते हुए दिल्ली के अलावा केंद्र सरकार पूरी तरह से मैदान में उतर गई है। केंद्र की तरफ से कमान खुद गृह मंत्री अमित शाह ने संभाली है। अमित शाह रोजाना दिल्ली की मानी​टरिंग कर रहे हैं और आवश्यक दिशा—निर्देश भी दे रहे हैं। दिल्ली में मौजूद अस्पतालों के अलावा रेलवे की ओर से बनाए गए रेलवे कोच में 8000 अतिरिक्त बेड का इंतजाम किया गया है। दिल्ली में रेलवे कोच में भर्ती कोविड मरीजों की मेडीकल केयर और देखभाल में भी सशस्त्र बलों के कर्मियों को लगाया गया है। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि आवश्यकतानुसार कोविड केयर सेंटर बनाने के लिए दिल्ली सरकार को 8,000 अतिरिक्त बेड पहले ही सौप दिये गए हैं।

इसके अलावा दिल्ली में कोविड मरीजों के लिए 250 आईसीयू सहित सभी सुविधायुक्त 1,000 बेड का अस्पताल बनाया जा रहा है। केंद्र सरकार के सहयोग से रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) और टाटा ट्रस्ट मिलकर इसका निर्माण कर रहे हैं। इस अस्पताल में सशस्त्र बलों के कर्मियों को तैनात किया जाएगा। यह कोविड केयर सुविधा अगले 10 दिनों में तैयार हो जाएगी।
इसके साथ ही राष्ट्रीय राजधानी में अगले सप्ताह तक कोविड मरीजों के लिए 250 आईसीयू सहित करीब 20,000 बेड और जुड़ जाएंगे।
दिल्ली स्थित राधा स्वामी सत्संग ब्यास में 26 जून तक 10,000 बेड वाले कोविड केयर सेंटर का संचालन शुरू हो जाएगा। केयर सेंटर का काम जोरों पर है और इसका बहुत बड़ा हिस्सा शुक्रवार से संचालित हो जाएगा।

गौरतलब है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह को दक्षिणी दिल्ली के छतरपुर में राधा स्वामी सत्संग ब्यास परिसर स्थित कोविड केयर सेंटर का निरीक्षण करने और सेंटर में भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल (ITBP) के डॉक्टर और नर्स तैनात करने के अनुरोध की खबर के जवाब में अमित शाह ने करारा जवाब दिया। अमित शाह ने कहा कि तीन दिन पहले हुई हमारी बैठक में इसके बारे में फैसला लिया गया था और केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राधा स्वामी सत्संग केयर सेंटर के संचालन का काम भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल को सौंप दिया है।

Related Articles

epaper

Latest Articles