spot_img
25.1 C
New Delhi
Friday, September 17, 2021
spot_img

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने प्रधानमंत्री मोदी से की मुलाकात

– दंगा भड़काने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाए, चाहे वह किसी भी पार्टी के क्यों न हो
– प्रधानमंत्री ने दिल्ली व दिल्ली के लोगों के विकास के लिए सहयोग देने का भरोसा दिया
– कोरोना वायरस को नियंत्रित करने के लिए केंद्र के साथ मिल कर करेंगे काम

(खुशबू पाण्डेय) 
नई दिल्ली/ टीम डिजिटल :  मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Chief Minister Arvind Kejriwal) ने संसद भवन परिसर स्थित प्रधानमंत्री कार्यालय जाकर मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। दिल्ली विधानसभा चुनाव के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की प्रधानमंत्री से यह पहली मुलाकात थी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री से पिछले सप्ताह दिल्ली में हुए दंगे को लेकर चर्चा की। मुख्यमंत्री ने दंगा भड़काने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की है।

रविवार को दिल्ली में हिंसा को लेकर फैली अफवाहों को रोकने में पुलिस की अहम भूमिका की सराहना करते हुए मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि बीते सप्ताह के सोमवार व मंगलवार की रात हुए दंगों के दौरान भी पुलिस ने इतनी ही सक्रियता दिखाई होती, तो बहुत सारे लोगों की जान बचाई जा सकती थी। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री ने अगले पांच साल दिल्ली व दिल्ली के लोगों के विकास के लिए सहयोग देने का भरोसा दिया है।

प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी से मुलाकात के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री  अरविंद केजरीवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री जी से अगले पांच साल दिल्ली का विकास करने और दिल्ली के लोगों के लिए काम करने के लिए उनसे सहयोग मांगा है। प्रधानमंत्री जी ने भरोसा दिया है कि वह दिल्ली के विकास में सहयोग करेंगे। मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पिछले दिनों दिल्ली में जो हालात हुए उस पर प्रधानमंत्री जी से चर्चा हुई है। रविवार को पूरी दिल्ली के अंदर दंगे की जबरदस्त अफवाहें फैली थीं।

चारों तरफ अफरा-तफरी का माहौल हो गया था। दंगे की फैल रही अफवाहों को रोकने में दिल्ली पुलिस ने बहुत अच्छी भूमिका निभाई। जिस तरह से दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने सड़क पर उतर कर लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की, जिस तरह से पूरी दिल्ली के अंदर पुलिस ने अफवाहों को रोकने की कोशिश की, दिल्ली पुलिस की इस कोशिश ने बहुत बड़े हादसे को होने से रोक दिया। दिल्ली पुलिस का यह कदम बहुत ही काबिले तारीफ था।

भविष्य में दंगों को रोकने के लिए केंद्र व राज्य सरकार उठाएगी जरूरी कदम

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पिछले हफ्ते के सोमवार और मंगलवार की दो रातों में सबसे ज्यादा दंगे हुए थे और यह दंगे दिल्ली के एक ही जिले में थे। जिस तरह से दिल्ली पुलिस ने रविवार को इतनी मुस्तैदी के साथ सारी अफवाहों को रोक कर दंगा नहीं होने दिया। अगर उसी तरह, पुलिस पिछले सप्ताह के सोमवार और मंगलवार को भी सक्रियता के साथ काम की होती, तो शायद कई लोगों की जान बचाई जा सकती थी। क्योंकि सोमवार और मंगलवार को दंगे सिर्फ एक ही जिले में हुए थे। मैंने प्रधानमंत्री जी से अपील की है और उन्होंने भी कहा कि अब हमें यह कोशिश करनी है कि भविष्य में इस तरह की वारदात कभी भी नहीं होनी चाहिए।

दंगे रोकने के लिए भविष्य में जो भी कदम उठाने की जरूरत

दिल्ली देश की राजधानी है। इस तरह के दंगे रोकने के लिए भविष्य में जो भी कदम उठाने की जरूरत है, वह हम उठाएंगे। दिल्ली में इस तरह के दंगे कभी नहीं होने चाहिए। यह हम सब के लिए चिंता का विषय है। इसमें जो भी कदम उठाने की जरूरत है, हम सबको मिल कर उठाने चाहिए। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैंने प्रधानमंत्री जी से निवेदन किया है कि यह दंगे कराने के लिए जो भी लोग जिम्मेदार हैं, चाहे वह किसी भी पार्टी का हो, चाहे वह किसी भी धर्म का हो, चाहे वह कितना भी बड़ा व्यक्ति क्यों न हो, उसे छोड़ा नहीं जाना चाहिए। उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए, ताकि देश के लोगों में एक संदेश जा सके कि इस तरह की हरकतों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

कोरोना वायरस को नियंत्रित करने के लिए केंद्र के साथ मिल कर करेंगे काम
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोरोना वायरस को लेकर भी प्रधानमंत्री जी से चर्चा हुई। देश में भी कोरोना वायरस फैल रहा है। कोरोना वायरस का एक मामला दिल्ली और एक तेलंगाना में आया है। इस बीमारी को रोकने के लिए केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार मिल कर काम करेंगे। यह बहुत ही खतरनाक बीमारी है। यह बीमारी दुनिया भर में जहां भी और जिस भी देश में गई है, बहुत तेजी से फैली है। हम लोगों को मिल कर काम करना होगा, ताकि इसे रोका जा सके।

Related Articles

epaper

Latest Articles